प्रमुख सचिव के बिगड़े बोल, प्रदेश के बारे में कह गई यह शब्द... पढ़े पूरी खबर

प्रमुख सचिव के बिगड़े बोल, प्रदेश के बारे में कह गई यह शब्द... पढ़े पूरी खबर

Manoj Kumar Kundoo | Updated: 14 May 2019, 12:05:36 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

मध्यप्रदेश को बताया गरीब, कहा- कमियां तो बनी रहेंगी हमेशा

होशंगाबाद. मध्यप्रदेश को विकसित प्रदेश की श्रेणी में खड़ा करने का दावा करने वाली भाजपा की पिछली शिवराज सरकार के दावों की पोल वर्तमान में कांग्रेस की कमलनाथ सरकार की एक प्रमुख सचिव स्वास्थ्य पल्लवी जैन ने खोल दी। बोली- मध्यप्रदेश गरीब है। यहां कमियां बनी रहेंगी। जैन ने सोमवार को जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। इस दौरान मिली खामियों के सवाल पर मुस्कुराते हुए बोली- कभी भी कोई चीज परफेक्ट नहीं होती है। न आप है और न मैं हूं। भारत देश है। गरीब प्रांत है, वो तो बनी रहेगी। सुधार की हर जगह गुंजाइश होती है। स्टॉफ और संसाधन की कमी है।
वह दोपहर 12 बजे अस्पताल पहुंची थी और डेढ़ घंटे तक रही। इस दौरान आयुष्मान पंजीयन कक्ष, दवा वितरण कक्ष, गायनिक ओपीडी, प्रसव कक्ष, एमरजेंसी ओपीडी, दंत चिकित्सा विभाग सहित मेडिकल, सर्जिकल और बर्न वार्ड का निरीक्षण किया।

परिजन धकेल रहे थे स्ट्रेचर, डॉक्टर ढो रहे थे सामान
पीएस के सामने मरीजों के परिजन स्ट्रेचर और व्हीलचेयर धकेलते मिले। सीएस डॉ. सुधीर डेहरिया ने सफ़ाई देते हुए पीएस को बताया कि वॉर्ड बॉय की कमी है। सिक्युरिटी सर्विस की जानकारी लेने पर बताया आउटसोर्स कर्मचारी रखे गए हैं। दंत चिकित्सा विभाग में इलाज के दौरान डॉ. जेपीएन चतुर्वेदी खुद ही उपकरण उठाकर ला रहे थे। पूछने पर बताया कि पैरामेडिकल स्टॉफ नहीं है। इधर मेडिकल वार्ड पहुंची पीएस को नर्सों ने नर्सिंग स्टॉफ और वॉर्ड बॉय की कमी से आ रही परेशानियां बताई।


मरीज से पूछा कैसा फील कर रहे हैं-
मेल मेडिकल वार्ड का निरीक्षण करने पहुंची पीएस पल्लवी जैन ने यहां भर्ती मरीज आरएस मालवीय से पूछा- कैसा फील कर रहे हैं। मरीज ने कहा- अच्छा। इसके बाद वह तुरंत वार्ड से बाहर आ गईं, कहां ज्यादा बात नहीं कर सकते। दूसरे मरीज डिस्टर्व होते हैं।

गुटखा चबा रहा था सफाईकर्मी, लगाई फटकार
निरीक्षण के दौरान सफाईकर्मी वीरेंद्र सारस्वाल ने पीएस से सुपरवाइजर की शिकायत करते हुए कहा कि सुपरवाइजर ज्यादा काम का दबाव बनाता है। विरोध करने पर काम से भगा देने की धमकी देता है। सफाईकर्मी को गुटखा चबाता देख पीएस भड़क गईं, उन्होंने कहा मुंह में क्या भरा है। काम नहीं करोगे तो क्या करेगा। अच्छे से काम करो।


निरीक्षण के दौरान हालात बयां करती तीन तस्वीरें-
हालात 01- सड़क हादसे में घायल सेमरीहरचंद निवासी भरत कहार (२२) को परिजन एक्सरे के लिए जिला अस्पताल लाए थे। अस्पताल में एक्सरे करने से मना कर दिया। परिजन मरीज को कंधे पर उठाकर ले गए।
हालात 02- : पैर में गंभीर चोट आने के बाद मरीज को अस्पताल लाया गया। जिसे पट्टी करने के बाद परिजन खुद स्ट्रेचर पर लेटाकर वार्ड में भर्ती कराने ले गए।
हालात 03- : पैर में फ्रेक्चर के बाद घायल को जिला अस्पताल लाए परिजन एक्सरे कराने के बाद उसे वार्ड में ले जा रहे थे। चैनल गेट में फंसे व्हीलचेयर को निकालने की जद्दोजहद करते परिजन।

सीधी बात : पीएस
सवाल : निरीक्षण में क्या खामियां मिली, कैसे दूर किया जाएगा।
जबाव : स्टॉफ और संसाधन की कमी है। सुधार की हर जगह गुंजाइश रहती है।
सवाल : डॉक्टर और स्टॉफ की कमी है। निरीक्षण के दौरान परिजन स्ट्रेचर धकेलते मिले।
जबाव : प्रदेश में नियुक्तियों की अनुमति मिलेगी तब वार्ड बॉय की कमी दूर करेंगे। स्पेशलिस्ट डाक्टरों की सीधी भर्ती के लिए कोशिश कर रहे हैं। एमडी मेडिसिन डाक्टर आना चाहते हैं, उन्हें दोगुना वेतन देकर लाने को तैयार हैं।
सवाल : अस्पताल का भवन जर्जर है, बिजली समस्या है।
जबाव : एचटी बिजली कनेक्शन करवा रहे हैं। नए भवन का प्रपोजल बनाया है। इस साल स्वीकृति मिलने की उम्मीद है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned