बग्गी में सवार होकर दुल्हनिया चली दूल्हे को लेने, देखें वीडियो

बग्गी में सवार होकर दुल्हनिया चली दूल्हे को लेने, देखें वीडियो

poonam soni | Publish: Jun, 18 2019 12:49:50 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

बाराती बने सहेलियां, रिश्तेदार

इटारसी. आपने ज्यादातर दुल्हे को बग्गी में सवार होकर बारात लेकर दुल्हनिया को लेने जाते देखा होगा। लेकिन सोमवार को दुल्हनिया अपने दुल्हे को लेने बग्गी पर सवार होकर निकली। यह देखकर सिंधी कॉलोनी में सोमवार को लोग आश्चर्यचकित भी थे। यहां सिमरन बग्गी पर बैठी और परिवार के के साथ निकली। दरअसल सिंधी समाज की यह युवती अपनी बारात लेकर निकली थी। चेलानी परिवार ने अपनी बेटी सिमरन की शादी के अवसर पर डीजे की धुन पर बग्गी में बिठाकर सिमरन की बारात अपने घर से निकाली। मनोहरलाल चेलानी ने अपनी बिटिया सिमरन की बारात धूमधाम से निकालकर संदेश देने का प्रयास किया है कि बेटियां भी बेटों से कम नहीं और अब परंपरा बदलने की आवश्यकता है। सिमरन के पिता मनोहरलाल चेलानी शहर के प्रसिद्ध कमल

क्राकरी प्रतिष्ठान के संचालक हैं
सिंधी कॉलोनी स्थित चेलानी के निवास स्थान से संत कंवरराम सिंधु भवन लाया गया। पहला मौका है जब शहर में किसी युवती की बारात निकाली गई है। इस नई पहल को लेकर लोगों के बीच काफी बातें चल रही थी। सिमरन का विवाह आगामी 19 जून बुधवार को नागपुर में कमलेश के साथ संपन्न होगा।

भाई ने दी प्रेरणा
सिमरन ने बताया कि बारात निकालने की प्रेरणा उसके भाई कमल ने दी थी और जब यह बात उन्होंने अपने माता-पिता को बताई तो वह भी तैयार हो गए। सिमरन का कहना था कि बेटियां बेटों से कम नहीं और हर परिवार को अपनी बेटियों का ऐसे ही धूमधाम से बारात निकालकर विवाह करना चाहिए। सिमरन के ससुराल वालों को भी इससे कोई एतराज नहीं है। सिमरन ने कहा कि किसी युवती का विवाह हो तो उसकी भी इसी तरह बारात निकाली जाना चाहिए।

गांवों में निकलती है बिन्नाएकी
सिंधी कॉलोनी में सिमरन की बारात को लेकर सिंधी समाज के आश्चर्यजनक है लेकिन होशंगाबाद जिले के ग्रामीण अंचलों में यह प्रथा पुरानी है। इसे बिन्नाकी कहते हैं। गांव किसी भी युवती का विवाह होता है तो उसकी बारात आने से पहले युवती को बकायदा घोड़े पर बैठाकर ढोल ढमाकों के साथ घुमाते हैं जो बारात की तरह ही होता है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned