आमना-सामना : धरना प्रदर्शन में प्रदेश सरकार पर आंगनबाड़ी संघ ने लगाए आरोप, सफाई देते रहे कांग्रेसी

आमना-सामना : धरना प्रदर्शन में प्रदेश सरकार पर आंगनबाड़ी संघ ने लगाए आरोप, सफाई देते रहे कांग्रेसी
Confrontation: Anganwadi Sangh imposed on the state government in protest against allegations, Congressmen giving a clean chit

Manoj Kumar Kundoo | Updated: 23 Jul 2019, 08:58:13 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

कांग्रेस के टेंट में बिना परमिशन बैठ गए थे आंगनबाड़ी कार्यकर्ता

 

होशंगाबाद.
कलेक्ट्रेट रोड स्थित पीपल चौक पर एक समय में एक साथ दो धरना होने से सोमवार को विवाद की स्थिति बन गईं। धरना स्थल को लेकर कांग्रेस और आंगनबाड़ी संघ आमने-सामने आ गया। प्रदर्शन के दौरान आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार पर मानदेय में कटौती करने का आरोप लगाया तो कांग्रेस नेता भी मंच से सफाई देने लगे। धरना प्रदर्शन के लिए पीपल चौक पर सुबह ११ बजे कांगे्रस ने टेंट लगा दिया था। जिसमें आंगनबाड़ी कार्यकर्ता संघ बिना परमिशन धरने पर बैठ गया था। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हटाने की कोशिश की तो आंगनबाड़ी संघ पदाधिकारियों ने कहा- धरना यहीं होगा चाहे जेल जाना पड़े। इसके बाद कांग्रेस ने पूरे चबूतरे पर लगाया टेंट आधे में समेट लिया और आधे हिस्से में कांग्रेस व बचे हिस्से में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता संघ का धरना हुआ।
------
इसलिए बन रही थी विवाद की स्थिति विरोध प्रदर्शन के दौरान आंगनबाड़ी कल्याण संघ प्रदेश सरकार द्वारा मानदेय और जिला कांगे्रस ने केंद्र सरकार द्वारा मप्र के बजट में की गई २६७७ करोड़ की कटौती पर विरोध जताने धरना दिया था। दोपहर २ बजे दोनों ही संगठन के नेता माइक पर बोल रहे थे। जिससे सुनने वाले कार्यकर्ताओं को कुछ समझ नहीं आ रहा था। इसी बात पर फिर विवाद की स्थिति बनी। मौके पर पहुंची पुलिस ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को समझाइश दी, जिसके बाद शांतिपूर्ण धरना हुआ।
-----
आमना-सामना...
आंगनबाड़ी संघ - कमलनाथ सरकार ने अतिरिक्त मानदेय में २ हजार रुपए की कटौती कर दी है। पहले ७ हजार रुपए मिलता था, जिसे पांच हजार किया गया है।
कांग्रेस - ये सौतेला व्यवहार मोदी सरकार ने किया है। कहीं रेबड़ी बांट दी तो कहीं चना भी नहीं दिया। मप्र सरकार के बजट में २६७७ करोड़ की कटौती की गई है। इसी वजह से दिक्कत आ रही है।

आंगनबाड़ी संघ - मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा था सरकार बनते ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मिनी कार्यकर्ता व सहायिकाओं को नियमित कर्मचारी बनाएंगे। सरकार बने छह माह हो गए।
कांग्रेस - कांग्रेस आपके साथ है। आप शांति बनाए रखें। वचन पत्र में की गई बातों को पूरा करेंगे।
--------------
स्थानीय वचन पत्र बनाएगी कांगे्रस

कांगे्रस के पूर्व जिलाध्यक्ष कपिल फौजदार ने कहा कि आगामी नपा चुनाव में जनता की समस्याओं से जुड़ा स्थानीय वचन-पत्र बनाएंगे। जिसे लेकर जनता के बीच जाएंगे। कांग्रेस की नपा बनी तो वचन-पत्र के मुताबिक काम होंगे। धरना प्रदर्शन में चंद्रगोपाल मलैया, शरीफ राइन, अशोक जैन, बाबू चौधरी, हेमू कश्यप सहित अन्य कांग्रेस नेता मौजूद थे।
--------------
इनका कहना है...
आंगनबाड़ी संघ के पास धरना प्रदर्शन की परमिशन नहीं थी। महिलाएं अपनी समस्याओं को लेकर प्रदर्शन करने आई थी। इसलिए हमने उन्हें जगह दी। सवालों का जबाव देते हुए बताया कि बजट में कटौती से समस्याएं आ रही है।
-कपिल फौजदार, पूर्व जिलाध्यक्ष कांग्रेस।
----
१९ जुलाई को धरना प्रदर्शन की सूचना प्रशासन को दे दी थी। हमें परमिशन नहीं दी गई। कांगे्रस कार्यकर्ता हमें धरना स्थल से हटा रहे थे। हमने भी साफ कह दिया धरना यहीं होगा। कांग्रेस नेताओं से सवाल किए और जबाव मांगा।
-सुमित्रा अहिरवार, प्रदेश अध्यक्ष आंगनबाड़ी कार्यकर्ता संघ।
-----
इनका कहना है...
एक ही स्थल पर दो धरना कार्यक्रम होने से विवाद की स्थिति बनी थी। मौके पर जाकर आंगनबाड़ी संघ पदाधिकारियों को समझाइश दी। जिसके बाद शांतिपूर्ण धरना प्रदर्शन हुआ।
-विक्रम रजक, टीआई कोतवाली।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned