खून का काला खेल: समाजसेवा के नाम डॉक्टर बेच रहा था लोगों का खून

खून का काला खेल: समाजसेवा के नाम डॉक्टर बेच रहा था लोगों का खून

Amit Kumar Shrama | Updated: 04 Jun 2019, 01:02:19 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

- ब्लड डोनेशन ग्रुप में लोगों से रक्तदान की अपील कर मरीजों के परीजनों से बसूलता था पैसे
- लोगों ने सीएमएचओ से भी लिखित शिकायत की, पूरे मामले में टीम का गठन कर

होशंगाबाद। समाजसेवा के नाम पर लाल खून का काला खेल का बड़ा खुलासा हुआ है। यहां एक डॉक्टर ही मरीजों को काम दिलाने के नाम पर मोटी रकम बसूल रहा था। इस पूरे मामले की सीएमएचओ डॉ.दिनेश कौशल के पास शिकायत होने के बाद पूरे मामले की तीन दिनों में सीनियर्स डॉक्टर की टीम से जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। होशंगाबाद के एक निजी अस्पताल (न्यू पांड़े अस्पताल ) में पिपरिया के पास के एक गांव की आजूधीबाई पति पलाश सिंह को भर्ती कराया गया था। उपचार के दौरान डॉक्टर्स ने महिला को खून लगाने की जरुरत बताई गई। इसके साथ उन्हें अस्पताल के कुछ लोगों ने खून का इंतजाम करने के लिए अमर चौक स्थित डॉ.बसंत जोशी के पास जाने की सलाह दी। जहां पर एक यूनिट खून के बदले डॉ.जोशी ने खून के बदले ३ हजार रूपए देने की बात की। तीन हजार का रिकार्डिंग में हिसाब भी बताया गया। जिसमें १०५० रूपए खून के लिए और १९८० का क्रासचेक की जांच के के बताए गए हैं। जिसके बदले पांडे हॉस्पिटल में लगाए जाने के लिए डॉ.जोशी के क्लीनिक में मरीजों के परिजनों को जिला अस्पताल के ब्लड बैंक के लिए ओ-पॉजेटिव रक्त उपलब्ध कराया गया। इस दौरान शंका होने पर मरीज के परिजन के साथ गए एक युवक ने रिकार्डिंग कर ली। इसे लेकर सीएमएचओ को संबंधित खून के काले धंधे और उससे जुडे लोगों की शिकायत की गई है। डॉक्टर जोशी चलाता है रक्तदान ग्रुप डॉ.बसंत जोशी काफी लंबे समय से रक्तदान ग्रुप सोशल मीडिया पर चला है। इसमें मैसेज आने पर लोग तुरंत ही रक्तदान के लिए ब्लड बैंक पहुंच जाते हैं। लेकिन रक्तदान के बाद कभी मरीजों या उनके परिजनों से संवाद ही नहीं करते हैं। इसका ही फायदा डॉ.बसंत जोशी उठा रहे थे। इससे पहले युवा मोर्चा ब्लड लाइन के प्रभारी भी उनके ग्रुप से जुड़े हुए थे। गजेंद्र चौहान ने बताया कि इस तरह कि शिकायतों के मिलने के बाद ही ग्रुप छोड़ दिया था। सोमवार को इससे जुड़ी प्रमाणों के साथ शिकायत मिली तो सभी को सौंपा गया है।
कर्मचारियों पर दबाव के लिए अधिकारियों के साथ फोटो करता था पोस्ट
जिला अस्पताल के कर्मचारियों को अपना रौब दिखाने के लिए सभी अधिकारियों के साथ सोशल मीडिया में फोटो पोस्ट करता था। उसने बीच में सिविल सर्जन के साथ भी एक एेसी ही पोस्ट सोशल मीडिया में पोस्ट की थी। जिससे दबाव बनाया जा सके।
रिकार्डिग में क्या है
डॉक्टर - जितना भी कम हो सकता है उतना कम पैसा लूंगा
परिजन- कितना पैसा लगेगा, कोई परेशानी तो नहीं होगी
डॉक्टर - नहीं कोई परेशानी नहीं होगी मैं बगोरा को बोल देता हूं
परिजन- रसीद मिलेगी हमेंडॉक्टर- हां १०५० की रसीद मिलेगी बाकि जो १९८० उसकी रसीद नहीं होगी
परिजन- सर फिर १९८० वाली रसीद
डॉक्टर - वो आपको जब मिलेगी जब आपने सुबह तक ब्लड एक्सचेंज कर दिया, तब आपको पैसे भी वापस हो जाएंंगे और रसीद भी मिल जाएगी।
परिजन - हमें कब तक ब्लड मिल जाएगा,
डॉक्टर- मैं उससे बात करके २,४ पांच सौ रूपए कम करा दूंगा खुश
परिजन- ५ सौ ही कम हो जाएं तो हमारे लिए वो ही बहुत है
डॉक्टर- मरीज का नाम क्या है
परिजन - आजूधी
डॉक्टर- पति का नाम क्या है
परिजन - पलाश समझदार
डॉक्टर - मतलब इंटेलिजेंट
परिजन - जी सरनेम समझदार ही है
इनका कहना

ओ-पॉजेटिव ब्लड के हमने ३ हजार रूपए लिए गए। यह पैसे हमसे डॉ.बसंत जोशी ने लिया था, उनके क्लीनिक में ही हमें ब्लड लाकर दिया गया था। यह ब्लड सरकारी अस्पताल के ब्लड बैंक से लाया गया था। जिसके बदले हमने कोई ब्लड नहीं दिया।- पलाश समझदार, मरीज के परिजन
------------------
मैंने किसी से कोई पैसा नहीं लिया है। अस्पताल में कुछ मरीज के परिजन पहुंचे थे। जिनको मैने ब्लड की बात कराई थी। ब्लड डोनर कोई विकास नाम का लड़का था। जिसको आप चाहो तो मिला सकता हूं। उसी ने ब्लड के पैसे लिए हैं। - डॉ.बसंत जोशी, बीएएमएस डॉक्टर होशंगाबाद
---------------------
हमने पूरा मामला सीएमएचओ और मीडिया दोनों को उपलब्ध करा दिया है। एेसा नहीं किया जा सकता कि समाज सेवा के नाम पर आप लोगों से खून लें। इसके बाद उस खून के बदले मरीजों के परिजनों से मोटी रकम बसूल लें। पार्टी स्तर पर भी इसका विरोध किया जाएगा।-गजेंद्र चौहान, युवा मोर्चा ब्लड बैंक प्रभारी
------------
यह पूरा मामला काफी गंभीर है, समाजसेवा के नाम पर खून बेचना तो सबसे बड़ा अपराध है। पूरे मामले ही तीन दिनों में विस्तृत जांच के आदेश जारी किए गए हैं। संबंधित अगर दोषी पाया गया तो एफआईआर से भी पीछे नहीं हटेंगे।- डॉ.दिनेश कौशल, सीएमएचओ होशंगाबाद

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned