पीएम मोदी के लिए किया मंच संचालन, काम से ही धोना पड़ा हाथ

पीएम मोदी के लिए किया मंच संचालन, काम से ही धोना पड़ा हाथ
पीएम मोदी के लिए किया मंच संचालन, काम से ही धोना पड़ा हाथ

poonam soni | Updated: 18 Sep 2019, 03:20:57 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

- लोकसभा चुनाव के दौरान इटारसी में आमसभा ली थी प्रधानमंत्री ने, कलेक्टर ने सदस्य को नोटिस जारी कर किया था जवाब-तलब

होशंगाबाद/ राज्य सरकार ने लोकसभा चुनाव के दौरान इटारसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आमसभा के मंच का संचालन करने पर होशंगाबाद जिला उपभोक्ता फोरम के सदस्य दिनेश शर्मा को पद से हटा दिया। जांच में उनकी राजनीतिक कार्यक्रमों में संलिप्पता की पुष्टि होने पर यह कार्रवाई की गई। इससे पूर्व कलेक्टर ने शर्मा को कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब-तलब भी किया था।

इस समय किया था मंच संचालन
ज्ञात रहे कि लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक मई 2019 को इटारसी आए थे। यहां उनके मंच का संचालक फोरम के सदस्य दिनेश शर्मा ने किया था। सहायक निर्वाचन अधिकारी एवं एसडीएम द्वारा दी गई रिपोर्ट में भी इसकी पुष्टि की गई थी। इसके बाद कलेक्टर ने 29 मई को कारण बताओ नोटिस जारी किया था। शर्मा ने नोटिस का जवाब दिया था जिसे कलेक्टर ने संतोषजनक नहीं पाया गया था।

कलेक्टर के स्पष्टीकरण पर नहीं पहुंचे थे

इसलिए शर्मा को 19 जून को पेश होकर स्पष्टीकरण देने का कहा गया था, लेकिन वह हाजिर नहीं हुए। कलेक्टर ने आरोप सही पाए जाने पर शासन को रिपोर्ट भेज दी थी। इस आधार पर खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग ने दिनेश शर्मा की सितंबर माह से ही सेवाएं समाप्त करने के आदेश जारी कर दिए हैं।

भाजपा नेत्री ने की थी शिकायत

भाजपा संगठन के कार्यक्रमों में शामिल होने और पार्टी के मंच संचालन पर की गई इस कार्रवाई में रोचक तथ्य यह है कि इसकी शिकायत भी भाजपा नेत्री सीमा कैथवास ने की थी। सीमा विधानसभा चुनाव में पिपरिया सीट से टिकट मांग रही थी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned