ग्राम पंचायतों के विकास के साथ महिला सशक्तिकरण पर दिया गया जोर

केसला व सिवनीमालवा जनपद में ग्रामीण विकास विभाग की योजनाओं की समीक्षा

By: Manoj Kundoo

Published: 08 Oct 2021, 08:57 PM IST

होशंगाबाद। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग अंतर्गत संचालित विभिन्न योजनाओं की जनपद स्तरीय समीक्षा बैठक 8 अक्टूबर को जनपद केसला व सिवनीमालवा में हुई। बैठक में अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजय कुमार श्रीवास्तव द्वारा मनरेगा सहित महिला सशक्तिकरण से जुड़ी विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की गई।
श्रीवास्तव ने मनरेगा योजना अंतर्गत सभी श्रमिकों के आधार सीडिंग, जॉबकार्ड वेरिफिकेशन, समय पर भुगतान, कार्यों की पूर्णता, लक्ष्य के विरुद्ध मानव दिवस पूर्ति, श्रमिकों को प्रदाय रोजगार, पुरानी जल संरचनाओं के जीर्णोद्धार की समीक्षा की गई। आजीविका समूह के सदस्यों द्वारा मछली पालन, सिंघाड़ा उत्पादन कार्य किये जाने की समीक्षा की गई। ग्रामीण आवास योजना अंतर्गत आवास पूर्णता की प्रगति, स्वच्छ भारत मिशन के कार्यों की पूर्णता की समीक्षा की गई। पंचायत राज अंतर्गत ग्राम पंचायत विकास योजना के सम्बंध में बताया गया कि कैसे 17 बिंदु के आधार पर हमें ग्राम पंचायतों का सर्वांगीण विकास करना है। इसमें मुख्य रूप से महिला सशक्तिकरण के संबध में जोर दिया गया। महिला स्व सहायता समूह को पैसे से पैसा कैसे बनाया जाए, इस पर ध्यान दें। जिससे महिलाएं आत्मनिर्भर बनें। बैठक में कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, परियोजना अधिकारी मनरेगा, पंचायत राज, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, सहायक यंत्री, उपयंत्री, सचिव व ग्राम रोजगार सहायक उपस्थित थे।

ग्राम पंचायतों के विकास के साथ महिला सशक्तिकरण पर दिया गया जोर
केसला व सिवनीमालवा जनपद में ग्रामीण विकास विभाग की योजनाओं की समीक्षा
होशंगाबाद। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग अंतर्गत संचालित विभिन्न योजनाओं की जनपद स्तरीय समीक्षा बैठक 8 अक्टूबर को जनपद केसला व सिवनीमालवा में हुई। बैठक में अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजय कुमार श्रीवास्तव द्वारा मनरेगा सहित महिला सशक्तिकरण से जुड़ी विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की गई।
श्रीवास्तव ने मनरेगा योजना अंतर्गत सभी श्रमिकों के आधार सीडिंग, जॉबकार्ड वेरिफिकेशन, समय पर भुगतान, कार्यों की पूर्णता, लक्ष्य के विरुद्ध मानव दिवस पूर्ति, श्रमिकों को प्रदाय रोजगार, पुरानी जल संरचनाओं के जीर्णोद्धार की समीक्षा की गई। आजीविका समूह के सदस्यों द्वारा मछली पालन, सिंघाड़ा उत्पादन कार्य किये जाने की समीक्षा की गई। ग्रामीण आवास योजना अंतर्गत आवास पूर्णता की प्रगति, स्वच्छ भारत मिशन के कार्यों की पूर्णता की समीक्षा की गई। पंचायत राज अंतर्गत ग्राम पंचायत विकास योजना के सम्बंध में बताया गया कि कैसे 17 बिंदु के आधार पर हमें ग्राम पंचायतों का सर्वांगीण विकास करना है। इसमें मुख्य रूप से महिला सशक्तिकरण के संबध में जोर दिया गया। महिला स्व सहायता समूह को पैसे से पैसा कैसे बनाया जाए, इस पर ध्यान दें। जिससे महिलाएं आत्मनिर्भर बनें। बैठक में कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, परियोजना अधिकारी मनरेगा, पंचायत राज, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, सहायक यंत्री, उपयंत्री, सचिव व ग्राम रोजगार सहायक उपस्थित थे।

Manoj Kundoo Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned