सरकार के 'बाबा' का खौफ, आधी रात को सड़क पर उतरे अफसर

बुदनी में आए थे बाबा, होशंगाबाद जिला प्रशासन आया हरकत में

होशंगाबाद. कांग्रेस की कमलनाथ सरकार में मौजूद एक बाबा का खौफ अब अफसरों को पसीना लाने लगा है। यही वजह रही कि बाबा के पड़ोसी जिले में आने की भनक लगते ही आधी रात को होशंगाबाद जिला प्रशासन के अफसर सड़क पर उतर आए। इतना ही नहीं यह रात ढाई बजे तक सड़क पर ही जमे रहे। जब उन्हें तसल्ली हो गई कि बाबा अब उनके लिए आफत नहीं बनने वाले तब जाकर घर लौटे। यह बाबा कोई और नहीं बल्कि कमलनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त नदी न्यास के अध्यक्ष कम्प्यूटर बाबा हैं।
दरअसल बाबा की सख्त हिदायत के बाद भी होशंगाबाद जिले में नर्मदा एवं तवा नदी से अवैध उत्खनन, ओवरलोडिंग व बिना रॉयल्टी के अवैध परिवहन रुक नहीं रहा है। सोमवार रात में नदी न्यास के अध्यक्ष बुदनी आए थे। उनकी भनक लगते ही होशंगाबाद के अधिकारी हरकत में आ गए। क्योंकि बाबा यहां पहले भी आकर प्रशासन की नाक के नीचे चल रहे अवैध उत्खनन का पर्दाफाश कर चुके थे। साथ ही दोबारा आने की चेतावनी भी देकर गए थे। प्रशासन को लगा कि बुदनी से आकर बाबा यहां भी छापामार कार्रवाई कर सकते हैं तो जिला प्रशासन हरकत में आ गया। रात में ही तहसीलदार, एसडीओपी और खनिज निरीक्षक की संयुक्त टीम भोपाल तिराहे पर पहुंच गई। यहां से सर्चिंग कर पांच ओवरलोड डंपरों को जब्त किया। जब्त डंपर-ट्रकों को आईटीआई रोड स्थित कृषि उपज मंडी में गार्डों की सुरक्षा में खड़े कराया गया है। खनिज विभाग इन वाहनों के चालकों के खिलाफ रेत नियम 2019 के तहत प्रकरण तैयार कर सक्षम न्यायालय में प्रस्तुत कर रहा है। वहीं बाबई के चपलासर में पुलिस ने दो ट्रैक्टर ट्रॉली जब्त की है। यह टै्रक्टर ट्रॉलियां नदी से रेत अवैध खनन कर परिवहन कर रही थी। टीआई दिनेश सिंह चौहान ने बताया कि टै्रक्टर चालकों खिलाफ

चोरी का प्रकरण दर्ज किया
खनिज निरीक्षक पुष्पेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि रात 11 बजे से लेकर ढाई बजे रात तक भोपाल तिराहे और इटारसी रोड पर सर्चिंग की गई। इस दौरान रेत के ओवर लोड डंपर -ट्रक एमपी 09 एचजी 3388 , एमपी09एचजे 2888, एमपी09 एचएच 8812, आरजे 33जीए 3555 एवं एमपी 09 एचएच 3357 को जब्त किया गया। वाहनों की धरपकड़ निरंतर जारी है।

Show More
बृजेश चौकसे
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned