scripthow-to-poo-squatting-is-the-preferable-position | Best Position to Poo: क्या आप शौचालय पर 'गलत' तरीके से बैठे हैं? | Patrika News

Best Position to Poo: क्या आप शौचालय पर 'गलत' तरीके से बैठे हैं?

Best Position to Poo: डिजिटल फ़ार्मेसी मेडिनो डॉट कॉम के प्रमुख फार्मासिस्ट गिउलिया गुएरिनी के अनुसार, शौच करते समय आपको अपने पोजीशन की बेहतर तौर पर ध्यान रखने कि आवश्य्कता होती है।

नई दिल्ली

Published: December 27, 2021 05:34:00 pm

नई दिल्ली। Best Position to Poo: आपका स्वास्थ्य काफी हद तक इस बात के ऊपर भी प्रभावित करता है कि जब आप शौच करते हैं तो उस समय आपकी पोजीशन क्या होनी चाहिए। यदि आप गलत तरीके से बैठते हैं तो इसका असर मुख्य तौर पर आपके बॉडी के ऊपर पड़ता है। क्योंकि आपको पता होना चाहिए कि गलत पोजीशन में शौच आपके शरीर के लिए ढेरों समस्याएं खड़ी कर सकता है।
Best Position to Poo: क्या आप शौचालय पर 'गलत' तरीके से बैठे हैं?
Best Position to Poo
20 वीं सदी में मध्य यूरोपीय डॉक्टरों की एक टीम को अफ्रीका के ग्रामीणों में लोगों की सेहत को जांचने के लिए भेजा गया था, वहाँ पर लोगों को सही तरीके से खान-पान में समस्यायों का सामना करना पड़ता था, इसलिए डॉक्टरों ने सोंचा कि वे शारीरिक रूप से कमजोर होंगें पर असल में हुआ इसका उल्ट।
डॉक्टरों ने पाया कि वहां के लोगों में पेट से जुड़ी दिक्कतें बहुत ही कम थी, जबकि वहीं ब्रिटैन या अन्य शहरों में ये दिक्कतें बहुत ही ज्यादा थीं। डॉक्टरों में जब पता लगाया तो उन्हें पता चला कि सिर्फ खान-पान ही नहीं बल्कि लोगों के मल का त्याग करते समय बैठने के तरीकों में अंतर की वजह से भी पेट से जुड़ी समस्याएं आ रही थी।
इसके बाद बहुत सारे सर्वे किये गए इस सर्वे में एक ही बात सामने आई की जो भी पश्चिमी देश के लोग हैं वे वाशरूम में लगभग 114 से लेकर 135 सेकंड यहां बिताते हैं वहीं विकासशील देशों में लोग वाशरूम में उकड़ूं होकर मल का त्याग करते हैं और केवल 50 सेकंड का ही सिर्फ समय लेते हैं।
डॉक्टर हेनरी एल.बोकस ने 1964 में अपनी बुक गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी में इस बात को बताया था कि जांघों को पेट के पास लाकर उकड़ूं बैठना एक सही तरीके से शौच करने कि पोजीशन हो सकती है, वहीं डॉक्टर एलेक्ज़ेंडर कीरा ने 1966 में अपनी बुक द बाथरूम' में तर्क दिया कि दीर्घशंका के लिए उकड़ूं बैठना इंसानी फ़ितरत है,इससे मलत्याग के लिए कम ज़ोर लगाना पड़ता है।
साल 2003 में डॉक्टर डोव सिकिरोव ने एक स्टडी की,जिसमें उन्होंने बताया कि शौच के दौरान उकड़ूं पोजीशन सबसे बेहतर है, क्योंकि इसमें आपका पेट सही तरीके की साफ़ होने कि संभावनाएं ज्यादा रहती हैं, वहीं कई वैज्ञानिकों ने भी ये सलाह दी है कि शौच करते समय आपकी टाँगें आपके बॉडी से 35 डिग्री के कोण में होनी चाहिए, वहीं जो व्यक्ति वेस्टर्न टॉयलेट का इस्तेमाल करते हैं उनके लिए ये नमुमकिन था।
समय का भी रहे ध्यान
शौच की सही पोजीशन के साथ-साथ आपको ये भी पता होना चाहिए कि कितना समय आपके लिए यहाँ रहना सुरक्षित हो सकता है, क्योंकि यदि 10 मिनट से ज्यादा समय आप यहाँ व्यतीत करते हैं तो ये आपके सेहत के लिए बहुत ही ज्यादा नुकसानदायक साबित हो सकता है, वाशरूम में ज्यादा समय व्यतीत करने से आपके मलाशय पर दबाव पड़ता है, जिससे आपके बाउलिंग मूवमेंट के ऊपर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। ज्यादा देर यहाँ समय व्यतीत करने से आप पाइल्स की समस्या के शिकार भी बन सकते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: परम विशिष्ट सेवा मेडल के बाद नीरज चोपड़ा को पद्मश्री, देवेंद्र झाझरिया को पद्म भूषणRepublic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीAloe Vera Juice: खाली पेट एलोवेरा जूस पीने से मिलते हैं गजब के फायदेगणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने में क्या है अंतर, जानिए इसके बारे मेंRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस परेड में हरियाणा की झांकी का हिस्सा रहेंगे, स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.