बैंकों की ईएमआई 30 जून तक टालने के साथ हर गरीब को 10 किलो अनाज कराया जाए उपलब्ध

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने मेडिकल व पैरामेडिकल स्टाफ की तनख्वाह दोगुनी करने की मांग

By: Chandra Prakash sain

Published: 27 Mar 2020, 06:43 PM IST

चंडीगढ़. कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं कैथल से पूर्व विधायक रणदीप सुरजेवाला ने सरकारी और प्रावइेट नौकरी पेशा कर्मचरियों को राहत देने की मांग की है। सरकार के राहत पैकेज पर सवाल उठाते हुए सुरजेवाला ने मांग की कि बैंकों की ईएमआई 30 जून तक टाल दी जाए। जिन सरकारी कर्मचारियों ने लोन लिया है, उनकी किस्त 30 जून तक क्यों नहीं टाली जा रही है। उस पर लगने वाले ब्याज को भी टाला जाना चाहिए।
सुरजेवाला ने सरकार की ओर से 5 किलो अनाज के निर्णय पर सवाल उठाया कि एक व्यक्ति हर रोज तीन जून की रोटी खाए तो लगभग एक दिन में 500 ग्राम अनाज खाता है। ऐसे में उसे 5 किलो की बजाय 10 किलो अनाज या चावल दिया जाना चाहिए। ताकि वे अपना पेट पाल सके। 5 सदस्यों के परिवार को 3 किलो दाल दी जाए।
कांग्रेस राष्ट्रीय प्रवक्ता ने डाक्टरों की बीमा राशि 50 लाख बढ़ाने के फैसले का स्वागत किया और मांग कि सरकार डाक्टरों, नर्स और मेडिकल स्टाफ की तनख्वाह दोगुनी करे, क्योंकि वे इस समय बड़े खतरे से लड़ रहे हैं।
सुरजेवाला ने कालाबाजारी को लेकर सरकार को घेरते हुए कहा कि आज मास्क, हैंड सेनिटाइजर, मसाले, दाल, प्याज, आलू, दाल, दूध ऐसी वस्तुएं नहीं मिल रही हैं। यदि मिल भी रही हैं तो चार-चार गुणा दामों पर मिल रही हैं। सरकार को कालाबाजारियों पर कार्रवाई करते हुए नकेल कसने की जरूरत है ताकि आमजन को हर वस्तु की उपलब्धता आसानी से हो सके।

Chandra Prakash sain
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned