अब छापेमारी पर सीएम से नाराज हुए अनिल विज

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज एक बार फिर से मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से नाराज हो गए हैं।

By: शंकर शर्मा

Published: 10 Nov 2017, 11:07 PM IST

चंडीगढ़। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज एक बार फिर से मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से नाराज हो गए हैं। नाराजगी की वजह सीएम फ्लाइंग स्कवायड द्वारा मंगलवार को प्रदेश भर में की गई छापेमारी है। सीएम फ्लाइंग ने इस कार्रवाई से पहले स्वास्थ्य मंत्री तथा स्वास्थ्य विभाग के किसी भी अधिकारी को सूचित नहीं किया। जिस कारण स्वास्थ्य मंत्री नाराज हैं।
हालांकि यह कोई पहला मौका नहीं है जब अनिल विज ने मुख्यमंत्री अथवा उनके अमले पर सवाल खड़े किए हैं। दरअसल मंगलवार को मुख्यमंत्री फ्लाइंग टीम ने दिनभर पूरे हरियाणा में फर्जी एवं झोला छाप डाक्टरों के खिलाफ अभियान चलाकर छापेमारी की थी। सीएम फ्लांइग ने प्रदेश भर में 147 स्थानों पर छापा मारकर ऐसे 55 लोगों को गिरफ्तार किया था जो फर्जीवाड़े के तहत अपने क्लीनिक चला रहे थे। सीएम फ्लाइंग की इस कार्रवाई पर आपत्ति जताते हुए स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा है कि सीएम फ्लाइंग को कार्रवाई से पहले उन्हें जानकारी देनी चाहिए थी। अनिल विज ने कहा कि इस मामले में उनकी अनदेखी की गई है वह इस मामले को उचित प्लेटफार्म पर उठाएंगे।
यह पहला मौका नहीं है जब अनिल विज और मुख्यमंत्री आमने-सामने हुए हैं। बेटी-बचाओ,बेटी-पढ़ाओ के मुद्दे पर शुरू से ही अनिल विज और मुख्यमंत्री के वैचारिक मतभेद रहे हैं। मुख्यमंत्री ने जब परणीति चोपड़ा को ब्रंाड एंबेसडर नियुक्त किया तो विज ने साक्षी मलिक को यह जिम्मेदारी सौंप दी। इसके बाद खानपुर महिला कालेज में हुए कार्यक्रम के कार्ड में नाम न होने पर भी विज भडक़ गए थे। जिसके बाद मुख्यमंत्री खुद विज से मुलाकात करने के लिए अंबाला में उनके आवास पर गए थे। अब फिर से विज ने यह मुद्दा उचित प्लेटफार्म पर उठाने का ऐलान कर दिया है।

अपनी जाति बताने से पीछे हटे हरियाणा के एचसीएस अधिकारी

हरियाणा में जाटों समेत छह जातियों को आरक्षण प्रदान करने से पहले किए जा रहे सर्वे में एचसीएस वर्ग के अधिकारी अपनी जाति को सार्वजनिक करने से पीछे हट रहे हैं।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned