अश्लील वीडियो बनाकर अंतरराष्ट्रीय कराते प्रशिक्षकों ने कॉलेज की छात्रा से किया दुष्कृत्य

चैंजिंग रुप में कपड़े बदलते समय बनाया था वीडियो, पुलिस ने एक को भेजा जेल

By: gurudatt rajvaidya

Published: 11 Dec 2017, 01:39 PM IST

हरदा। जिले के दो अलग-अलग गांवों की दो छात्राओं ने शहर के अंतरराष्ट्रीय कराते प्रशिक्षकों पर अश्लील वीडियो बनाकर छेडख़ानी एवं दुष्कृत्य करने के संगीन मामले शहर कोतवाली में दर्ज कराए। रविवार को पुलिस ने एक आरोपी को पकड़कर कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेजा है। इसके अलावा दूसरे फरार कोच को पकडऩे के लिए पुलिस द्वारा जगह-जगह दबिश दी जा रही है। दोनों छात्राएं महाविद्यालय में पढ़ती हैं। दोनों प्रशिक्षकों द्वारा कराते खिलाडिय़ों को नेपाल में हुई अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में ले जाया गया था।
वीडियो दिखाकर होटल और खेत में किया बलात्कार
छात्रा ने पुलिस रिपोर्ट में बताया कि उसने नेहरू स्टेडियम पर प्रशिक्षक युसूफ मंसूरी के पास प्रशिक्षण लेने के लिए जाने लगी थी। इसके बाद निलेश ने अश्लील वीडियो मंसूरी को दे दिया था। युसूफ ने युवती का वीडियो बताकर थाने में एफआईआर होने का कहते हुए बचाने का आश्वासन दिया था। छात्रा ने बताया कि प्रशिक्षक युसूफ ने उसे रेलवे स्टेशन के करीब स्थित एक होटल में बुलाकर उसके साथ ज्यादती की थी, वहीं वीडियो भी बनाया था। दूसरी बार उसने फिर से छात्रा को होटल का वीडियो दिखाकर खेत में दुष्कृत्य किया था। छात्रा ने अपने साथ हो रहे शारीरिक शोषण के बारे में साथी छात्राओं को बताया तो उन्होंने भी दोनों के द्वारा उनके साथ कृत्य करने की बात कही। छात्रा ने कहा कि उसने अपनी सहेलियों की मदद से थाने पहुंचकर निलेश सेन और युसूफ मंसूरी के शारीरिक शोषण की घटनाएं बताईं। टीआई त्यागी ने बताया कि छात्रा की रिपोर्ट पर निलेश पर धारा ३७६ तथा युसूफ पर दो बार शारीरिक शोषण किए जाने पर धारा ३७६ (एन), ३७६ (घ) का मामला कायम किया।

कमरे में कपड़े बदलते समय बनाया था वीडियो
नगर निरीक्षक पंकज त्यागी ने बताया कि जिले के एक गांव में रहने वाली कॉलेज की एक छात्रा अंतरराष्ट्रीय कराते प्रशिक्षक निलेश सेन के पास कराते सीखने के लिए आती थी। लगभग 6 माह पूर्व छात्रा कराते सीखने के पहले कमरे में कपड़े बदल रही थी, तभी निलेश ने उसका वीडियो बना लिया था। इसके बाद उसने छात्रा को वीडियो दिखाकर उसे इंटरनेट पर वायरल करने की धमकी दी थी। इसके अलावा निलेश ने दूसरे जिले में हुई प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए पांच लड़कियों को ले गया था। वहां पर स्थित वाटर पार्क के स्वीमिंग पुल में नहाने के बाद छात्रा के साथ एक अश्लील फोटो भी खिंचवाया था। निलेश ने छात्रा को पूर्व में बनाए गए वीडियो और स्वीमिंग पुल की अश्लील फोटो बताकर उन्हें इंटरनेट पर वायरल करने का धमकाते हुए ब्लेकमैल किया था। घबराई छात्रा का फायदा उठाकर निलेश ने उसका शारीरिक शोषण भी किया। प्रतियोगिता से लौटने के कुछ दिन बाद स्वीमिंग पुल और होटल की फोटो को व्हाट्सअप पर वायरल किया गया था, जिसकी थाने में शिकायत भी पहुंची थी, लेकिन राजनीतिक हस्तक्षेप के चलते मामला दबा दिया गया था। इसके बाद उक्त छात्रा ने सेन के पास से प्रशिक्षण लेना बंद कर दिया था। निलेश वर्तमान में शासकीय कॉलेज में छात्र-छात्राओं को प्रशिक्षण दे रहा था।

प्रशिक्षण देते समय करता अश्लील हरकतें
पुलिस ने बताया कि एक अन्य गांव की बीए तृतीय वर्ष की छात्रा ने भी निलेश सेन पर छेडख़ानी करने और जान से मारने की धमकी देने की रिपोर्ट दर्ज कराई है। छात्रा ने बताया कि कराते का प्रशिक्षण देने के लिए उसकी पत्नी रेणुका सेन को रखा गया था, लेकिन वह लड़कियों को प्रशिक्षण दे रहा था। प्रशिक्षण देते समय निलेश अश्लील हरकतें भी करता था। जिसका उसने विरोध किया था। वहीं आठ दिन पहले उसने निलेश की इस हरकत की शिकायत कॉलेज प्राचार्य से भी की थी। इसके बाद वह बस में बैठकर अपने घर जा रहा थी, तभी उसने बाइक से आकर बस रुकवाकर शिकायत वापस लेने का कहते हुए जान से मारने की धमकी दी थी। छात्रा की रिपोर्ट पर पुलिस ने निलेश सेन के खिलाफ धारा ३५४ (ए), ५०६, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति ३ (२) (व्हीए) तथा अजा एवं अजजा ३ (१) (डब्ल्यू) (आई) का प्रकरण कायम किया।

gurudatt rajvaidya Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned