सेहत के लिए अच्छी है फ्रेंच बीन्स, सेवन से कैंसर की संभावना हो जाती है कम

फ्रेंच बीन्स की हरी पौध से आप जायकेदार सब्जी बना सकते हैं। इसी पौध को जब सुखा दिया जाता है तो यह राजमा और लोबिया के रूप में खाने के काम आती है।

फ्रेंच बीन्स की हरी पौध से आप जायकेदार सब्जी बना सकते हैं। इसी पौध को जब सुखा दिया जाता है तो यह राजमा और लोबिया के रूप में खाने के काम आती है। पानी, प्रोटीन और कुछ मात्रा में वसा और कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, कैरोटीन, थायमीन, राइबोफ्लेविन, नियासीन और विटामिन सी, मिनरल्स से भरपूर यह बीन्स सेहत के लिए बहुत अच्छी है।



- बीन्स का 'ग्लाइसेमिक इन्डेक्स' कम होता है, जिससे अन्य भोज्य पदार्थों की अपेक्षा बीन्स खाने पर रक्त में शर्करा का स्तर अधिक नहीं बढ़ता।  


- बीन्स विटामिन बी2 का भी प्रमुख स्रोत है। प्रति सौ ग्राम फ्रेंच बीन्स से तकरीबन 26 कैलोरी मिलती है। राजमा में यही सब अधिक मात्रा में पाया जाता है, इसलिए प्रति सौ ग्राम राजमा से 347 कैलोरी मिलती है।


- यह घुलनशील फाइबर का अच्छा स्रोत होने की वजह से हृदय रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद है। रोजाना एक कप पकी हुई बीन्स का प्रयोग करने से रक्त में कॉलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है।


- इसमें सोडियम की मात्रा कम होती है और पोटेशियम, कैल्शियम और मैग्नीशियम की मात्रा अधिक होती है, जो रक्तचाप को बढऩे नहीं देती।


- एन्टीऑक्सीडेंट से भरपूर बीन्स शरीर में कोशिकाओं की मरम्मत के साथ ही त्वचा व दिमाग के लिए भी अच्छी मानी जाती है। इसके सेवन से कैंसर की संभावना कम हो जाती है। 

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned