स्मोकिंग की लत छोड़ने का प्राकृतिक और आसान उपाय

स्मोकिंग छोड़ एक स्वस्थ जीवन जीना चाहते है तो होमियोपैथी में है नेचुरल व आसान उपाय।

आंकड़ों के मुताबिक़ दुनिया में 6 मिलियन प्रीमैच्युरे मौत तम्बाकू के सेवन से होती है और करीब 6 लाख मौत पैसिव स्मोकिंग के कारण होती है। डॉ. पंकज अग्रवाल ने बताया है कि होमियोपैथी में ऐसी दवाएं है जिससे तम्बाकु की लत छुड़वाइ जा सकती है। 




ऐसे छूटेगी होमियोपैथी से तम्बाकू की लत



सिगेरट, सिगार, तम्बाकू पाइप और फ्लावोरेड शीशा सभी में तम्बाकू की सूखी पत्तियों का इस्तेमाल किया जाता है। तंबाकू में अल्कलॉइड निकोटीन होता है जो एक उत्तेजक पदार्थ है। होमियोपैथी में तंबाकू की तलब कम करने और दृढशक्ति बढ़ाने का नेचुरल उपचार है।  




डॉ. अग्रवाल ने कहा ' यह तरीका पूरी तरह काम करता है अपने संगी-साथियों और होमियोपैथ की मदद से आप तंबाकू की लत से छुटकारा पा सकते है।'




निकोटिन छोड़ने के संकेत  :


* डिप्रेशन 

* वजन का बढ़ना 

* अंंनिदरता 

* सिरदर्द 

* निकोटिन की अत्यंत तलब 

* घबराहट 

*अधिक गुस्सा और ध्यान लगाने में मुश्किल 

* हाथ और पैरों खुजली 

* गले में खराशें और खांसी 




निकोटिन छोड़ने के दो-तीन बाद तक प्रभाव थोड़ा ज़्यादा दिखाई देते है। होमियोपैथी उपचार के लिए सुरक्षित और विश्वसनीय तरीका प्रदान करता है। 




निम्न होम्योपैथिक दवाएं तम्बाकू से छुटकारा दिलाने में 

मदद करती है : 

* प्लेंटेगो 

* टेबेकम 

* इनैटीआ

priyanka agarwal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned