हॉकी खिलाडिय़ों ने कुछ इस तरह दी अपने साथी को अंतिम विदाई, देखें वीडियो

सड़़क हादसे के शिकार नेशनल हॉकी खिलाड़ी आदर्श हरदुआ का हुआ अंतिम संस्कार

इटारसी/नेशनल हाईवे-69 पर सोमवार सुबह हुए एक सडक़ हादसे में प्रदेश के चार नेशनल हॉकी खिलाडिय़ों की मौत हो गई। हादसा इटारसी होशंगाबाद के बीच ब्यावरा में सुबह 7 बजे हुआ। मृतकों में इटारसी का एक 18 वर्षीय खिलाड़ी भी शामिल है जो जिसने रात में ही अपना जन्मदिन मनाया था। और सुबह उसकी मौत हो गई। यह सभी खिलाड़ी एमपी एकेडमी के लिए खेलते हैं सोमवार को होशंगाबाद में कुलामड़ी एस्टोटर्फ मैदान पर अखिल भारतीय मेजर ध्यानचंद हॉकी टूर्नामेंट में खेलने के लिए यह खिलाड़ी होशंगाबाद आए थे।
जानकरी के अनुसार सभी खिलाड़ी स्विप्ट कार से मैच खेलने होशंगाबाद जा रहे थे। इस दौरान बुलोरो को बचाने में इनकी कार अनियंत्रित होकर सडक़ के नीचे उतरकर एक पेड़ से टकरा गई। हादसे के समय कार में 7 खिलाड़ी बैठे थे। इसमें से चार खिलाडिय़ों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि & घायल हो गए हैं।

इटारसी के आदर्श का दोपहर में किया अंतिम संस्कार
हादसे में चार मृतकों में एक खिलाड़ी होशंगाबाद जिले के इटारसी का भी थी, इटारसी नाला मोहल्ला निवासी आदर्श हरदुआ रविवार रात को ही अपना 18वां जन्मदिन मनाया था। मृतकों में इंदौर निवासी शाहनवाज खान, जबलपुर निवासी आशीष लाल, ग्वालियर निवासी अनिकेत भी शामिल हैं।

साथी खिलाडिय़ों ने दी सलामी
सोमवार दोपहर को इटारसी में आदर्श हरदुआ की अंतिम यात्रा निकाली गई। जिसमें बड़ी संख्या में शहरवासी उसे अंतिम विदाई देने उमड़े। शव यात्रा के दोनों तरफ शहर के हॉकी खिलाडिय़ों ने अपनी स्टिक लेकर ऊपर करके आदर्श को अंतिम विदाई दी।

10 वीं का छात्र था आदर्श
बताया जाता है कि आदर्श 10 वीं क्लास का छात्र था, वह जितना अ'छी हॉकी खिलाड़ी था उतना अ'छा छात्र भी था। नाला मोहल्ला निवासी आदर्श हरदुआ का रविवार को जन्मदिन था। हरदुआ का जन्मदिन मनाने के लिए बाकी खिलाड़ी इटारसी आए थे। रात में इटारसी में ही रुकने के बाद सोमवार को सुबह होशंगाबाद के लिए निकले थे।

छोटी सी उम्र में Óवाइन कर ली थी एकेडमी
आदर्श हरदुआ को छोटी सी उम्र से ही हॉकी खेलने का जुनून सवार हो गया था। वह शहर के मैदान पर हॉकी खेलने की प्रेक्टिस करने लगातार जाता है। इसके बाद उसने हॉकी एकेडमी भी Óवान कर ली थी, ताकि वह बड़ा और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी बन सके। लेकिन समय से पहले ही उसकी मौत के साथ उसने सपने और परिजनों की उम्मीदें भी टूट गई।

sandeep nayak
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned