scriptbandrabhan mela in hoshangabad latest news | bandrabhan mela नहीं लगेगा कार्तिक मेला, तवा-नर्मदा संगम पर सुबह 6 से शाम 5 बजे तक स्नान की अनुमति | Patrika News

bandrabhan mela नहीं लगेगा कार्तिक मेला, तवा-नर्मदा संगम पर सुबह 6 से शाम 5 बजे तक स्नान की अनुमति

कोरोना के कारण लिया निर्णय

होशंगाबाद

Published: November 17, 2021 06:18:45 pm

होशंगाबाद. तवा-नर्मदा नदी के संगम स्थल पर कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर आयोजित होने वाले 3 दिवसीय बांद्राभान मेले को लेकर मंगलकर को अंतिम निर्णय लिया गया। मेला स्थगित करने पर निर्णय लिया गया। बांद्राभान में न मेला आयोजित होगा और न कोई दुकानें लगेंगी। संगम पर स्नान करने पर रोक नहीं रहेगी। पूर्णिमा के दिन श्रद्धालुओं को सुबह 6 बजे से शाम 5 बजे तक स्नान, पूजन की अनुमति रहेगी। स्नान और पूजन-पाठ को लेकर सुरक्षा व्यवस्था और प्रकाश की व्यवस्था प्रशासन द्वारा की जाएगी। कोरोना संक्रमण के कारण मेला निरस्त किया गया है।
मेले को लेकर विधायक विजयपाल सिंह, होशंगाबाद विधायक डॉ. सीतासरन शर्मा सहित भाजपा जनप्रतिनिधियों के प्रतिनिधि मंडल ने मंगलवार को कलेक्टर से मुलाकात की। सोहागपुर विधायक विजयपाल सिंह ने बताया होशंगाबाद में 6 और सोहागपुर का एक व्यक्ति की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव मिली थी। तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए बांद्राभान मेला निरस्त करने पर निर्णय का हुआ है। हालांकि मेला धार्मिक और आस्था का केंद्र है। स्नान और पूजन को लेकर बैठक में चर्चा की गई। जिसमें निर्णय हुआ कि पूर्णिमा पर श्रद्धालुओं को सुबह 6 बजे से शाम 5 बजे तक स्नान, पूजन की अनुमति दी जाएगी। सुरक्षा और प्रकाश व्यवस्था प्रशासन द्वारा की जाएगी। इस दौरान होशंगाबाद, सोहागपुर विधायक, जिला पंचायत सीईओ सरयाम, भाजपा जिला महामंत्री प्रसन्ना हर्णे, मंडल अध्यक्ष सागर शिवहरे, विकास नारोलिया मौजूद रहे।
पूर्णिमा में मेला और स्नान पर लगी पाबंदी हटाने की मांग
पिपरिया. कार्तिक पूर्णिमा पर लगने वाले मेला व स्नान पर लगी पाबंदी हटाने को लेकर सीएम के नाम एसडीएम नितिन टाले को कांग्रेस विधान सभा प्रवक्ता राजेन्द्र सोनिया ने ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन के माध्यम् से कहा कि शुक्रवार को कार्तिक पूर्णिमा पर शासन के द्वारा स्नान को प्रतिबंधित किया है वहीं 15 को भगवान बिरसा मुंडा की जयंती पर प्रशासन ने प्रदेश भर से भारी भीड़ भोपाल में जुटाई थी। प्रशासन को लोगों की आस्था का ध्यान रखते हुए सार्थक निर्णय लेने की जरूरत है।
bandrabhan
bandrabhan

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.