World Health Day 2018: बुरे सपने बनते हैं गंभीर बीमारी का कारण, ऐसे करवाएं इलाज

बुरे सपने बीमार कर देते हैं, जिसका असर दिलो-दिमाग पर पड़ता है...फिर धीरे-धीरे बाकी अंग प्रभावित होते हैं...

By: dilip chaturvedi

Published: 07 Apr 2018, 03:33 PM IST

रात में सोते वक्त आने वाले सपने बीमारियों के लक्षण बताने में मददगार होते हैं। होम्योपैथी चिकित्सा में सपनों के आधार पर रोग की पहचान कर बीमारी का इलाज संभव है। बीमारी सबसे पहले दिमाग यानी मन में होती है। बाद में उसका प्रभाव अंगों पर पड़ता है। दरअसल रात को सोते वक्त डरावने सपने आना, सोते-साते चीखने लगना, सोते हुए हंसने जैसे कई तरह के सपने आते हैं, जिसे लेकर व्यक्ति बहुत उत्साहित या डरा हुआ महसूस करता है। रोगी जब चिकित्सक के पास जाएगा और बताएगा की रात के समय उसे इस तरह के सपने आ रहे हैं, तो उस आधार पर बीमारी और लक्षणों की गंभीरता का पता लगाकर दवा दी जाती है। बेशक, एक जैसे सपने दो लोगों को आते हैं फिर भी दोनों की दवा अलग होगी, क्योंकि रोगी की लाइफ स्टाइल अहम है।

एक से दो घंटे हर व्यक्ति रात को सोते वक्त सपने देखता है जिसमें केवल कुछ चुनिंदा सपने ही उसे सुबह तक याद रहते हैं।

गुजरे समय से जुड़े होते सपने...
बार-बार आने वाले सपने पहले हुई किसी मानसिक वेदना, आघात और संघर्ष समेत अन्य तरह की परेशानियों से उबर न पाने की स्थिति को दर्शाता है। गुजरी हुई बात रात को सोते वक्त दिमाग में चलती है। व्यक्ति अपनी दुनिया में रहता है और दूसरों से अलग हो जाता है।

ऐसी तकलीफ तो भी बेहतर इलाज संभव...
नींद न आना, सोने की अलग-अलग मुद्रा, नींद में आंख मुंह-खुला रहना गंभीर बीमारी के लक्षण हैं। परिवार का दूसरा सदस्य ही रोगी की इस परेशानी को बता सकता है। रोगी को पहले उसकी परेशानी के बारे में बताते हैं। रात को सोते वक्त जरूरी सावधानी बरतने के लिए भी कहा जाता है।

इलाज...
सपनों के आधार पर जब रोगी को दवा दी जाती है, तो सपनों पर भी फर्क पड़ता है। सोते वक्त चिल्लाना, हंसना, गुस्सा करना समेत अन्य परेशानियों से निजात मिलती है। दवा के असर से बुरे सपने कम होते या रुक जाते हैं, अच्छे सपने आने लगते हैं। १०० से २०० तरह की दवाइयां है, जिनकी मदद से अलग-अलग रोगों का इलाज होता है।
नोट: मरीज कोई भी दवा मन से न लें। योग्य चिकित्सक की सलाह से ही इन्हें लें।
कंटेंट: मनीष कुमार सिंह।

 

Show More
dilip chaturvedi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned