गार्डन संचालक ने अपने सोसाइड नोट पूर्व सीएम और पीएम नरेन्द्र मोदी से की न्याय की मांग

गार्डन संचालक ने अपने सोसाइड नोट पूर्व सीएम और पीएम नरेन्द्र मोदी से की न्याय की मांग

Rahul Saran | Updated: 04 Jun 2019, 12:56:47 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

नपा के इंजीनियर ने तीन लाख लेकर भी नहीं दी थी एनओसी

होशंगाबाद. श्रीकुंज मैरिज गार्डन के संचालक राजेंद्र सराठे की आत्महत्या मामले में एक और नया खुलासा हुआ है। सुसाइड नोट में नगर पालिका के एक इंजीनियर को तीन लाख रुपए रिश्वत देने और उसके बाद भी उसे गार्डन की एनओसी नहीं देने का उल्लेख किया गया है। सराठे ने अपने सुसाइड नोट पर पूर्व सीएम शिवराज सिंह और पीएम नरेन्द्र मोदी से न्याय की भी मांग की। 13 पन्नों के सुसाइड नोट में सराठे ने मरने से पहले अपनी तबाही की पूरी दास्तां लिखी है। कांग्रेस नेता विकल्प डेरिया सहित जिन छह लोगों पर मामला दर्ज हुआ है। इन

आरोपियों के नाम लिखे सुसाइड नोट पर
पुलिस ने बताया कि सुसाइड नोट में छह आरोपियों के अलावा शहर कांग्रेस अध्यक्ष अज्जू सैनी, संतोष सिंह राजपूत और नगर पालिका के इंजीनियर रमेश वर्मा का भी नाम हैं। डेरिया, अज्जू और संतोष के माध्यम से लेन-देन करता है। मृतक सराठे ने लिखा है कि नपा इंजीनियर ने भी गार्डन बनाने दो साल पहले रिश्वत बतौर तीन लाख रुपए लिए थे, लेकिन फिर एनओसी देने से मना कर दिया। और पैसे मांग रहा। नपा इंजीनियर रमेश वर्मा से बात करने की कोशिश की गई, लेकिन उनका मोबाइल बंद था। सुसाइड नोट में लिखा है कि मैंने जीवन की पूरी कमाई लगा दी है। अब मेरे पास गार्डन के अलावा कुछ नहीं है। 30 लाख के डेढ़ करोड़ कहां से दूं और 2 लाख ब्याज प्रतिमाह कहा से दूं। मेरे साथ गलत हो रहा है। पुलिस सुसाइड नोट के सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है।


मैं आत्महत्या कर रहा हूं...
सुसाइड नोट के पहले पन्ने पर सराठे ने लिखा है कि मैं, आत्महत्या कर रहा हूं। मुझे इन लोगों ने मजबूर कर दिया है। मेरा शरीर जा रहा है, लेकिन मेरी आत्मा यही रहेगी। इन्होंने बेइमानी की हद कर दी। राज्य सरकार, पूर्व सीएम शिवराज मामा व मोदी पीएम मेरे परिवार को न्याय दिलाएं। सुसाइड नोट में मुख्य आरोपी प्रदेश कांग्रेस सचिव विकल्प डेरिया व उसके भाई कायाकल्प डेरिया के बारे में लिखा है कि उसके साथ बहुत बड़ा धोखा-बेइमानी की है। नोटबंदी के समय मदद के रूप में 30 लाख रुपए 3 प्रतिशत ब्याज पर दिए, जमानत के रूप में जमीन की डीड लिखवा ली। मैंने कहा था पैसा-ब्याज 1-2 साल नहीं दे पाऊंगा तो बोले ठीक है, बाद में दे देना। मैंने जीवन भर की कमाई लगाकर गार्डन चालू किया। विकल्प डेरिया डेढ़ करोड़ वसूल रहा था। जमीन के कागज बच्चों के नाम कर न्याय दिलाया जाए। कीर्ति मिश्रा के बारे में लिखा है कि उससे ब्याज पर 15 लाख लिए थे, जमानत के रूप में खेत की डीड लिखवाई थी और कोरे चैक लिए थे। 4 प्रतिशत ब्याज लगाया, जबकि प्रति माह 60 हजार रुपए देता रहा हूं। अभी तक 18 लाख रुपए दे चुका हूं उसके बाद भी घर व गार्डन पर आकर धमकाता है। मुकेश अग्निहोत्रा का उल्लेख कर लिखा है कि उसने मुझसे टेंट के साथ खुद का 2 साल तक अग्निहोत्री गार्डन चलवाया। जिसका पैसा नहीं दिया, जबकि 60-40 प्रतिशत हिस्सेदारी की बात थी। 1.65 लाख का एक चैक कोर्ट में लगाकर वसूली की। राजीव दुबे और दीपक परसाई के बारे में लिखा है कि दोनों से गार्डन व घर के लिए 1.75 लाख का दाल-चावल, किराना लिया था। जिसका चैक दिया था। जिसे नगद तीन बार में दिया था। शेष 25 हजार भी दे दिया था। लेकिन चैक नहीं वापस किया। कोर्ट में चैक वाउंस का केस लगा दिया।

पूर्व सीएम व पीएम से की मांग
पूर्व सीएम व पीएम मोदी के नाम संबोधित कर लिखा है कि उसके परिवार को उचित न्याय दिलाएं, ताकि परिवार वाले भी आत्महत्या करने मजबूर न हो। सराठे का सपना मंदिर में ठाकुरजी की स्थापना कर ठाकुरजी की सेवा करना था लेकिन विकल्प व कल्पू डेरिया बेइमानी कर मेरे गार्डन को भी खुद का होना बताकर लोगों को भड़का रहा है। जिसका लोग फायदा उठा रहे हैं।

जांच जारी है। परिवार व गवाहों के बयान लिए जाने हैं। घटना स्थल गार्डन के सीसीटीवी कैमरों के फुटेज की जांच की जाएगी। सुसाइड नोट की जांच-पड़ताल और प्रकरण में जांच पूरा होने के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी।
मोहन सारवान, एसडीओपी

सुसाइड नोट में लेनदेन का एग्रीमेंट : सुसाइड नोट में संतोष सिंह और मृतक सराठे के बीच 91 लाख 2 हजार 134 रुपए के लेनदेन का 30 जून 2018 तक का एग्रीमेंट व हिसाब भी लिखा हुआ है।

related news

Video: कांग्रेस के एक बड़े नेता की प्रताडऩा से तंग आकर गार्डन संचालक ने दी जान, पढ़े पूरी खबर

बिजनेसमैन पति को फोन करती रही पत्नी, फंदे पर लटका था शव; सुसाइड नोट पर लिखा था कांग्रेस नेता का नाम

Video Story: गार्डन संचालक झूला फांसी पर, सुसाइड नोट में लिखे हैं कांग्रेस के एक...

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned