पांच स्थानों से 5 पोकलेन मशीनें जब्त, हो रहा था अवैध खनन

प्रशासन की कार्रवाई

By: sandeep nayak

Published: 25 Nov 2020, 12:27 AM IST

होशंगाबाद/ जिला प्रशासन, खनिज और पुलिस की संयुक्त टीम ने मंगलवार तवा नदी में पांच स्थानों के तट-खदान में छापेमारी कर पांच पोकलेन मशीनें जब्त की है। इन मशीनों से अवैध खनन और डंपर-ट्रकों से परिवहन कराया जा रहा था। दोपहर बाद से शुरू हुई कार्रवाई रात 9 बजे तक जारी थी। बांद्राभान में संयुक्त टीम ने जायजा लिया। जिला खनिज अधिकारी शशांक शुक्ला ने बताया कि कलेक्टर धनंजय सिंह के निर्देश पर जिले में अवैध खनन-परिवहन के खिलाफ कार्रवाइयां जारी है। इसी क्रम में मंगलवार को एसडीएम, तहसीलदार, खनिज निरीक्षक और थाना प्रभारियों की संयुक्त टीम ने आंचलखेड़ा, होरियापीपर, देवलाखेड़ी और निमसाडिय़ा सहित बसौड़ बाबा तट स्थल से एक-एक कुल पांच पोकलेन मशीनें जब्त की। इन मशीनों से खनन पाया गया। बता दें कि मशीनों से खदानों में खनन पर रोक है। बसौड़ बाबा तट स्थल पर अवैध उत्खनन पकड़ा गया है। बुधवार सुबह यहां की खोदी गई रेत की नपाई होगी। उक्त प्रकरण में रेत नियम 2019 के तहत कार्रवाई की जाएगी। उल्लेखनीय है कि जिला प्रशासन द्वारा लगातार अवैध उत्खनन एवं परिवहन के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है। जिले में 170 से अधिक अवैध उत्खनन कर्ता एवं परिवहन कर्ताओं के विरुद्ध संबंधित पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराई जा चुकी है। कार्रवाई की गई है।

पवारखेड़ा-डोंगरवाड़ा में भी मशीनों से अवैध खनन जारी
होशंगाबाद. प्रशासन की टीम खदानों पर छापेमारी कर रही लेकिन पवारखेड़ा सहित डोंगरवाड़ा तटों पर मशीनों से रेत का अवैध खनन और परिवहन हो रहा है। पहले यहां पंचायत की खदान थी। निरस्त होने के बाद स्थानीय मिलीभगत के चलते कारोबार जारी है। दिनदहाड़े जेसीबी, पोकलेन तट-खदान एरिया में उतार कर खनन कराया जा रहा है। इस संबंध में ग्रामीणों ने प्रशासन एवं खनिज विभाग से भी फोन पर सूचना दी और शिकायत की है। बताया जाता है कि पवारखेड़ा में होशंगाबाद के अवैध रेत कारोबारी सक्रिय हैं। जो यहां मशीनों से उत्खनन करा रहे हैं। इस मामले में दबंगों के आगे सरपंच व सचिव चाहकर भी कोई कदम नहीं उठा पा रहे। डंपरों की आवाजाही से गांव की सड़क भी खराब हो रही है। लोगों को आवागमन में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सड़क पर रेत बिखर रही है। यही स्थिति नर्मदा पुल एवं इसके सटे डोंगरवाड़ा की है। नर्मदा तट से रेत का खनन कर लंबी और गहरी खाइयां कर दी गई है। पुल की सड़क से आते जाते अधिकारी भी देख रहे, लेकिन धरपकड़ कर कार्रवाई नहीं हो रही है। पवारखेड़ा ग्राम पंचायत के सरपंच दिनेश कुमार सरयाम ने बताया कि गांव के तट-खदान में अवैध खनन मशीनों से हो रहा है। इसकी सूचना भी प्रशासन के अधिकारियों को दी है। इधर, खनिज अधिकारियों का कहना है कि सर्चिंग लगातार जारी है। यहां भी कार्रवाई के लिए टीमें भेजी जा रही हैं।

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned