scriptCommon people have to worry about traveling for two days | आम जनों को दो दिन यात्रा के लिए होना पड़ रहा परेशान, टैक्सियों के महंगे किराए की मजबूरी | Patrika News

आम जनों को दो दिन यात्रा के लिए होना पड़ रहा परेशान, टैक्सियों के महंगे किराए की मजबूरी

प्रशासन ने 350 बसें हायर की, भाजपा ने जुटाई भीड़, 14 हजार का टारगेट

होशंगाबाद

Published: November 15, 2021 12:38:30 pm

होशंगाबाद. आम जन को अपने आकस्मिक कार्यों से भोपाल आवागमन में दो दिन परेशानी झेलनी पड़ेगी। क्योंकि प्रशासन ने 350 बसों को भोपाल की रैली व कार्यक्रम में 14 हजार लोगों को भोपाल ले जाने के लिए अधिग्रहित किया हुआ है। दस से 20 प्रतिशत बसें ही आम यात्रियों के लिए उपलब्ध हो सकेगी। टे्रनों की सुविधा चालू नहीं होने से लोगों को टैक्सियों में महंगा किराया देकर अपने आवश्यक-आकस्मिक कार्यों के लिए भोपाल आदि स्थानों पर आवागमन करना पड़ेगा। भीड़ जुटाने के लिए भाजपा ने एक दिन पहले तक पूरी ताकत झोंक दी। बसें परिवहन विभाग के जरिए होशंगाबाद सहित आसपास के पांच जिलों से जुटाई गई। देर शाम से लोगों को भोपाल ले जाए जाने का सिलसिला शुरू हो गया था, जो देर रात व सुबह तक जारी रहा। भाजपा ने भी बाकायदा प्रेस नोट जारी कर लोगों ने भोपाल चलने का आव्हान किया। इधर, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी मनोज तेहनगुरिया के मुताबिक भोपाल में जनजातीय गौरव दिवस पर आयोजित जनजातीय वर्ग के महासम्मेलन के संदर्भ में करीब 350 बसें अधिग्रहित की गई है।

इन जगहों व रूटों से जा रही बसें
जानकारी के मुताबिक होशंगाबाद की 120, जबलपुर, भोपाल और इंदौर, बैतूल, हरदा आदि स्थानों से 250 बसें हायर की गई है। होशंगाबाद सहित बैतूल, हरदा, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी से भी सवारी वाहनों को बुला लिया है। जबलपुर से बुलाई बसों को बनखेड़ी-पिपरिया के पास एवं इंदौर से की गाडिय़ों को सिवनीमालवा भल्लाय के पास एवं भोपाल की गाडिय़ों को होशंगाबाद-बाबई के आसपास खड़ी कराकर इनमें तहसील कार्यालयों के हिसाब से लोगों को बैठाकर ले जा जाया जा रहा था। बस मालिकों को भोपाल ले जाने और वापस लाने के लिए 45 रुपए किलोमीटर का किराया दिया जाएगा।

आम यात्रियों को होगी दो दिन परेशानी
आम यात्रियों को बचे हुए साधनों से यात्रा करना पड़ेगा, क्योंकि 80 फीसदी बसें भोपाल रैली-सभा में एंगेज हो गई है। लोगों को टे्रन व टैक्सियों पर निर्भर रहना पड़ेगा। जो बची हुई 20 फीसदी बसें हैं उसमें तुरंत यात्रा की सुविधा नहीं मिल पाएगी। हर पांच-दस मिनिट में मिलने वाली बसों के लिए आधे से एक घंटे का इंतजार करना पड़ेगा। इसमें भी बैठने के लिए सीटें मिलना मुश्किल रहेगी। खड़े होकर ही यात्रा करनी पड़ेगी।

भाजपा ने किया भोपाल चलने का आव्हान
इधर जिला भाजपा ने लोगों से भोपाल चलने का आव्हान किया। पार्टी जिलाध्यक्ष माधवदास अग्रवाल ने प्रेस नोट जारी कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुख्यातित्य में 15 नवंबर को होने जंबूरी मैदान में आयोजित जनजातीय गौरव दिवस सम्मेलन में सोमवार सुबह 10 बजे तक कार्यक्रम स्थल पर अधिक से अधिक संख्या में पहुंच कर ऐतिहासिक कार्यक्रम भागीदार बनने की अपील की। अग्रवाल ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा भगवान बिरसा मुंडा जयंती के उपलक्ष में अनेकों सौगातें प्रदेशवासियों को दी जावेगी। हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम परिवर्तन और एक ऐसा स्टेशन जो पूरे देश में एकमात्र सर्वश्रेष्ठ स्टेशन है उसके लोकार्पण भी होगा। जनजातीय गौरव दिवस पर आयोजित जनजातीय वर्ग का महासम्मेलन प्रदेश के आदिवासी जनजातीय समाज को नई दिशा और सम्मान देने का अपने आप में अनूठा समागम होगा।

कांग्रेस ने सवाल उठाए, बांद्राभान मेले को भी मिले अनुमति
इधर, कांग्रेस पार्टी ने भोपाल के महासम्मेलन के नाम पर सरकारी धन पर लोगों की भीड़ जुटाने पर सवाल उठाए। जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष अरुण दीक्षित ने जारी प्रेस बयान में कहा कि 15 नवंबर को भोपाल में होने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम पर सरकार द्वारा विभिन्न मदों में 12 करोड़ 92 लाख 85, हजार की धनराशि आवंटित की है। मात्र भीड़ इक_ा करने के लिए उक्त धनराशि का व्यय किया जा रहा है, जो अनुचित है। इसी के विपरीत नर्मदा अंचल का प्रसिद्ध मेला धार्मिक आस्था का प्रतीक बांद्राभान के मेले को निरस्त करना धार्मिक भावना पर कुठाराघात है। एक और शासन द्वारा यह कहा जा रहा है कि कोरोना की वजह से बांद्राभान मेला स्थगित किया गया है, वहीं दूसरी ओर लगभग ढाई लाख लोगों की भीड़ इक_ी करने में कोई कोरोना का प्रभाव नहीं। आश्चर्य है कि सरकार दोहरी नीति को प्रोत्साहित कर आयोजन स्थगित कर रही जो हमारी भावना के साथ खिलवाड़ है।
...........
आम जनों को दो दिन यात्रा के लिए होना पड़ रहा परेशान, टैक्सियों के महंगे किराए की मजबूरी
आम जनों को दो दिन यात्रा के लिए होना पड़ रहा परेशान, टैक्सियों के महंगे किराए की मजबूरी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.