आंख चिपकना व पानी आना विंटर आई फ्लू के लक्षण

सामान्य फ्लू की बीमारी के अलावा आई फ्लू के मामले भी काफी देखे जाते हैं। वैसे तो यह किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकती है लेकिन बच्चों और युवाओं में ज्यादा होती है। एडिनो वायरस से फैलने वाला यह संक्रमण आंखों पर ज्यादा दुष्प्रभाव छोड़ता है।

By: Divya Sharma

Published: 03 Jan 2020, 01:16 PM IST

डॉ. सम्पूर्णानंद मेडिकल कॉलेज, जोधपुर के वरिष्ठ नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. अरविंद चौहान के अनुसार आंखें लाल होने के साथ इनमें दर्द व सुबह उठते ही आंखों का चिपकना प्रमुख व प्रारंभिक लक्षण हैं। इसके अलावा आंखों से गाढ़ा तरल या पानी आना, धूप के संपर्क में आते ही देखने में परेशानी व जलन होना अन्य लक्षण हैं। मौसमी रोग होने के कारण कुछ लोगों में बुखार के साथ भी आई फ्लू के लक्षण नजर आते हैं। वहीं कुछ में आई फ्लू के कारण कान में या आसपास दर्द होता है।
प्रमुख वजह
यह भ्रम है कि आई फ्लू से पीडि़त व्यक्ति की आंख में देखने से यह फैलता है। असल में मरीज से जुड़ी संक्रमित चीजों (तकिया, रुमाल, तौलिया, कपड़े आदि) को इस्तेमाल में लेने और छूने से यह फैलता है। भीड़भाड़ वाली जगह में किसी संक्रमित व्यक्ति से भी रोग फैल सकता है। एक के अलावा दोनों आंखें भी इससे ग्रस्त हो सकती हैं।
इलाज
एंटीवायरल आईड्रॉप, एंटीबायोटिक व दर्द निवारक दवा 3-5 दिन के लिए देते हैं।
सावधानी बरतें
मरीज अपनी चीजों को आसपास मौजूद व्यक्तियों से साक्षा न करें। साफ-सफाई का ध्यान रखें। बिना डॉक्टरी राय के कोई नुस्खा, दवा या आई ड्रॉप प्रयोग न करें। कॉन्टैक्ट लैंस न लगाएं। घर से बाहर निकलना पड़े तो काला चश्मा लगाएं।

Divya Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned