किसानों को मिला अमृत, अब रोपाई का इंतजार

किसानों को मिला अमृत, अब रोपाई का इंतजार
now waiting for transplantation

yashwant janoriya | Updated: 04 Jul 2019, 10:59:43 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

पिछले सप्ताह मानसून की देरी के चलते धान की फसल बोने वाले किसान चिंता में बैठे थे

इटारसी. बीते दो दिन से लगातार बारिश किसानों के लिए अमृत मिलने के समान है। इस बारिश से तहसील के किसानों के जहां चेहरे खिले, तो वहीं आमजनों ने भी गर्मी से राहत की सांस ली। तहसील से लगे गांवों चांदोन, कांदई खुर्द, गुर्रा, रूपापुर, सिलारी, रामपुर, बिछुआ, सोनतलाई, मरोड़ा, रामपुर, तारारोड़ा आदि में खेतों में धान की रोपार्ई पहले ही कर चुके हैं। वही कुछ किसान अभी रोपाई कर रहे हैं। पिछले सप्ताह मानसून की देरी के चलते धान की फसल बोने वाले किसान चिंता में बैठे थे, क्योंकि तेज गर्मी के कारण निजी जलस्रोत ने भी साथ छोड़ दिया था। जिसके बाद से ही किसान मानसून की बारिश पर निर्भर बने हुए थे। उधर जिले के कृषि विभाग के अधिकारी भी बुधवार को खेतों का निरीक्षण कर किसानों को जरुरी सलाह दी। बारिश को लेकर जून की शुरुआत अच्छी नहींं रही। लेकिन जुलाई के पहली तारीख से ही मौसम पानी का बनने लगा। तीन दिन से खासकर मध्य रात्रि में अच्छी बारिश होने से जहां लोगों को गर्मी से राहत मिली है, वही किसानों के चेहरे भी खिल गए हैं।
धान में पीलापन अब होगा खत्म
रूपापुर के किसान रजत दुबे ने बताया कि जून के अंत में बारिश होते ही हमने धान की पौध को डाल दिया। इससे पहले गर्मी के चलते धान की पौध पीली पड़ रही थी। बारिश से यह पीलापन अब खत्म हो जाएगा। काफी दिनों से यहां बारिश न होने से किसान परेशान थे। उधर जिले के कृषि विभाग के अधिकारी भी बुधवार को खेतों का निरीक्षण कर किसानों को जरुरी सलाह दी।

होशंगाबाद जिले में अभी तक 5 इंच बारिश हो चुकी है। जोकि खेती के लिए पर्याप्त है। किसान धान, मक्का और सोयाबीन की बोआई शुरू कर सकते हैं। जिन किसानों ने पहले से धान बो दिया था। वे रोपाई कर सकते हैं। यह रोपाई श्रीपद्धत विधि से कर सकते हैं। जिसमें एक जगह एक ही पौधा रोपा जाता है। किसानों को खेती के लिए यह अच्छा मौका है।
- जितेंद्र सिंह, उपसंचालक, कृषि होशंगाबाद

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned