डाक्टर के प्यार में दीवानी लड़की ने घर में फैलाया खून, फिर रची यह कहानी, पुलिस के उड़ गए होश

डाक्टर के प्यार में दीवानी लड़की ने घर में फैलाया खून, फिर रची यह कहानी, पुलिस के उड़ गए होश

Brijesh Chouksey | Publish: Jun, 14 2018 02:50:44 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh

डेढ़ महीने से पुलिस तलाश में दिन-रात किए थी एक, बंगाल में मिली तो खुला रहस्य

आमला. बंगाली डाक्टर के प्रेम में दीवानी एक लड़की ने ऐसी कहानी रची कि परिजनों से लेकर पुलिस तक की नींद उड़ी हुई थी। डेढ़ महीने पहले लड़की रहस्यमय ढंग से घर से गायब हो गई थी। घर के बाहर खून फैला हुआ था, इसमें उसकी एक चप्पल भी भीगी हुई थी। यह नजारा देख घरवालों और पुलिस को बड़ी अनहोनी की आशंका थी। उसके अपहरण का मामला दर्ज कर डेढ़ महीने से तलाश की जा रही थी। मंगलवार को वह पश्चिम बंगाल में मिली। तब इस रहस्यम अपहरण से पर्दा उठा।
यह था मामला
ग्राम जंबाड़ा में पांच मई २०१८ को रहस्मय तरीके से एक लड़की गायब हो गई। घटना स्थल का नाजारा देख आमला में हड़कंप मच गया। पुलिस ने आनन फानन में अपहरण का मामला दर्ज कर लिया। उसकी तलाश की गई थी तो पश्चिम बंगला में मिली।

इसलिए रची कहानी
लड़की एक बंगाली डाक्टर अरविंद विश्वास से प्रेम करती थी। उसने अपनी बड़ी बहन राजस्थान निवासी गीता और रिश्ते के भांजे बद्रीलाल की मदद से घर से भागी। वह दोनों डाक्टर की गाड़ी लेकर घुमाने ले जाने का कहकर ले गए थे। घर वालों को उसके भागने का शक न हो, इस कारण घर के बाहर मुर्गे का खून फैलाया गया था। ताकि लोग जादू-टोने का शक करें। इसके बाद उसे डाक्टर अरविंद के पास छोड़कर लौट आए थे। वह उसे लेकर पश्चिम बंगाल चला गया। लड़की ने पुलिस को बताया कि वहां डाक्टर ने उसके साथ शरीरिक संबंध भी बनाए।
बहन ने खोला राज
पुलिस को गीता पर संदेह हो गया था। गीता ने ही रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसकी बहन सुबह शौच के लिए गई थी फिर नहीं लौटी। रास्ते में उसकी खून से सनी चप्पल मिली है। पुलिस को गीता की गतिविधियों से संदेह हुआ तो उसे 18 मई को हिरासत में लेकर पूछताछ की। उसने सच उगल दिया। फिर बद्रीलाल को गिरफ्तार किया गया। इसके बाद पुलिस पश्चिम बंगाल स्थित डाक्टर गगनापुर थाने के घोना गांव पहुंची। यहा लड़की मिल गई लेकिन डाक्टर फरार हो गया। पुलिस ने बताया कि बहन के गायब होने के साथ गीता और बद्रीलाल भी गायब हो गए थे। वे भी डाक्टर के साथ नागपुर, हैदाराबाद और चैन्नई गए थे फिर लौटकर आ गए थे। इस कारण उन पर संदेह हुआ।

Ad Block is Banned