जब कंप्यूटर बाबा पहुंचे अवैध उत्खनन रूकवाने, बीच नदी में हुआ ऐसा

जब कंप्यूटर बाबा पहुंचे अवैध उत्खनन रूकवाने, बीच नदी में हुआ ऐसा

Sandeep Nayak | Updated: 16 Jun 2019, 10:05:04 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

¢बाबा के कहने के बाद भी आधा घंटे देरी से पहुंची बोट

होशंगाबाद। इन दिनों कंप्यूटर बाबा सुर्खियों में हैं। रविवार को एक बार फिर वह सुर्खियों में रहे। कारण था नर्मदा किनारे हो रहे अवैध खनन को रोकने के लिए उनका होशंगाबाद पहुंचना।
नर्मदा न्यास के प्रदेशाध्यक्ष कम्प्यूटर बाबा रविवार को होशंगाबाद में शाम को पहुंचे। दौरे के दौरान उन्होंने सर्किट हाउस में मीडिया से बातचीत की। इस दौरान नर्मदा नदी में रेत का अवैध उत्खनन करने वालों पर सख्त कार्रवाई करने के लिए संकेत दिए। मीडिया ने उनसे सर्किट हाउस के सामने बुदनी के जोशीपुर में रेत का अवैध उत्खनन को लेकर सवाल क्या पूछा, बाबा तुरंत ही चर्चा समाप्त कर बोट मंगाकर कार्रवाई के लिए उस ओर जाने की तैयारी की। इसके लिए सर्किट हाउस घाट से करीब 7 बजे उन्होंने सिहोर कलेक्टर को फोन लगा कर जोशीपुर में अवैध रेत भंडारण को लेकर जानकारियां दी। वहीं खुद भी मीडिया और होशंगाबाद के एसडीएम आरएस बघेल, तहसीलदार शैलेंद्र बडोनिया के साथ निकल गए। लेकिन करीब 30 मिनट देरी से पहुंची बोट नर्मदा नदी में कुछ दूरी तय नहीं कर सकी और नदी में पानी कम होने के कारण रेत में फंस गई। इसके कारण बाबा के साथ पूरी टीम को आधे रास्ते से ही वापस लौटना पड़ गया।

 

Computer baba stopped the illegal excavation

पहले सीहोर भी पहुंचे थे
होशंगाबाद आने के पहले कंप्यूटर बाबा सीहोर भी पहुंचे थे। कम्प्यूटर बाबा ने अचानक सीहोर पहुंचकर नर्मदा घाटों का किया निरीक्षण। यहां पर उन्होंने नर्मदा नदी से हो रहे रेत के अवैध उत्खनन को देख जताई नाराजगी। इस दौरान उन्होंने नर्मदा के जहाजपुर, बाबरी, डिमावर घाट का निरीक्षण किया था। बाबा ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के बुदनी में ही सबसे ज्यादा अवैध रेत उत्खनन हो रहा है। उन्होंने कहा कि शिवराज सरकार के समय जो रेत का अवैध उत्खनन हुआ उसकी भरपाई करना बहुत मुश्किल है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned