गर्भवती महिला की जान बचाने के लिए रोजा तोड़ा, खाना खाकर किया रक्तदान

सभी ने फर्ज को प्राथमिकता देने की सलाह दी

By: amit sharma

Published: 25 May 2019, 11:48 AM IST

होशंगाबाद। होशंगाबाद में एक हिंदू गर्भवती महिला की जान बचाने के लिए युवक ने अपना रोजा तोड़ दिया। अब महिला को प्रसव भी हो गया है। अस्पताल प्रबंधन के मुताबिक अब जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित हैं। दरअसल शुक्रवार को मालाखेड़ी निवासी अन्सार खान अपने १९ वें रोजे में इबादत की तैयारियों में लगा हुआ था। अन्सार खान होशंगाबाद के ही एक समाजिक संगठन का सदस्य है। जो लोगों की जान बचाने के लिए मध्यप्रदेश रक्तदान ग्रुप चलाते हैं। शुक्रवार दोपहर को ग्रुप के सोशल मीडिया ग्रुप पर जिला अस्पताल एक गर्भवती महिला को ए-निगेटिव ग्रुप के ब्लड की जरुरत थी। काफी प्रयासों के बाद भी महिला के लिए रक्त का इंतजाम नहीं हो पा रहा था। इसके बाद अन्सार ने खाना खाकर महिला को ब्लड दिया।
रक्तदान के बाद किसी को नहीं बताना चाहता था
ेअंसार एक फार्मा कंपनी से जुड़े हुए हैं, उनको सबसे पहले सोशल मीडिया से जानकारी मिली। अंसार ने बताया कि फिर उन्होंने डॉ.ममता पाठक से इस संबंध में बात की। तो पता चला कि महिला काफी गंभीर है। उन्होंने बताया कि अपने बड़े बुजुर्गों से बातचीत करने के बाद उन्होंने रोजा तोड़कर रक्तदान करने का फैसला लिया।
इनका कहना है
हमारे पास एक महिला काफी गंभीर स्थिति में आई थी। बच्चे ले पेट में लेटरिंग कर दिया था। एेसे में महिला को सीजर में तुरंत लिया जाना जरुरी था। नहीं तो बच्चे-महिला दोनों की मौत हो सकती थी। - डॉ.ममता पाठक, स्त्री रोग विशेषज्ञ होशंगाबाद

amit sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned