होशंगाबाद आई सीआईडी, बलात्कार के आरोपी थानेदार की जांच शुरू

डीएसपी की टीम ने पीडि़ता के लिए बयान, घटना स्थल पर ले जाकर की तस्दीक, महिला थाना दो माह बाद भी नहीं कर पाई थी गिरफ्तार, इनाम भी घोषित हुआ था, आरोपी उप निरीक्षक राजन गुर्जर हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत पाने में हो गया सफल

By: devendra awadhiya

Published: 14 Oct 2021, 12:43 PM IST

होशंगाबाद. रामपुरगुर्रा थाना के पूर्व थानेदार बलात्कार के आरोपी राजनसिंह गुर्जर के खिलाफ जिला पुलिस से मिली केस फाइल के बाद सीआईडी ने अपनी जांच-पड़ताल शुरू कर दी है। बुधवार सुबह करीब सवा 11 बजे भोपाल से डीएसपी की एक टीम होशंगाबाद आई। यहां महिला थाना में पीडि़ता के विस्तृत बयान दर्ज किए गए। इसके उपरांत पीडि़ता को साथ ले जाकर तिलकसेंदूर और तवा डैम के पास के घटना स्थल की तस्दीक की गई। देर शाम तक जांच होती रही। पीडि़ता के मुताबिक उक्त दोनों सुनसान स्थलों पर आरोपी थानेदार गुर्जर ने घुमाने के बहाने ले जाकर गलत काम किया था। बता दें कि आरोपी के परिजन जिला महिला थाना की जांच से संतुष्ट नहीं है। गुर्जर के भोपाल निवासी फुफेरे भाई नरेंद्र सिंह डीजीपी ऑफिस भोपाल में अपनी करते हुए निष्पक्ष जांच की मांग की थी। इसलिए सीआईडी की जांच हो रही है। गौरतलब ये भी है कि महिला थाना पुलिस आरोपी गुर्जर को दो माह बाद भी गिरफ्तार नहीं कर पाई, जबकि एसपी ने आरोपी पर इनाम भी घोषित किया था। लगातार फरारी काट रहा आरोपी गुर्जर इसी बीच हाईकोर्ट से सशर्त जमानत पाने में भी सफल हो गया।

जांच में नए तथ्यों को जोड़ा जाएगा
मामले की जांच-पड़ताल कर रहीं सीआईडी की डीएसपी शहनाज खान ने बताया कि जिला महिला थाना होशंगाबाद में पीडि़ता व उसकी बेटी को बुलाकर प्रकरण के संबंध में विस्तृत बयान लिए गए। जिसमें पीडि़ता ने घटनाक्रम के संबंध में जानकारी दी। इसके बाद टीम पीडि़ता को घटना स्थलों पर ले गई, जिसमें तिलक सेंदूर और तवा नगर के डैम के पास के सुनसान स्थल की तस्दीक कराई गई। डीएसपी शहनाज ने बताया कि आगे विवेचना में जो भी नई पाइंट सामने आएंगे, उसे केस फाइल में जोड़ा जाएगा। सीआईडी टीम में डीएसपी सहित निरीक्षक रीतेश मिश्रा, उप निरीक्षक व आरक्षक शामिल रहे।

युवक को ईंट मारकर किया घायल
बनखेड़ी. ग्राम चांदोन में एक चबूतरे पर सोकर मोबाइल फोन चला रहे युवक पर गांव के ही युवक के ईट से हमला कर घायल कर दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच में लिया है। प्रधान अरक्षक मनीराम पटेल ने बताया कि ग्राम चांदोन में सोमवार रात को साहू मोहल्ला स्थित एक चबूतरे पर गांव का 27 वर्षीय युवक लेट कर मोबाइल चला रहा था। तभी गांव के ही एक युवक ने चुपचाप पीछे से आ कर ईट से बार कर दिया। जिससे फरियादी को मुंह में आंख और नाक में चोट आई। जब फरियादी ने तुरंत आरोपी से पूछा कि मुझे क्यों मारा तो वह फिर से मारपीट करने लगा। गांव के ही कुछ लोगों ने बीच-बचाव भी किया। घटना सोमवार रात 8 बजे की है। बनखेड़ी पुलिस ने घटना की रात को ही करीब 10 बजे फरियादी दैनिक कुमार सोनी की रिपोर्ट पर आरोपी नवीन कतिया के विरुद्ध मारपीट का केस दर्ज किया है।

दहेज के लिये परेशान करने पर केस दर्ज
पिपरिया.सरदार वार्ड निवासी महिला ने अपने पति व ससुराल वालों पर दहेज को लेकर प्रताडि़त करने शिकायत पुलिस से की है। मंगलवारा पुलिस ने बताया कि तसलीम बी पति इसरार अहमद उम्र 25वर्ष निवास सरदार वार्ड ने बताया कि ससुराल पक्ष मे पति इसरार अहमद सास,ससुर के द्वारा दहेज को लेकर मानसिक शारीरिक रूप से प्रताडि़त किया गया। मारपीट कर जान से मारने की धमकी दी गई। 3 नवंबर 20 से अभी तक तसलीम बी को परेशान करने की शिकायत की गई। पुलिस ने 498ए,323,506,34 आईपीसी एवं दहेज एक्ट,धारा 3,4 के तहत प्रकरण दर्ज किया है।

सट्टा लिखते दो युवक गिरफ्तार
पिपरिया. शास्त्री वार्ड मे अलग अलग स्थानंो पर सट्टा लिखते दो लोगों को गिरफ्तार कर सट्टा एक्ट की कार्रवाई की गई। मंगलवारा पुलिस ने बताया कि शास्त्री वार्ड निवासी सोनू उर्फ मकोडी खटिक पिता गोवर्धन खटिक से सट्टा सामग्री एवं 850रूपये नगदी,अवधेश पिता रघुजी रघुवंशी से सट्टा सामग्री व 645रूपये जप्त कर सट्टा एक्ट का प्रकरण दर्ज किया गया है।

कर्ज से परेशान युवक ने टे्रन से कटकर की आत्महत्या

होशंगाबाद. बैंक के कर्ज से परेशान अर्पित नगर रसूलिया निवासी अंडे का ठेला लगाने वाले युवक मुकेश मेहरा (35) ने टे्रन से कटकर आत्महत्या कर ली। मृतक के क्षत-विक्षत शव को देहात पुलिस ने सोमवार को बरामद किया था। पेंट की जेब से सुसाइड नोट भी मिला है। परिजनों से शव की पहचान कराकर मर्ग कायम किया गया है। टीआई अनूप सिंह नैन ने बताया कि होशंगाबाद-पवारखेड़ा के बीच के रेलवे टै्रक से मिले शव की शिनाख्त कर ली गई है। मृतक अर्पित नगर निवासी 35 वर्षीय मुकेश पिता विष्णुप्रसाद मेहरा था। वह घर से दाढ़ी बनवाने का कहकर निकला था, लेकिन वापस नहीं पहुंचा तो परिजनों ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने थाने आए थे। उन्हें एक अज्ञात व्यक्ति का शव रेलवे टै्रक पर मिलने की जानकारी दी गई। परिजन ने शव को देखकर हाथ के कड़े और कपड़े से पहचान कर इसे मुकेश मेहरा का होना बताया। परिजनों ने पुलिस को जानकारी दी कि मुकेश एसपीएम गेट नंबर चार के पास अंडे का ठेला चलाता था। उस पर बैंक का कर्ज भी था। बैंक वाले उसे किस्त की वसूली के लिए कई दिनों से मानसिक रूप से प्रताडि़त कर रहे थे। सोमवार से वह लापता था। मृतक के पेंट की जेब में से एक पन्न का कटा-फटा सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है।

devendra awadhiya Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned