ये है प्रदेश का सबसे बड़ा ब्लड डोनर ग्रुप, पलभर में कहीं भी उपलब्ध करा देते हैं रक्त

poonam soni

Publish: Jun, 14 2018 03:15:56 PM (IST) | Updated: Jun, 14 2018 03:36:09 PM (IST)

Hoshangabad, Madhya Pradesh, India
ये है प्रदेश का सबसे बड़ा ब्लड डोनर ग्रुप, पलभर में कहीं भी उपलब्ध करा देते हैं रक्त

ग्रुप के ढाई हजार युवक-युवती अब तक बचा चुके हजारों जिंदगियां

पूनम सोनी/होशंगाबाद। मदद करने का हौंसला और जुनून अगर आपके दिल में है तो आप किसी भी समय उनकी मदद करने के लिए तैयार रहते हैं। आज हम आपको ऐसे ही एक ग्रुप से रू-ब-रू करा रहे हंै जो पलभर में प्रदेश के किसी भी हिस्से में जरूरतमंद को रक्त उपलब्ध करा देते हैं। इस ग्रुप से जुड़े करीब ढाई हजार युवक-युवतियां अब तक हजारों लोगों की जान बचा चुके हैं।

पांच दोस्तों से शुरू किया
कहते हैं कि शुरुआत हमेशा छोटी होती है, इस ग्रुप के साथ भी ऐसा ही हुआ, ग्रुप एडमिन गजेंद्र चौहान (गज्जू) पांच दोस्तों ने मिलकर शुरु हुआ यह ब्लड डोनर ग्रुप यह ग्रुप अब तीन राज्यों तक पहुंच गया। इसमें 300 लड़कियों के साथ ढाई हजार ब्लड डोनर हैं। कई विदेशी ब्लड डोनर भी जुड़ गए हैं। यह युवा अब तक लगभग तीन हजार जिंदगियां बचा चुके हैं। एक-एक मरीज को दस से लेकर 38 यूनिट रक्त देने तक का रिकार्ड इनके नाम है। इनके वाट्स एप ग्रुप का नंबर है 9893344697 ।

 

ऐसे हुई शुरूआत
चौहान बताते हैं कि 24 अप्रैल 2015 को वह जिला अस्पताल गए थे। जहां ब्लड के लिए मां-बेटी को परेशान होते देखा। पहले रक्तदान किया, दोस्तों के साथ मिलकर ग्रुप बनाया। अब यह कारवां 2500 युवाओं का है। एक कॉल और मैसेज पर रक्तदान के लिए पहुंच जाते हैं। गज्जू बताते हैं, 19 साल की उम्र से सेवा का यह काम शुरू किया है।

यहां के युवा जुड़े
उनसे प्रभावित होकर इंडोनेशिया के युवा तक ग्रुप से जुड़े हैं। यह ग्रुप होशंगाबाद, हरदा, रायसेन, भोपाल, जबलपुर, इंदौर, महाराष्ट, और दिल्ली में काम कर रहा है। पहले यहां के युवा जुड़े, फिर इसी नाम से वहां अलग ग्रुप बना लिया। सभी ग्रुप से गज्जू जुड़े हुए हैं।

 

जब तत्काल रक्त उपलब्ध कराया
फेसबुक पर भी इसी नाम से ग्रुप चलता है। चौहान ने बताया कि होशंगाबाद के सेठा हॉस्पिटल में एक 16 साल की लड़की मौत से जुझ रही थी, उसे ब्लड चाहिए था। ग्रुप पर संदेश मिला तत्काल पांच यूनिट ब्लड उपलब्ध कराया। इसी तरह वर्ष 2016 में पांडे अस्पताल में गर्भवती महिला को ब्लीडिंग होने पर 38 यूनिट और मालवीय अस्पताल में एक अन्य गर्भवती महिला के 15 हजार प्लेटलेट्स रह जाने पर 10 यूनिट प्लेटलेट्स उपलब्ध कराए थे। अब उनका ग्रुप पूरे शहर में फेमस है। किसी को भी खून की जरूरत होती है, मैसेज कर देता है। टीम का कोई भी सदस्य दान कर आता है।

कुछ खास केस
- बैतूल के पास पाढऱ हॉस्पिटल जहाँ एक महिला का ऑपरेशन होना था महिला को पॉजिटिव ब्लड की जरूरत थी महिला करीब 5 दिनों से ब्लड के लिए परेशान थी सूचना मिलने पर होशंगाबाद से पाढऱ जाकर 4यूनिट पोजिटिव ब्लड डोनेट किया गया

- पांडे हॉस्पिटल में अभी कुछ दिनों पहले ही बाबई की एक महिला पेशेन्ट जिन्हें डिलेवरी के बाद ष्ठद्बष् होजाने के कारण महिला की ब्लडिंग रुक नही रही थी महिला का ब्लड ग्रुप ह्रपॉजिटिव थासूचना मिलने पर ग्रुप के माध्यम से 13यूनिट ह्र पॉजिटव और 16यूनिट उपलब्ध कराई गई। जिसमें महिला के पूरे परिवर ने भी आगे आकर रक्तदान किया।

- मालवीय हॉस्पिटल में एडमिट महिला जिनका हीमोग्लोबिन कम हो गया था महिला का ब्लड ग्रुप ओपॉजिटिव था। महिला की ब्लड प्लेट्स मात्र 15हज़ार ही बची हुईथी जरूरत पडऩे पर 10यूनिट ओपॉजिटिव रक्त उपलब्ध कराया गया। जिससे महिला कि जान बच गई।

*सरकारी हॉस्पिटल में एडमिट महिया पेशेन्ट जिनका हीमोग्लोबिन 4 ग्राम बचा था ्रड्ढ पॉजिटिव हॉस्पिटल में ना मिलने से काफी परेशान थी ग्रुप को सूचना मिलने पर रक्त उपलब्ध कराकर महिला की जान बचाई गई।

* मध्य प्रदेश रक्तदान ग्रुप पुलिस, सेना और एक्सीडेंट में घायलों के लिए 24सो घंटे तैयार रहता हैं अभी तक लगभग 2500-2600 से ज्यादा लोगो को दिलवा चुके है ब्लड ।।

।। मध्य प्रदेश रक्तदान ग्रुप द्वारा ऐसे 50 से अधिक बच्चे है जो एनीमिक ओर थैलीसीमिया नामक बीमारी पीडि़त है।।
ग्रुप द्वारा उन्हें गोद लिया गया हैं जिनमे a नेगेटिव, oपॉजिटिव, o पॉजिटव, ओपॉजिटिव जैसे लगभग सभी ब्लड ग्रुप के बच्चे है जिन्हें जरूरत पडऩे पर रक्त उपलब्ध कराया जाता है।

 

2018 में ग्रुप की उपलब्धियां
इस वर्ष 560 यूनिट ब्लड एवम 290 प्लेटलेट्स दान कर 743 मरीजों को नया जीवन दान दिया, 10 थैलेसिमिया और सिकिल सेल अनीमिया से पीडि़त बच्चो को गोद लिया जिन्हें हम हर माह रक्त दान करते है। इस वर्ष हमारे 184 नए रक्तदाता इस परिवार में शामिल हुए।

- इस वर्ष स्वास्थ परीक्षण, रक्त परीक्षण केंसर, हड्डी, नेत्र जैसी विमारियों के लिए कैम्प लगाए हैं।
हमने इस वर्ष ग्राम छेड़का में 12 बार ग्राम रूपादेह में 5 बार ,ग्राम सिलारी में 3 बार ,पोलिस लाइन होशंगाबाद में 1 बार एवम ग्राम डोलरिया में 1 बार केम्प लगाया है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned