सीएम खट्टर ने कर्मचारी चयन आयोग चेयरमैन को दी क्लीन चिट

सीएम खट्टर ने कर्मचारी चयन आयोग चेयरमैन को दी क्लीन चिट

Shankar Sharma | Publish: May, 17 2018 09:39:29 PM (IST) Hisar, Haryana, India

खट्टर ने विवादों में घिरे बोर्ड चेयरमैन भारत भूषण भारती को क्लीन चिट देते हुए साफ कर दिया है कि विवादित सवाल प्रश्न पत्र का हिस्सा नहीं बनेगा।

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने कर्मचारी चयन आयोग (एचएसएससी) द्वारा जूनियर इंजीनियर की लिखित परीक्षा में ब्राह्मणों के संबंध में पूछे गए आपत्तिजनक सवाल को लेकर विवादों में घिरे बोर्ड चेयरमैन भारत भूषण भारती को क्लीन चिट देते हुए साफ कर दिया है कि विवादित सवाल प्रश्न पत्र का हिस्सा नहीं बनेगा। इसके लिए सभी स्तर पर दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। मुख्यमंत्री के विदेश से आने के बाद बोर्ड चेयरमैन भारती ने बुधवार को उनके साथ मुलाकात करके अपनी स्थिति स्पष्ट की।


हरियाणा में हालही में हुई जूनियर इंजीनियर की लिखित परीक्षा के दौरान ब्राह्मणों के बारे में पूछे गए आपत्तिजनक सवाल को लेकर पूरे प्रदेश की सियासत कई दिनों से गरमाई हुई है। मुख्यमंत्री खट्टर विदेश दौरे पर थे और उनकी अनुपस्थिति में इस मुद्दे को लेकर विपक्ष तथा भाजपा सरकार के मंत्रियों ने खूब राजनीति की। यह मामला गृहमंत्रालय तक पहुंच गया उधर ब्राह्मण संगठनों ने अभी भी सरकार के विरूद्ध मोर्चा खोला हुआ है।


मुख्यमंत्री के विदेश से वापस आने के बाद आज आयोग के चेयरमैन भारत भूषण भारती ने मुख्यमंत्री के साथ मुलाकात की। भारती ने इस मुलाकात में पूरे घटनाक्रम का ब्यौरा मुख्यमंत्री को दिया। उन्होंने प्रश्न पत्र तैयार करने वाले अधिकारियों के विरूद्ध की गई कार्रवाई के बारे में भी मुख्यमंत्री को अवगत कराया। इसके बाद पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री ने भारत भूषण भारती को क्लीन चिट देते हुए कहा कि तीन से चार शिक्षाविदों को प्रश्न पत्र तैयार करने की जिम्मेदारी सौंपी जाती है। उसमें किसी एक प्रश्न पत्र को तैयार करके परीक्षार्थी को दिया जाता है।


यह प्रक्रिया अंतिम समय तक गोपनीय होती है। जिसके चलते इस बारे में पहले से जानकारी मिलने का कोई प्रश्न नहीं उठता है। सीएम ने बताया कि उन्हें जैसे ही इसकी जानकारी मिली तो बोर्ड चेयरमैन से बातचीत की। बोर्ड चेयरमैन ने प्रश्नपत्र तैयार करने वाले शिक्षाविद् के विरूद्ध की गई कार्रवाई के बारे में जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि इस मामले में दोषी के विरूद्ध कार्रवाई हो चुकी है। सीएम खट्टर ने बताया कि ब्राह्मण समुदाय के लोग सम्मानित हैं। उन्होंने ब्राह्मण प्रतिनिधियों को बैठक के लिए बुलाया है। बृहस्पतिवार को होने वाली बैठक में हर तरह की गलतफहमियां दूर कर ली जाएंगी।

भारती को पहले भी मिल चुकी है क्लीन चिट
यह पहला मौका नहीं है जब विवादों में घिरे हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के चेयरमैन भारत भूषण भारती को मुख्यमंत्री खट्टर ने क्लीन चिट दी है। इससे पहले विधानसभा सत्र के दौरान एक ऑडियो वायरल होने तथा नौकरियों में भ्रष्टाचार के मुद्दे पर विपक्ष द्वारा प्रदेश भर में हंगामा किए जाने के बावजूद मुख्यमंत्री खट्टर ने उन्हें क्लीन चिट दी थी। यह तीसरा मौका है जब आयोग के कारण प्रदेश भर में सरकार की फजीहत हुई और सीएम ने चेयरमैन को क्लीन चिट दे डाली।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned