ISIS आतंकी से आजमगढ़ की मेडिकल छात्रा ने फोन पर किया निकाह, लड़की की खोज में जुटीं एजेंसियां

ISIS आतंकी से आजमगढ़ की मेडिकल छात्रा ने फोन पर किया निकाह, लड़की की खोज में जुटीं एजेंसियां

देश में अपनी जड़ जमाने में जुटी आईएस की पहुंच माफिया डान अबू सलेम के शहर सरायमीर तक हो गई है। 

आजमगढ़. देश में अपनी जड़ जमाने में जुटी आईएस की पहुंच माफिया डान अबू सलेम के शहर सरायमीर तक हो गई है। सऊदी अरब में भारतीय लोगों को बरगलाकर खुंखार आतंकी संगठन आईएसआईएस में भर्ती कराने के आरोपी अमजद खान उर्फ अयान खान सलाफी को हाल ही में भारत को सौंपा गया है। एनआईए सूत्रों ने दावा किया है कि इस आतंकी के तार आजमगढ़ जिले के सरायमीर के एक मेडिकल छात्रा से है। दोनों की दोस्ती 2012 में फेसबुक के जरिए हुई जो बाद में प्यार में बदल गई। यह मेडिकल छात्रा उस आतंकी के बातों से इतना प्रभावित हुई कि एक होने का फैसला कर लिया। मई 2016 में दोनों ने परिवार की सहमति से फोन पर निकाह कर लिया।

बताते हैं कि वह आईएस आतंकी सलाफी से अहल ए हदीस और इस्लाम के बारे में चर्चा करती थी। सलाफी ने इस लड़की को अपने साथ आने और सीरिया में इस्लामिक जीवन बिताने का ऑफर दिया था। आंतकी ने लड़की को ये बताया था कि उसकी शादी हो चुकी है और उसके दो बच्चे भी हैं। अप्रैल 2014 में सलाफी सऊदी अरब चला गया। उसने इस लड़की को भी सऊदी अरब आने के लिए प्रेरित किया। उसने कहा था कि सऊदी अरब आने में शफी अरमार नामक व्यक्ति मदद करेगा। यह वही शफी अरमार है जो भारत में आईएस आंतकी नेटवर्क से जुड़े संगठन का प्रमुख है।

सलाफी ने लड़की को प्रलोभन दिया था कि सीरिया में उसे युद्ध क्षेत्र में नहीं जाना होगा और दोनों लोग चैन के साथ वहां रह सकेंगे। हालांकि यह मेडिकल छात्रा उसकी बातों में आकर सऊदी अरब नहीं गई। इसलिए एनआईए के अधिकारियों ने उससे पूछताछ नहीं की है। अभी वह आजमगढ़ में ही है। एनआईए ने लड़की की पहचान उजागर नहीं ‌की है।

गौरतलब है कि इससे पहले भी सरायमीर, संजरपुर, बीनापारा आदि के तार आतंकी संगठनों से जुड़ चुके है। माफिया डान अबू सलेम का पैतृक गांव होने के कारण यह पहले भी चर्चा भी चर्चा में रहा है। अब आईएस से तार जुड़ने के बाद यह एक बार फिर चर्चा में है। पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी का कहना है कि सरायमीर की एक मेडिकल छात्रा का आईएस आतंकी से शादी करने का प्रकरण सामने आया है। जानकारी जुटाने के लिए खुफिया तंत्र को सर्तक किया गया है। अभी तक कोई पुष्‍ट जानकारी हासिल नहीं हुई है।
खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned