अनोखी चोरी : मंदिर में घुसा चोर, चिट्ठी में यह बात लिखकर ले गया नकदी

मंदिर की दानपेटी से करीब 40 हजार रुपए चोरी

By: sandeep nayak

Published: 25 Sep 2019, 12:59 PM IST

सारनी/हे भगवान मैने अब तक जो भी गलती की हैं उसके लिए आपने मुझे क्षमा किया है। आज से मैं पूरी तरह छोड़ दूंगा। यह किसी भक्त की प्रार्थना नहीं बल्कि एक चोर की चिट्ठी है जो उसने मंदिर की दानपेटी से चोरी करने से पहले भगवान के नाम मंदिर में छोड़ी थी। चिट्ठी में आगे लिखा कि भगवान धर्म की खातिर और आई पापा की खातिर आपको आना ही पड़ेगा। अब सब कुछ ठीक होगा तो मैं समझूंगा कि आपने मुझे माफ कर दिया। और लास्ट मौका दिया है। अगर अब सबकुछ ठीक हो गया तो मैं आपके किसी भी मंदिर में ५०० रुपए का दान करूंगा। यह चिट्ठी लिखी थी सारनी के एक चोर ने। मामला नगर के राधाकृष्णन वार्ड नंबर 2 के हनुमान मंदिर में चोरी की अनोखी वारदात का है।

नोट लेकर हुआ फरार
चोर श्रीसिद्धेश्वर हनुमान मंदिर की दानपेटी का कुंदा काटकर चोर नकदी (नोट) चोरी कर फरार हो गए। अनोखी बात यह है कि चोर दानपेटी में चिल्लर नहीं ले गया। जिससे अनुमान लगाया जा रहा है कि चोर पकड़े जाने के डर से चिल्लर में आवाज आएगी इसलिए वह चिल्लर नहीं ले गया। साथ ही चिट्ठी लिखकर छोड़ गया।
दिनभर रही चर्चा
चोरी की इस अनोखी घटना के बाद मंदिर समिति से जुड़े लोगों के बीच दिन भर चर्चा रही। समिति के लोगों ने इस मामले की लिखित शिकायत थाने में की। मंदिर से जुड़े लखनलाल मालवीय, अमरलाल बागवे, राहुल कापसे, देवीलाल धुर्वे ने बताया तीन साल से दानपेटी नहीं खोली थी। इस वजह से दानपेटी में 40 हजार से अधिक रुपए होने का अनुमान था।

पहले भी हो चुकी है वारदात
समिति के लोगों ने बताया इससे पहले भी मंदिर में वारदात हो चुकी है जिसमें भगवान की मूर्तियों को नुकसान पहुंचाया गया था। इसमें हनुमान जी की मूर्ति पर एसिड फेंका गया और सांई बाबा की मूर्ति को भी नुकसान पहुंचाया गया था।

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned