GST: संसद में मध्यरात्रि कार्यक्रम का ममता करेगी बहिष्कार, कांग्रेस को तरीके पर दिक्कत

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने साफ कर दिया है कि टीएमसी 30 जून की आधी रात को संसद की विशेष बैठक में हिस्सा नहीं लेगी। वहीं कांग्रेस ने जीएसटी सत्र को लेकर मिले आमंत्रण पर आपत्ति जताई है। 

Prashant Kumar Jha

June, 2806:38 PM

नई दिल्ली:  केंद्र सरकार की ओर से 30 जून की आधी रात को जीएसटी के लिए आयोजित की गई संसद की विशेष बैठक में टीएमसी ने शामिल नहीं होने का फैसला किया है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ट्वीट कर कहा कि टीएमसी इस बैठक में हिस्सा नहीं ले रही है। ममता ने कहा कि नोटबंदी की तरह जीएसटी को भी बिना तैयारी के साथ लागू किया गया ।
ममता के मुताबिक अर्थव्यवस्था एक जुलाई से जीएसटी अपनाने को तैयार नहीं है और सभी नियमों और प्रक्रियाओं को अधिसूचित करने के लिए अभी कम से कम छह महीने और चाहिए।

सरकार फिर जल्दबाजी कर रही है-ममता
नोटबंदी के बाद सरकार फिर एक बार अनावश्यक रूप से बड़ी गलती करने की जल्दबाजी में है। उन्होंने लिखा है कि तृणमूल कांग्रेस शुरू से ही जीएसटी के पक्ष में है, लेकिन मोदी सरकार जिस तरीके से अब इसे लागू करने की हड़बड़ी में है। उसको लेकर पार्टी बैठक में शामिल नहीं होगी।  

छोटे और बड़े व्यापारी दुविधा में
ममता ने लिखा है कि हमने बार-बार जीएसटी के उचित तरीके से क्रियान्वयन के लिए कुछ और समय का सुझाव दिया, लेकिन सरकार कान बंद किए बैठी है। पूरा कारोबारी समुदाय-विशेषकर लघु एवं मध्यम व्यापारी - इसे लेकर दुविधा में हैं। जीएसटी लागू करने में अब मुश्किल से 60 घंटे का समय बचा है, लेकिन जिस तैयारी के साथ सरकार इसे शुरू करने जा रही है कोई भी यह नहीं जानता कि आगे क्या होगा।

कांग्रेस का रुख साफ नहीं
इधर जीएसी की बैठक में कांग्रेस का रुख अभी साफ नहीं हुआ है। हालांकि गुरुवार को कांग्रेस अहम बैठक करने जा रही है। बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शामिल होंगे। बैठक में फैसला होना है कि क्या 30 जून की मध्यरात्रि जीएसटी को लेकर बुलाई गई संसद की विशेष बैठक में हिस्सा लेना है या नहीं। जबकि कांग्रेस समेत कई विपक्षी पार्टियों का मानना है कि जीएसटी के लागू होने से व्यापार और उद्योग जगत ही नहीं बल्कि छोटे-मझोले व्यापारियों का काम भी प्रभावित होगा। 

सरकार ने विपक्ष के नेताओं को भेजा न्योता
वहीं, केन्द्र सरकार ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, एचडी देवगौड़ा, सीताराम येचुरी व कई अन्य वरिष्ठ नेताओं को आमंत्रित किया है।
prashant jha
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned