खाली बर्तन लेकर नपा कार्यालय पहुंचे लोगों को नहीं मिले अफसर तो किया ऐसा काम

खाली बर्तन लेकर नपा कार्यालय पहुंचे लोगों को नहीं मिले अफसर तो किया ऐसा काम
खाली बर्तन लेकर नपा कार्यालय पहुंचे लोगों को नहीं मिले अफसर तो किया ऐसा काम

Rahul Saran | Updated: 22 Aug 2019, 01:37:50 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

21 दिनों से थे वार्डवासी परेशान

होशंगाबाद। बालागंज में 21 दिनों से पानी नहीं आने की समस्या से परेशान लोगों ने बुधवार दोपहर 12 बजे सड़क पर चक्काजाम किया। लोगों ने नपाध्यक्ष और सीएमओ के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। वार्डवासी नपा प्रशासन के अलावा सीएम हैल्पलाइन में भी तीन बार शिकायत कर चुके थे। निराकरण नहीं होने पर उनका गुस्सा फूटा और वे सड़क पर प्रदर्शन के लिए उतरे।
बालागंज क्षेत्र स्थित वार्ड 4 और वार्ड 28 के करीब २ हजार मकानों में फूटा कुआं स्थित बोरिंग मशीन से पानी सप्लाई किया जाता है। २१ दिन पहले कुएं की मशीन फंसने से व्यवस्था गड़बड़ा गई है। वार्डों में पार्क के पास की पानी की टंकी से सप्लाई दी जा रही थी उसमें भी कई दिनों से गंदा पानी आ रहा है। पानी के लिए लोग परेशान हो रहे थे।

पहले गए नपा, सुनवाई नहीं हुई तो भड़का गुस्सा
करीब दो दर्जन महिला-पुरुष बुधवार सुबह 11 बजे नपा कार्यालय पहुंचे। यहां जिम्मेदार अधिकारियों से मुलाकात नहीं होने पर वे बैरंग लौटे और इलाके में अन्य लोगों के साथ सड़क पर चक्काजाम कर दिया। लोगों की नारेबाजी की सूचना पर नपा के कुछ कर्मचारी दोपहर में 1 बजे मौके पर पहुंचे और उन्होंने लोगों को 1 घंटे में दूसरी बोरिंग मशीन इटारसी से आने की बात कहकर उनका प्रदर्शन खत्म कराया। हालांकि मशीन शाम 7 बजे पहुंची। इधर वार्डवासी बलवंत यादव ने बताया कि नपाध्यक्ष को कई बार लोगों की समस्या से अवगत कराया मगर उन्होंने सिर्फ आश्वासन दिए। परेशान लोगों को मजबूरन सड़क पर विरोध करने उतरना पड़ा।वहीं नरगिस खान का कहना है कि महिलाएं दूर-दूर से पानी लाने को मजबूर हैं और नपा हमारी समस्या की अनदेखी कर रही है। 21 दिन से लोग पानी के लिए परेशान हैं।


&लोगों के लिए नपा ने नियमित रूप से टैंकरों से सप्लाई दे रखी है। नर्मदा जल की पुरानी लाइन से भी पानी सप्लाई किया जा रहा है। वहां तिल का ताड़ बनाया जा रहा है। जल्द ही फूटे कुएं के पास नया बोर कराया जाएगा।
अखिलेश खंडेलवाल, नपाध्यक्ष

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned