सुहास भगत: सीमा में रहे नेता, एक-दूसरे का करें सम्मान

harinath dwivedi

Publish: Nov, 15 2017 02:02:26 (IST)

Hoshangabad, Madhya Pradesh, India
सुहास भगत: सीमा में रहे नेता, एक-दूसरे का करें सम्मान

विधानसभा अध्यक्ष और नगर पालिका अध्यक्ष के विवाद पर जताई नाराजगी, अनुशासन का पढ़ाया पाठ, एक-दूसरे के काम में न दें दखल, अपना-अपना काम करें

होशंगाबाद. भाजपा के प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत मंगलवार को हेड मास्टर के रोल में नजर आए। उन्होंने विधायक, अन्य जनप्रतिनिधि और पार्टी पदाधिकारियों की जमकर क्लास ली। वरिष्ठ नेताओं से लेकर कार्यकर्ताओं तक को सीमा में रहने की नसीहत देते हुए अनुशासन का पाठ पढ़ाया। बोले- अपना-अपना काम करो। दूसरे के काम में दखल मत दो और एक-दूसरे का सम्मान करो।
भगत ने इशारों में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीतशारण शर्मा और नगर पालिका अध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल के बीच चल रहे आरोप-प्रत्यारोप पर भी नाराजगी जाहिर कर दी। बोले- मीडिया में बोलने से पहले पार्टी से से बात करें। जिलाध्यक्ष से अनुमति लें, तभी अनुशासन बना रहेगा। भगत मंगलवार को होशंगाबाद जिला कार्यालय में संभाग के सभी विधायक, सहकारी बैंक, नगर पालिका, जिला पंचायत और जनपद पंचायत अध्यक्षों सहित प्रमुख पदाधिकारियों की बैठक ले रहे थे। पहली बैठक में पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता और विधायक सहित 22 लोग मौजूद थे। इसके सहित छह सत्रों में मोर्चा और प्रकोष्ठ से लेकर आईटी सेल एव मंडल तक की बैठकें ली।
प्रदेश संगठन महामंत्री ने कहा कि वरिष्ठ नेता हो या कार्यकर्ता सभी कुछ बोलने से पहले अपनी सीमा का ध्यान रखें। सबकी छवि अनुशासन से ही निर्धारित होती है। मीडिया से बात करने से पहले मंडल अध्यक्ष तक जिलाध्यक्ष से अनुमति लें। इससे पार्टी का अनुशासन बना रहेगा। विधानसभा अध्यक्ष और नगर पालिका अध्यक्ष के बीच चल रहे विवाद का पटाक्षेप करने के लिए संगठन मंत्री और जिला अध्यक्ष को अधिकृत किया।

महामंत्री के फरमान

सभी जनप्रतिनिधि पोलिंग एजेंटों के घर और पोलिंग बूथ तक जाएं।
सभी पार्टी पदाधिकारी अपने अनुभव निचले स्तर के कार्यकर्ताओं से बांटे।
नए कार्यकर्ताओं को तैयार करें।
मोर्चा और प्रकोष्ठ के पदाधिकारी डायरी मेंटेन करें। जिसमें रोज के कार्यों को लिखें।
आईटी टीम सभी कार्यकर्ताओं को फेसबुक, ट्विटर, इंट्राग्राम और अन्य सोशल नेटवर्क से जोड़े। यूथ पर फोकस करे। कार्यकर्ताओं को लोगों तक पहुंचने का कहे।
प्रदेश सरकार की योजनाओं का लाभ आमजन तक पहुंचाने का काम करें। जिला प्रबंध समिति के देखे कि हर प्रकोष्ठ लोगों तक योजनाओं का लाभ पहुंचाएं।
नहीं आए सांसद
सांसद राव उदयप्रताप सिंह बैठक से नदारद थे। उन्होंने बताया कि वे नरसिंहपुर में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने गए थे, इसकी संगठन महामंत्री से अनुमति ले ली थी। विधानसभा अध्यक्ष डॉ सीताशरण शर्मा, विधायक सरताज सिंह, विजयपाल सिंह, ठाकुरदास नागवंशी और खनिज विकास निगम अध्यक्ष शिव चौबे, नपा अध्यक्ष तथा जिलाध्यक्ष हरिशंकर जायसवाल आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned