कोरोना की दहशत... जागरुकता शिविर में न्यायाधीश ने दी बचाव व सुरक्षा की सलाह

कोरोना वायरस को लेकर स्थानीय व्यवहार न्यायालय परिसर में विशेष साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया

By: govind chouhan

Published: 19 Mar 2020, 07:12 PM IST

सिवनीमालवा। स्थानीय व्यवहार न्यायालय परिसर में कोरोना वायरस को लेकर विशेष साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में तहसील विधिक सेवा समिति अध्यक्ष न्यायाधीश यशवंत मालवीय ने कोरोना संक्रमण बीमारी से बचाव एवं सुरक्षा के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी दी। वही अधिवक्तागण, पक्षकारकारों को न्यायालय कक्ष में प्रवेश करने से पूर्व हैंडवॉश करने संबंधी हिदायत दी। तथा समस्त अधिवक्ता व पक्षकारोंा एवं न्यायालय स्टाफ को मास्क का वितरण किया गया। शिविर में न्यायाधीश यशवंत मालवीय, बार अध्यक्ष जीवी यादव, सचिव डीडी भारद्वाज, एमएस पाटनी, अजीत राजपूत, आदित्य ठाकुर, शैलेंद्र रघुवंशी, ऋषि यादव, आनंद भार्गव, रानू भार्गव, सुनील नौजिया, देवेंद्र रघुवंशी,विजेंद्र यादव,विकास पाठक, विकास रघुवंशी, विनय शिंपी, शैलेंद्र सिन्हा, जगदीश लौवंशी व अन्य अधिवक्ता गण पक्षकार गण न्यायालयीन स्टाफ उपस्थित था।
कॉलेज विद्यार्थियों को किया जागरूक
सिवनी मालवा. शासकीय कुसुम स्नातकोत्तर महाविद्यालय में छात्र- छात्राओं को कोरोना वायरस से बचने के लिए लगातार जागरूक किया जा रहा है। छात्र- छात्राओं को समूह में न रहने की सलाह दी जा रही है और बार-बार हाथ धोने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। महाविद्यालय में परीक्षा के दौरान प्रत्येक कक्ष के सामने हाथ धोने के लिए हैण्डवाश एवं नैपकीन की व्यवस्था की गई है। प्राचार्य डॉ. आरके रघुवंशी द्वारा सभी छात्र- छात्राओं को कोरोना वायरस से बचने के उपाय एवं सतर्कता के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

स्कूलों में धुलवाए हाथ, जागरुकता कार्यक्रम चलाया
पचमढ़ी. हिल स्टेशन पचमढ़ी में कोरोना वाइरस संक्रमण की रोकथाम के लिए स्कूलों सहित सेना शिक्षा कोर जागरुकता कार्यक्रम चला रहा है। शासकीय बालक उमावि में छात्र-छात्राओं को सेनेटाइजर दिया गया व उनके हाथ धुलवाए गए वहीं संक्रमण में बरते जाने वाले ऐहतियात बताए। सेना शिक्षा कोर ने भी स्कूली छात्र-छात्राओं को वायरस संक्रमण से बचने जागरुक किया। साथ ही निरंतर हाथ धोने और फ्लू पीडि़त लोगों से तीन मीटर की दूरी बनाने एवं मास्क लगाकर रहने हिदायत दी गई।

शासकीय स्कूलों में मध्यान्ह भोजन वितरण बंद
सोहागपुर. विश्व व्यापी समस्या बन चुका कोरोना वायरस को लेकर लगातार विभिन्न शासकीय विभागों द्वारा एडवाइजरी जारी की जा रही है। इसी क्रम में 18 मार्च को मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम परिषद राज्य समन्वयक डॉ. दिलीप कुमार द्वारा प्रदेश के समस्त जिला पंचायतों के सीईओ के नाम पत्र जारी किया गया है। पत्र के अनुसार कोरोना वायरस के चलते समस्त शासकीय व निजी स्कूलों में अस्थायी रूप से आगामी आदेश तक अवकाश है। इस दौरान कुछ जिलों द्वारा मध्यान्ह भोजन वितरण को लेकर मार्गदर्शन चाहा गया था, जिसे लेकर पत्र में स्पष्ट किया गया है कि प्रशासकीय निर्णय अनुसार आगामी आदेश तक मध्यान्ह भोजन वितरण बंद रखा जाए। उक्ताशय का पत्र परिषद द्वारा मप्र शासन स्कूल शिक्षा विभाग प्रमुख सचिव, संचालक राज्य शिक्षा केंद्र भोपाल, समस्त संभागायुक्त तथा समस्त कलेक्टर्स को भी प्रेषित किया गया है।

govind chouhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned