डेंगू मरीज मिलने से अलर्ट, घरों में लार्वा की जांच

घरों के आसपास से बारिश के जमा पानी को निकासी की सलाह

By: poonam soni

Published: 11 Aug 2019, 11:45 AM IST

होशंगाबाद . इटारसी में डेंगू मरीज मिलने के बाद जिले भर में अलर्ट किया गया है। जिसके बाद मलेरिया विभाग घरों में लार्वा की जांच में जुट गया है। हालांकि बारिश थमने के बाद घरों के आसपास जमा पानी के डबरों में अब मच्छर पनपने का खतरा बढ़ गया है। कालिका नगर में बरसात के गंदे पानी की निकासी की उचित व्यवस्था नही है। ड्रेनेज सिस्टम अच्छा नहीं होने से कालिका नगर में एक दर्जन से ज्यादा खाली भूखंडों में बरसात का पानी जमा हो गया है। इधर हिल व्यू होम्स में भी घरों के आसपास पानी भरा है। जिनमें मच्छर पनपने से मलेरिया, डेंगू का खतरा बना हुआ है। वार्ड १९ आदमगढ़ क्षेत्र के रविशंकर नगर, पटवारी कॉलोनी के खाली भूखंडों में बारिश का पानी जमा है।

 

पिछले साल मिले थे डेंगू के १२ मरीज
जिल मलेरिया विभाग के आंकड़े बताते हैं कि पिछले दो साल में ३५ डेंगू पीडि़त मरीजों की पहचान हुई है। वर्ष 2018 में 12 और 2017 में जिले में डेंगू के 23 मरीज मिले थे। विभाग अलर्ट पर है। इटारसी में डेंगू मरीज मिलने के बाद घरों में लार्वा सर्वे करा रहे हैं।
-डॉ अरुण श्रीवास्तव, जिला मलेरिया अधिकारी।

 

लोगों को घरों में रखे कूलर व गमलों में पानी जमा नहीं होने देना चाहिए। यहीं मच्छर पनपते हैं।
-डा. दिनेश कौशल, सीएमएचओ।

 

जिन इलाकों में पानी जमा है, वहां सर्वे कराकर निकासी की व्यवस्था की जाएगी।
-प्रभात कुमार ङ्क्षसह, सीएमओ

 

125 गांव में खिलाई होम्योपैथी दवा
मलेरिया की रोकथाम के लिए दो चरणो में होम्योपैथी दवा खिलाई जा रही है। इनमें प्रथम चरण 3 एवं 17 अगस्त और द्वितीय चरण 11, 18 एवं 25 सितंबर को होगा। प्रथम चरण में जिले के 125 गांव में आशा कार्यकर्ता के सहयोग से दवा खिलाई जा चुकी है।

Show More
poonam soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned