भाजपा मोरनी में बनाएगी मिशन 2019 की रणनीति

भाजपा मोरनी में बनाएगी मिशन 2019 की रणनीति

Shankar Sharma | Publish: Sep, 03 2018 10:45:57 PM (IST) Hisar, Haryana, India

मिशन-2019 को फतेह करने के लिए हरियाणा में भाजपा की सरकार व संगठन ने अब नई रणनीति बना ली है।

चंडीगढ़। मिशन-2019 को फतेह करने के लिए हरियाणा में भाजपा की सरकार व संगठन ने अब नई रणनीति बना ली है। अब सरकार व संगठन के नेता दो चरणों में मंथन करके चुनावी रणनीति को अंतिम रूप देंगे। इस शिविर के आयोजन को लेकर पिछले कई दिनों से कार्यक्रम में बदलाव किया जा रहा है।

सोमवार को भी दिन में दो बार कार्यक्रम स्थल में बदलाव किया गया। अब इस मंथन शिविर में भाग लेने वाले सभी विधायक, मंत्री, बोर्ड व निगमों के चेयरमैन व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पंचकूला में एकत्र होंगे जहां से आगे उन्हें मोरनी में संभावित बैठक स्थल तक ले जाया जाएगा।


हरियाणा भाजपा ने पांच सितंबर को सरकार व संगठन के पदाधिकारियों का एक दिवसीय मंथन शिविर आयोजित करने का फैसला किया था। इस शिविर का मुख्य एजेंडा आगामी लोकसभा एवं विधानसभा चुनाव को देखते हुए विपक्षी राजनीतिक दलों द्वारा अपनाई जा रही रणनीति के आधार पर भाजपा द्वारा अपनाई जाने वाली रणनीति को अमली रूप देना है। अब इसे बदलकर न केवल दो चरणों में कर दिया गया है बल्कि अलग-अलग प्रतिनिधियों को इसमें शामिल किया जाएगा।


सूत्रों के अनुसार बुधवार को होने वाली बैठक में बोर्ड व निगमों के चेयरमैन, उपचेयरमैन व सदस्यों के साथ बैठक कर न केवल सरकार की कार्यशैली का फीडबैक लिया जाएगा बल्कि भविष्य की रणनीति पर भी चर्चा की जाएगी। इस बैठक में मुख्यमंत्री मनोहर लाल व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला के अलावा सत्ता व संगठन के कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहेंगे।


दूसरे चरण में होने वाली बैठक में हरियाणा भाजपा के सभी विधायक, मंत्री व प्रदेश पदाधिकारी भाग लेंगे। दूसरे चरण की बैठक में विधायकों से फीडबैक लेते हुए अब उन्हें आगे का टास्क दिया जाएगा। दूसरे चरण में होने बैठक को इसलिए भी अहम माना जा रहा है कि इसमें विधायकों द्वारा मुख्यमंत्री के समक्ष अपने-अपने क्षेत्र में हुए विकास कार्यों के बारे में रिपोर्ट पेंश करेंगे वहीं विधायक अपनी मांगों के बारे में भी अवगत करवाएंगे। विधायकों से विधानसभा हलकों के बारे में मिलने वाले फीडबैक के आधार पर ही सरकार आगामी विकास योजनाएं बनाएगी।

Ad Block is Banned