एट्रोसिटी एक्ट का विरोध _ बंद के समर्थन में भाजपा नेता

एट्रोसिटी एक्ट का विरोध _ बंद के समर्थन में भाजपा नेता

भारत बंद को लेकर जिले भर में अलर्ट, 400 सुरक्षा जवान रहेंगे तैनात

होशंगाबाद। एट्रोसिटी एक्ट के विरोध में गुरुवार को भारत बंद के समर्थन में बुधवार को होशंागाबाद के भाजपा नेता भी आ गए। बंद को सफल बनाने के लिए हुई बैठक में भाजपा के पदाधिकारी भी शामिल हुए। सभी व्यापारियों ने बंद का समर्थन किया है। पुलिस ने व्यापक बंद को देखते हुए सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए हैं। गुरुवार को हरदा से होते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जनआर्शीवाद यात्रा भी होशंगाबाद में प्रवेश कर रही है। उनके कारकेट की सुरक्षा के लिए चार उपद्रव निरोधक टीमें तैनात रहेंगी।

पुलिस और प्रशासन ने बंद के दौरान अलर्ट जारी किया है। जिले भर में 400 सुरक्षा जवान तैनात किए गए हैं। बंद के दौरान सामान्य, पिछड़ा व अल्पसंख्यक वर्ग के लोग प्रदर्शन करेंगे। व्यापारी महासंघ ने भी बंद को समर्थन दिया है। बाजार बंद रहेंगे। सिर्फ मेडिकल व पेट्रोल पंप खुले रहेंगे। पंप सिर्फ रैली के दौरान बंद रखने का निर्णय लिया गया है। बंद के समर्थन में हुई बैठक में भाजपा खेल प्रकोष्ठ के जिला संयोजक संजीव मिश्रा, जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व मंडल अध्यक्ष भाजपा दिनेश तिवारी, राधे पंडित, प्रशांत तिवारी और भाजपा से उपकृति नौटरी अधिवक्ता गोविंद दुबे भी मौजूद थे। ज्ञात रहे कि एट्रोसिटी एक्ट को लेकर भाजपा का भी विरोध किया जा रहा है। बैठक में कांग्रेस नेता अरुण दीक्षित और संतोष तोमर भी थे।

सख्ती से निपटेगा प्रशासन

बंद को लेकर कलेक्टे्रट रेवा सभाकक्ष में कलेक्टर प्रियंका दास ने एसपी अरविंद सक्सेना की मौजूदगी में सामान्य, पिछड़ा एवं अल्पसंख्यक समाज के लोगों की बैठक बुलाई। सभी को हिदायत दी गई कानून व्यवस्था बनाए रखें। कहीं भी कोई गड़बड़ी की गई तो सख्ती से कार्रवाई की जाएगी। वे मुख्यमंत्री के काफिले तक पहुंचने का प्रयास न करें। जो भी इसका उल्लंघन करेगा उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। किसी भी प्रदर्शन के लिए पूर्व अनुमति लेनी होगी। बैठक में कांग्रेस सहित सपाक्स समाज, करणी सेना सहित अन्य संगठनों के पदाधिकारी व सदस्यगण शामिल रहे। इधर, अजाक्स ने किसी तरह की प्रतिक्रिया नहीं दी है।
बैठक हुई, करेंगे विरोध, निकाली रैली

प्रशासन की बैठक के बाद सपाक्स समाज, करणी सेना, सर्व सामान्य, पिछड़ा एवं अल्पसंख्यक वर्ग की बैठक डीईओ कार्यालय के बाजू में हनुमान मंदिर परिसर में हुई। इसमें एससी-एसटी एक्ट का विरोध किया गया। सभी ने गुरुवार के भारत बंद को समर्थन देने का निर्णय लिया। शाम को शहर के मुख्य मार्गों से रैली भी निकाली गई। जिसमें सभी व्यापारियों से अपने प्रतिष्ठान व दुकानें बंद रखने का आव्हान किया गया। सपाक्स अधिकारी-कर्मचारी संगठन ने भारत बंद को नैतिक समर्थन दिया है। जिले के अन्य सभी शहरों व कस्बों में भी बैठकें हुईं। सिवनीमालवा में पुलिस व प्रशासन की विशेष निगरानी जारी रही।
किसी भी स्थिति से निपटने तैयार पुलिस

एसपी अरविंद सक्सेना ने बताया कि धारा १४४ नहीं लगाई गई है। जिले में भारत बंद को लेकर पुलिस किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है। 400 जवानों को सुरक्षा व्यवस्था में लगाया गया है। जिले के सभी 16 थाना क्षेत्रों में 64 फिक्स पिकेट, 128 मोबाइल वाहन दो रिजर्व बल की कंपनियां तैनात हैं। सोशल मीडिया पर भी विशेष नजर रख रही है।

 

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned