मवेशी चराने गए युवक का नाले में मिला शव, पुलिस ने कहा- डूबने से हुई मौत

एक दिन पहले भी ट्रक चालक का मिला था शव...

By: sandeep nayak

Published: 20 Oct 2020, 12:19 PM IST

होशंगाबाद/समीपस्थ ग्राम निमसाडिय़ा में रविवार को मिट्टी-भसुआ खदान में ड्राइवर का शव मिलने के बाद सोमवार को कच्चे रास्ते के किनारे के नाले में एक और युवक का शव मिला है। मृतक मवेशी चराने घर से निकला था। सूचना पर देहात थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव नाले से निकलवाया। मृतक की पहचान योगेश पिता माखनलाल मलैया (30) के रूप में हुई। मौत कारण डूबना बताया जा रहा है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को शव सौंप दिया। मर्ग कायम कर जांच की जा रही है।
देहात थाना उप निरीक्षक प्रवीण मालवीय ने बताया कि निमसाडिय़ा टील से निमसाडिय़ा गांव के बीच कच्चे रास्ते के किनारे से गहरा नाला निकला है। आसपास धान के खेत लगे हैं। नाले से योगेश मलैया का शव बरामद किया है। उसकी मौत डूबने से हुई है। उसे तैरना नहीं आता था। नाले में मवेशी चले जाने से उसे बचाने और निकालने के चक्कर में गहरे नाले में डूब गया। योगेश की मौत से परिवार में मातम है। घर में उसके पिता-माता और भाई हैं जो खेती करते हैं। मृतक योगेश खेती में हाथ बंटाने के साथ घर के पालतू मवेशियों को रोजाना गांव के आसपास चराने जाता था।

घरों में ताकाझांकी पर विवाद, एक दर्जन युवकों पर मामला दर्ज
होशंगाबाद/देर रात बालागंज-ईदगाह में युवकों के दो गुटों में हुए झगड़े के बाद मारपीट हो गई। घटना के पीछे का कारण एक पक्ष के युवकों के घरों में ताकझांक बताई जा रही है। कोतवाली से पुलिस बल ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाला। अजाक थाना टीआई विक्रम रजक ने दोनों पक्षों को शांत कराया। पुलिस ने दोनों पक्षों के एक दर्जन आरोपियों के खिलाफ मारपीट का प्रकरण दर्ज किया है। पर्वों के मद्देनजर फूटकुआं चौकी सहित ईदगाह इलाके में पुलिस जवानों को शांति बनाए रखने तैनात किया गया है। संवेदनशील इलाके बालागंज-ईदगाह और जुमेराती में पेट्रोलिंग भी की जा रही है।
पहले पक्ष के फरियादी रजा पिता शदी निवासी ईदगाह मोहल्ला ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि वह दसवीं में पढ़ता है। 15 दिन पहले उसने सौरभ और करण रैकवार को मोहल्ले में घूमकर ताकाझांकी करने से मना किया था। इसी बात पर रविवार रात करीब आठ बजे दोस्त आशू, महफूज, परवेज के साथ आशू के घर के सामने बैठे थे। तभी सौरभ, करण हाथों में होज पाइप लेकर आए और मारपीट की। कुछ देर बाद भीकम, गोलू रैकवार भी आए और पीटने लगे। मोइन व अफजल ने बीच-बचाव कर अलग किया। चारों जान से मारने की धमकी देकर चले गए। इधर, दूसरे पक्ष के सौरभ पिता फूलचंद रैकवार ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि रात दस बजे रजा, अल्ताफ, इम्मू, मोइन ने मारपीट कर जान से मारने की धमकी दी। कोतवाली ने दोनों पक्षों के आरोपियों पर मारपीट का प्रकरण दर्ज किया है।

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned