कब्र से शव निकालकर कराया मासूम का पीएम, जांच के लिए भेजा जाएगा बिसरा

कब्र से शव निकालकर कराया मासूम का पीएम, जांच के लिए भेजा जाएगा बिसरा

poonam soni | Updated: 16 May 2019, 04:29:09 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

बच्ची की संदिग्ध मौत का मामला

इटारसी. चार दिन पहले लापता हुई बालिका के मामले में कई सारे सवाल खड़े हो गए हैं। बुधवार को बच्ची का शव कब्र से निकाला गया। शव का पोस्टमार्टम कराया गया है, लेकिन फिलहाल पीएम से कुछ भी स्पष्ट नहीं हो पाया है क्योंकि शव पूरी तरह से सड़ चुका था। केसला के नदी मोहल्ला से शनिवार रात उमेश काजले की 3 वर्षीय बेटी परी गायब हो गई थी। परिजनों ने रात में तलाश की लेकिन परी का शव दूसरे दिन रविवार सुबह गांव के नाले के पास झांडियों में मिला। मृतक बालिका का पिता तमिलनाडू में मजदूरी करने गया है ऐसे में मां ने गांव के कुछ लोगों के दबाव में शव को दफना दिया। मामला उजागर होने के बाद मंगलवार को ग्राम कोटवार ने पुलिस और प्रशासन को सूचना दी।
एसडीएम की अनुमति से बुधवार को सुबह बच्ची का शव कब्र से निकवाया और उसका पीएम कराया गया। शव का पोस्टमार्टम किया गया है। चिकित्सक ने पीएम के बाद कोई राय नहीं दी है क्योंकि शव पूरी तरह से सड़ चुका था। अब पुलिस बिसरा को मेडिको लीगल जांच के लिए आगे भेजेगी। इसके बाद ही पूरा मामला स्पष्ट हो पाएगा।
संदिग्ध है मामला
इधर पुलिस मान रही है कि मामला संदिग्ध है। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस हर एंगल से जांच कर रही है। एसडीओपी उमेश द्विवेदी ने बताया कि मामला संदिग्ध है जांच की जा रही है।
यह उठ रहे सवाल
बच्ची अपनी चचेरी बहन के साथ थी जिसका कहना है कि कोई जानवर उठाकर ले गया तो बच्ची ने उस समय क्या किसी को इस बात की जानकारी नहीं दी ?
बच्ची का शव मिलने के बाद पुलिस को जानकारी क्यों नहीं दी गई ?
बच्ची को जल्दबाजी में क्यों दफना दिया गया?
ग्रामवासियों ने बच्ची को दफनाने के लिए क्यों दबाव बनाया?

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned