यहां नहीं है कोरोना वायरस का भय, बेझिझक आ जा रहे देशी विदेशी पर्यटक

प्रदेश में कोरोना का अलर्ट फिर भी एसटीआर ने रिसोर्ट व पर्यटन के लिए जारी नहीं की गाइड लाइन

By: poonam soni

Published: 05 Mar 2020, 07:00 AM IST

अमित बिल्लोरे/सोहागपुर। चीन में फैले कोरोना वायरस के बाद प्रदेश में इसको लेकर अलर्ट जारी किया गया है। मंगलवार को मप्र मुख्य सचिव स्तर से सभी कलेक्टरों को संदिग्ध मरीजों को तुरंत जांच व इलाज मुहैया कराने के निर्देश भी दिए हैं। लेकिन सतपुड़ा टाईगर रिजर्व की ओर से कोई विशेष गाइडलाइन पर्यटक स्थलों व रिसोर्ट संचालकों के लिए जारी नहीं की गई है। गौरतलब है कि फरवरी में ही यहां 1219 विदेशी पर्यटक पहुंचे हैं। खासकर विदेशी सैलानियों के होशंगाबाद, पचमढ़ी, चूरना, मढ़ई, बागरा-सोहागपुर बफर जोन में आने के बाद यह भय बढ़ जाता है। लेकिन अभी तक पर्यटक स्थलों पर विदेशी सैलानियों के लिए कोई भी निर्देश जारी नहीं किए है।


फरवरी में मढ़ई पहुंचे 1219 पर्यटक
सतपुड़ा टाईगर रिजर्व में मढ़ई और चूरना खास पर्यटक स्थल हैं। इसके अलावा पचमढ़ी में भी विदेशी पर्यटक आते हैं। मढ़ई में हर साल पांच हजार विदेशी पर्यटक आते हैं, इनमें से सर्वाधिक पर्यटक यूरोपीय देशों से होते हैं। मढ़ई से मिली जानकारी के अनुसार फरवरी में यहां 1219 विदेशी पर्यटक पहुंचे हैं।जो अमेरिका, ब्रिटिश, रोमानिया, जर्मनी, आस्टे्रलिया, स्विटजरलैंड, आयरिश, फ्रांस, कनाडा से आए हैं। बावजूद इसके अब तक यहां स्वास्थ्य के लिए जांच के कोई पाइंट नहीं बनाए गएहैं।

मामले में पत्रिका ने बुधवार को एसटीआर के रेंजर स्तर से लेकर एफडी स्तर तक के अधिकारियों से चर्चा की तो अलग-अलग बातें सामने आई।

पचमढ़ी पहुंचे 27 हजार विदेशी पर्यटक
प्रदेश के एकमात्र हिल स्टेशन पर भी सालभर पर्यटकों के पहुंचने का सिलसिला लगा रहता है। एसटीआर सहायक संचालक संचालक संजीव शर्मा ने बताया कि पचमढ़ी में फरवरी माह के दौरान 27 विदेशी और 19 हजार 6 37 भारतीय पर्यटक पहुंचे।


मप्र में यह है अलर्ट
प्रशासनिक सूत्रों के अनुसार विदेशी पर्यटकों की प्रदेश में आमद को लेकर मप्र सरकार सतर्क तो है। तथा इसे लेकर मंगलवार को मप्र मुख्य सचिव एसआर मोहंती ने सभी कलेक्टरों को संदिध मरीजों को तुरंत जांच व इलाज मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं। होली के दौरान कई विदेशी सैलानी भारत पहुंचते हैं, इनमें से होशंगाबाद जिले में भी बड़ी संख्या में पर्यटक पहुंचते हैं। इसलिए प्रशासनिक स्तर पर संक्रामक रोगों के प्रसार रोकने की मंशा स्वविवेक से भी दिखानी होगी।

पत्र लिखने को कहा था
मैने बागरा आरओ को निर्देश दिया था कि वह सीएमएचओ होशंगाबाद को पत्र लिखकर विदेशी पर्यटकों के स्वास्थ्य परीक्षण की व्यवस्था बावत जानकारी लें। रिसोट्र्स को भी इस बावत सूचित करेंगे कि कोई विदेशी पर्यटक स्वास्थ्य को लेकर परेशान नजर आए तो तत्काल अस्पताल में जांच कराएं। रिसोट्र्स से प्रतिदिन आने वाले विदेशी पर्यटकों की सूची भी मांगी जाएगी।
आरएस भदौरिया, एडी, एसटीआर, सोहागपुर।

कोई निर्देश नहीं

हमारे पास उच्च स्तर से अब तक कोई विशेष निर्देश कोरोना को लेकर नहीं आया है। वैसे भी पर्यटकों का स्वास्थ्य परीक्षण एयरपोर्ट पर हो रहा है। हमारा विशेष लेना देना नहीं है।
एसके सिंह, एफडी, एसटीआर, होशंगाबाद।

अस्पतालों को जानकारी दी
जिला अस्पताल में आईसोलेशन वार्ड बनाया है जिसमें आठ बैड हैं। साथ ही टीम भी बनाई है। एंबुलेंस भी तैयार की है। प्रतिदिन पर्यटकों की सूची भी मिलती है तथा उस आधार पर क्षेत्र विशेष में चिकित्सकों को सूचित किया जाता है।
डॉ. डी कौशल, सीएमएचओ, होशंगाबाद।

corona disease Corona virus Corona Virus treatment
Show More
poonam soni
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned