...जब पत्रकार वार्ता बुलाकर फंसे सीएम के प्रधान सचिव

Shankar Sharma

Publish: Oct, 12 2017 09:44:25 (IST)

Hisar, Haryana, India
...जब पत्रकार वार्ता बुलाकर फंसे सीएम के प्रधान सचिव

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर आज एक पत्रकार वार्ता में सहयोगी की भूमिका

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर आज एक पत्रकार वार्ता में सहयोगी की भूमिका निभाते हुए इस कद्र उलझ गए कि मीडिया के सवालों से बचने के लिए उन्होंने यहां तक कह दिया कि वह इस पत्रकार वार्ता में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव के नाते नहीं बल्कि राजेश खुल्लर के नाते यहां आए हैं।


हरियाणा सरकार के लोक संपर्क विभाग द्वारा आज फिल्म अभिनेता राज कुमार राव की फिल्म ‘न्यूटन’ के प्रीमियर शो से पहले पत्रकार वार्ता का आयोजन किया था। राजकुमार राव मूल रूप से हरियाणा के गुरुग्राम जिला के हैं। इस पत्रकार वार्ता में राज कुमार राव के मुख्य सहयोगी के रूप में मीडिया से रूबरू होने के लिए मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर भी पहुंचे हुए थे।


पत्रकार वार्ता के दौरान राजकुमार राव को बीच में रोकते हुए राजेश खुल्लर ने अपनी तरफ से फिल्म के अनुभव सुनाने शुरू कर दिए। इस बीच जब खुल्लर ने कहा कि अधिकारी अथवा शासक को अगर किसी घटनाक्रम का पहला अंदेशा हो जाता है तो वह उससे निपट लेता है। इसी दौरान पत्रकारों ने खुल्लर को घेरते हुए कहा कि पंचकूला हिंसा के बारे में सरकार को पहले से ही पता था फिर सरकार, प्रशासनिक अधिकारी उससे निपटने में फेल क्यों हो गए।


खुल्लर ने इस सवाल का जवाब घुमाने का प्रयास किया तो पत्रकारों ने एक के बाद एक पंचकूला हिंसा से जुड़े कई सवाल दाग दिए। खुल्लर ने इन सवालों का जवाब देते हुए मीडिया के दृष्टिकोण पर ही सवाल खड़े करने शुरू कर दिए। इस पर कई पत्रकारों ने आपत्ति दर्ज कराते हुए खुल्लर से पूछा कि यह मान लिया जाए कि अब हरियाणा का कोई शहर पंचकूला नहीं बनेगा तो खुल्लर ने कहा कि वह यहां मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव के नाते नहीं बल्कि राजेश खुल्लर के नाते बैठे हैं और फिल्म न्यूटन को लेकर अपने अनुभव सांझा कर रहे हैं।

जिसे हरियाणा के अधिकारियों व कर्मचारियों को दिखाया जाएगा। पत्रकारों ने जब यह पूछा कि क्या इस फिल्म को देखने के लिए हरियाणा में अधिकारियों व कर्मचारियों में अपनी जिम्मेदारी के प्रति भावना बढ़ेगी और उनकी कार्यप्रणाली में पारदर्शिता आएगी। खुल्लर के पास इस सवाल का भी जवाब नहीं था। पत्रकारों के सवालों से चौतरफा घिरे राजेश खुल्लर ने यह कहकर पीछा छुड़ाया कि वह नए सिरे से दोबारा पत्रकार वार्ता बुलाएंगे और पंचकूला हिंसा समेत सभी सवालों का जवाब देंगे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned