पांच महीने से रेबीज वैक्सीन नहीं भेज रही हैदराबाद की कंपनी, भटक रहे मरीज

पांच महीने से रेबीज वैक्सीन नहीं भेज रही हैदराबाद की कंपनी, भटक रहे मरीज
पांच महीने से रेबीज वैक्सीन नहीं भेज रही हैदराबाद की कंपनी, भटक रहे मरीज

poonam soni | Updated: 11 Sep 2019, 02:04:32 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

जिले में रेबीज वैक्सीन का टोटा रोज पहुंच रहे 25 मरीज

होशंगाबाद/ जिले भर के सरकारी अस्पतालों में रोजाना औसतन २५ मरीज डॉग और मंकी बाइट से घायल होकर पहुंच रहे हैं। अस्पतालों में रेबीज वैक्सीन का टोटा हो गया। दरअसल सरकारी अस्पतालों में पांच महीने से हैदराबाद की दवा कंपनी रेबीज वैक्सीन नहीं भेज रही है। जिला अस्पताल के आंकड़े बताते हैं कि पिछले आठ महीने में जिले में डॉग और मंकी बाइट के 1 हजार 200 लोग शिकार हो चुके हैं। जिले में हैदराबाद की इंडियन इमूनोलॉजिकल्स लिमिटेड रेबीज वैक्सीन सप्लाई करती है। वैक्सीन भेजने में लापरवाही पर पिछले साल नवंबर में कंपनी पर 27 हजार जुर्माना किया था। अब लगभग 50 हजार पैनाल्टी होगी।

खंडवा से लेकर आए वैक्सीन

सरकारी अस्पताल इटारसी से फरवरी में 3 हजार वैक्सीन का आर्डर कंपनी को दिया था। दवा नहीं भेजने पर अधीक्षक डा. एके शिवानी ने कंपनी से बातचीत की तो पता चला खंडवा जिला अस्पताल में वैक्सीन भेजी है, जहां से वे अगस्त में 500 वैक्सीन लेकर आए हैं।

भंडार गृह में बचे 150 वैक्सीन

सीएमएचओ कार्यालय से मार्च में 2 अपै्रल में 3 हजार वैक्सीन की डिमांड भेजी थी। यहां से 15 प्राथमिक और 7 सामुदायिक केंद्रों में दवाइयां दी जाती है। भंडार गृह में मात्र 150 वैक्सीन बचे हैं।

जिले से दवा कंपनी को वैक्सीन की डिमांड भेजी गई थी, अब तक दवा नहीं आई। आर्डर के बाद 60 दिनों में दवा नहीं आने पर पैनाल्टी का नियम है।
डा. दिनेश कौशल, सीएमएचओ

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned