कलेक्टर साहब, स्कूल की बगल से हटवा दो शराब दुकान

कलेक्टर साहब, स्कूल की बगल से हटवा दो शराब दुकान

harinath dwivedi | Publish: Nov, 15 2017 02:34:06 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

सौ किलोमीटर दूर से जनसुनवाई में आई स्कूली छात्राएं बोली- आते-जाते नशेलची करते हैं तंग

होशंगाबाद. बाल दिवस पर हायर सेंकडरी स्कूल की छात्राओं ने कलेक्टर अविनाश लवानिया के सामने एक अलग तरह की डिमांड की। बोली- सर, हम सौ किलोमीटर दूर से आए हैं, आप तो हमारे स्कूल के पड़ोस में खुली देशी शराब की दुकान बंद करा दीजिए। हमारा वहां से निकलना तक मुश्किल है। आते-जाते शराबी बच्चियों से लेकर महिलाओं तक को तंग करते हैं। सात महीने पहले पंचायत भी सर्वसम्मति से शराब दुकान हटाने का प्रस्ताव पास कर प्रशासन को भेज चुकी है। लेकिन प्रशासन के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही।

दरअसल, तरौनकला गांव में हायर सेकेंडरी स्कूल से महज 200 मीटर दूरी पर ही देशी शराब की दुकान खुली हुई है। दुकान पंचायत भवन के सामने हैं। जिस पर सुबह से ही जमावड़ा लग जाता है। नशेलची पंचायत भवन में ही बैठकर शराब पीने लगते हैं। फिर नशे मे स्कूल आने-जाने वाली छात्राओं को तंग करते हैं। शराब दुकान से गांव की महिलाएं भी परेशान हैं। उनके पति काम धंधा न कर सुबह से शराब पीने बैठ जाते हैं। इसलिए गांव की सौ से अधिक छात्राएं एवं महिलाएं मंगलवार को कलेक्टर की जनसुनवाई में आई थी। उनके साथ भाजपा समर्थित गांव के सरपंच दिनेश सिंह एवं आशा कार्यकर्ता मालती रघुवंशी सहित महिलाएं भी थी।

गांव में कई छात्राओं ने छोड़ा स्कूल
गांव की महिलाएं बोलीं मुख्यमंत्री बोलते हंै, बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ, लेकिन हमें तो बेटी की इज्जत को बचाने की चिंता ज्यादा है। इसलिए कई बच्चियों को स्कूल भेजना बंद करना पड़ा है। हम मुख्यमंत्री से भी पूर्ण शराबबंदी लागू करने और हमारे गांव की शराब दुकान तुरंत हटवाने की मांग करते हैं।
आशा कार्यकर्ता चला रही शराबबंदी अभियान
गांव की आशा कार्यकर्ता मालती रघुवंशी महिलाओं के साथ मिलकर गांव में शराबबंदी के लिए अभियान चला रही है। रविवार को गांव के मंदिर पर चौपाल लगाकर थाना प्रभारी को भी बुलवाकर उन्हें शराबियों की हरकतों की शिकायत की। थाना प्रभारी ने भी ऐसे शराबियों को सबक सिखाने का भरोसा दिलाया है।
छात्राओं और सरपंच ने शराब दुकान से होने वाली दिक्कतें बताई है। एसडीएम पिपरिया से जल्द ही रिपोर्ट बुलाई जाएगी। आबकारी विभाग से भी जांच कराकर यथासंभव उक्त दुकान को स्कूल के समीप से हटाने के निर्देश दिए जाएंगे।
अविनाश लवानिया, कलेक्टर, होशंगाबाद

Ad Block is Banned