scriptFIR registered against seller, dealers should also be | खाद विक्रेता पर दर्ज एफआईआर, किसान बोले-थोक डीलरों पर भी हो | Patrika News

खाद विक्रेता पर दर्ज एफआईआर, किसान बोले-थोक डीलरों पर भी हो

कार्रवाई कलेक्टर ने पूरे जिले में नकली-घटिया खाद-बीज बेचने वालों पर सख्त कार्रवाइयों के निर्देश दिए, दुकानदार पर केस दर्ज, बिना अनुमति-लाइसेंस के कर रहा था खाद का अवैध कारोबार

होशंगाबाद

Published: November 19, 2021 12:50:46 pm

होशंगाबाद. जिले के डोलरिया में बुधवार को भारतीय किसान संघ के सदस्यों ने निजी विक्रेता के यहां से बिक रही राखड़ मिली नकली डीएपी खाद के मामले को उजागर किया था, जिसमें कृषि विभाग की चार सदस्यीय टीम ने मौके पर पहुंचकर बोरियों की जब्ती व पंचनामा तैयार कर जांच पड़ताल की, जांच रिपोर्ट गुरुवार को आते ही जिला प्रशासन के निर्देश पर कृषि विभाग ने सख्त एक्शन लिया। अवैध रूप से खाद बेचने वाले दुकानदार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। कलेक्टर ने विभागीय अधिकारियों को पूरे जिले में अभियान चलाकर नकली-घटिया खाद-बीज बेचने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाइयां करने के निर्देश दिए हैं। नकली राखड़ मिली डीएपी खाद के मामले में प्रशासन की इस त्वरित कार्रवाई पर भारतीय किसान संघ व किसानों ने संतोष जताया है।

अवैध रूप से नकली खाद बेच रहा था संचालक
जिले के डोलरिया में अवैध रूप से उर्वरक विक्रय के प्रकरण में विक्रेता के विरुद्ध थाना डोलरिया में एफआईआर दर्ज कराई गई है। उप संचालक कृषि जेआर हेडाऊ ने बताया कि तहसील डोलरिया के सेमरीखुर्द निवासी अजित सिंह राजपूत पिता गुलाबसिंह राजपूत प्रोपराइटर भूमि कृषि सेवा केन्द्र डोलरिया द्वारा वैध उर्वरक विक्रय लायसेंस के बिना और बिना पक्का बिल के एवं शासन द्वारा निर्धारित दर 1200 से अधिक पर इफको कंपनी का डीएपी उर्वरक विक्रय करते पाया गया है। बता दें कि उक्त विक्रेता किसानों को करीब एक ट्रक नकली-मिलावटी खाद बेच चुका है। किसान संघ की शिकायत पर इसकी विभागीय टीम को भेजकर जांच कराई गई थी। नकली डीएपी खाद बेचने की शिकायत ग्राम पतलईकलॉ, डोलरिया, बेहराखेड़ी, कलमेशरा के किसानों ने बुधवार को की गई थी और खुद इस बड़े मामले को उजागर किया था।

कलेक्टर के सख्त एक्शन पर हुई एफआईआर
शिकायत प्राप्त होते ही कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने कृषि उप संचालक को निर्देश जारी कर जांच दल भेजकर शिकायत की जांच कराई। तुरंत एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए। जांच दल ने संबंधित किसानों के कथन लिये, जिसमें कृषकों द्वारा बिना पक्का बिल दिए एवं अधिक कीमत पर विक्रय करने संबंधी कथन दर्ज कराए। साथ ही किसानों के क्रय किये गए इफको कंपनी के डीएपी बोरी की गुणवत्ता परीक्षण हेतु नमूना लिए गए। संबंधित संस्था के प्रोपराइटर के पास उर्वरक विक्रय का वैध लायसेंस भी नहीं होना पाया गया। कृषि विभाग ने उक्त किसान के यहाँ से बोरी जप्त कर गुणवत्ता परीक्षण हेतु नमूना लेकर उर्वरक प्रयोगशाला भेजा है।

इफको कंपनी भी विक्रेता को अवैध बताया
इफको कंपनी के जिला प्रबंधक के कथन अनुसार उक्त व्यक्ति कंपनी का अधिकृत विक्रेता नहीं है। इफको कंपनी का डीएपी उर्वरक भी उन्हें प्रदाय नहीं किया गया था। साथ ही कृषकों को विक्रय की गई जिस बोरी में उर्वरक विक्रय किया गया है, उस लाट की बोरियों का खाद विगत एक वर्ष से जिले में प्रदाय ही नहीं किया गया, जिससे संबंधित फर्म द्वारा कालाबाजारी करके गलत तरीके से गलत खाद इफको कंपनी के नाम से कृषकों को बेचा जाना पाया गया है।

डीएपी बेचने के कोई वैध दस्तावेज नहीं मिले
किसानों के कथनों के आधार पर भूमि कृषि सेवा केन्द्र डोलरिया के प्रोपराइटर अजित सिंह राजपूत ने वैध उर्वरक लायसेंस के बिना अनाधिकृत गोदाम से डीएपी उर्वरक शासन द्वारा निर्धारित दर से अधिक कीमत पर बेचे जाना, किसानों द्वारा बिल मांगे जाने पर बिल जारी न कर बिना बिल के विक्रय किया जाना व उर्वरक क्रय-विक्रय भंडारण संबंधी कोई दस्तावेज संधारित किया जाना नहीं पाया गया।

इन नियम-धाराओं में दर्ज हुआ केस
कृषि उप संचालक जेआर हेडाऊ ने बताया कि उक्त खाद विक्रेता अजित सिंह राजपूत डोलरिया को उर्वरक (नियंत्रण) आदेश 1985 की धारा 5, 7, 35 एवं आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा 3/7 का उल्लंघन का दोषी माना गया है। जिस पर उर्वरक निरीक्षक एवं वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी होशंगाबाद आरएलजैन ने डोलरिया थाने में संबंधित अवैध उर्वरक विक्रयकर्ता के विरूद्ध उर्वरक (नियंत्रण) आदेश 1985 की धारा 5, 7 एवं धारा 35 एवं आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा 3/7 के तहत एफआईआर दर्ज कराई है।

खाद विक्रेता पर दर्ज एफआईआर, किसान बोले-थोक डीलरों पर भी हो
खाद विक्रेता पर दर्ज एफआईआर, किसान बोले-थोक डीलरों पर भी हो

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Health Tips: रोजाना बादाम खाने के कई फायदे , जानिए इसे खाने का सही तरीकाCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतSchool Holidays in January 2022: साल के पहले महीने में इतने दिन बंद रहेंगे स्कूल, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालVideo: राजस्थान में 28 जनवरी तक शीतलहर का पहरा, तीखे होंगे सर्दी के तेवर, गिरेगा तापमानJhalawar News : ऐसा क्या हुआ कि गुस्से में प्रधानाचार्य ने चबाया व्याख्याता का पंजामां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतAaj Ka Rashifal - 24 January 2022: कुंभ राशि वालों की व्यापारिक उन्नति होगीMaruti की इस सस्ती 7-सीटर कार के दीवाने हुएं लोग, कंपनी ने बेच दी 1 लाख से ज्यादा यूनिट्स, कीमत 4.53 लाख रुपये

बड़ी खबरें

शरीयत पर हाईकोर्ट का अहम आदेश, काजी के फैसलों पर कही ये बातभाजपा की नई लिस्ट में हो सकती है छंटनी की तैयारी, कट सकते हैं 80 विधायकों के टिकटRepublic Day 2022: आज होगी वीरता पुरस्कारों की घोषणा, गणतंत्र दिवस से पूर्व राजधानी बनी छावनीRepublic Day 2022 parade guidelines: कोरोना की दोनों वैक्सीन ले चुके लोग ही इस बार परेड देखने जा सकेंगे, जानिए पूरी गाइडलाइन्सDelhi Metro: गणतंत्र दिवस पर इन रूटों पर नहीं कर सकेंगे सफर, DMRC ने जारी की एडवाइजरीकई टेस्ट में भी पकड़ में नहीं आता BA 2 स्ट्रेन, जानिए क्यों खतरनाक है ओमिक्रान का ये सब वेरिएंट13 जिलों में जल्द बनेगी जिला कार्यकारिणी, प्रदेश कांग्रेस ने 28 जनवरी तक मांगे नामपुण्यतिथि पर याद की जा रहीं Vijaya Raje Scindia, 'बेटी' Vasundhara Raje ने कुछ इस तरह से किया 'मां' को याद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.