अच्छी बारिश हुई तो लौटेगी तालाब की रंगत

अच्छी बारिश हुई तो लौटेगी तालाब की रंगत
If the good rain is coming

yashwant janoriya | Publish: Jul, 26 2019 06:33:01 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

सौंदर्यीकरण के नाम पर नपा ने खर्च किए थे 65 लाख, दूर नहीं हुई अव्यवस्थाएं

इटारसी. शहर के एकमात्र तालाब के सौंदर्यीकरण में नगर पालिका ने ६५ लाख रूपए खर्च कर दिए थे। इतनी बड़ी राशि खर्च करने के बाद भी तालाब की सुंदरता वापस नहीं लौटी। नपा के पास पानी की कोई व्यवस्था नहीं है। यही कारण है कि तालाब में पानी बहुत ही कम हो गया है। कुछ महिनों पहले नपा ने ट्यूब बेल से पानी भरा था लेकिन अब बोर में भी पानी कम हो गया है। यही कारण है कि तालाब की सुंदरता अब अच्छी बारिश पर निर्भर हो गई है। यदि शहर में अच्छी बारिश होती है तो ही तालाब की रंगत वापस लौटेगी।
21 लाख में हुआ था गहरीकरण
तालाब को व्यवस्थित करने के लिए नपा ने इसका गहरीकरण भी कराया था। 6 हजार 811 क्यूबिक मीटर क्षेत्रफल से पानी खाली कराया गया था। वहीं गहरीकरण में 13 हजार 362 क्यूबिक मीटर मिट्टी निकाली गई थी। इस काम में 20 लाख 71 हजार रूपए खर्च हुए थे। 29 दिसंबर 2015 को 9 लाख रूपए का टैंडर निकाला जिसमें रिटेयरनिंग बॉल, घाट और व्यू डेक का निर्माण किया गया। ताबाल के गहरीकरण और सौंदर्यीकरण के नाम पर खर्च की गई राशि के संबंध में पहले भी शिकायत हो चुकी है। शिकायत के बाद जांच की गई लेकिन जांच में कुछ सामने नहीं आया।
370 मीटर का है पाथवे
तालाब के किनारे 370 मीटर का पाथवे बनाया गया है। नपा का दावा था कि यदि शहरवासी इस पाथवे के तीन चक्कर लगाएंगे तो उनकी एक किमी की सैर हो जाएगी। हालांकि तालाब का पानी गंदा और बदबूदार होने से शहरवासी सैर करने से बच रहे हैं। सालों बाद शहरवासियों को सुंदर तालाब की सौगात मिली थी लेकिन नगर पालिका के ध्यान नहीं देने से यह सुविधा भी खराब होती जा रही है।
पार्क में रखे पौधों को रोपण का इंतजार
कमला नेहरू पार्क के साथ ही अटल पार्क मेें भी अव्यवस्थाएं बढ़ रही है। यहां पौधरोपण के लिए लाए गए पौधों को अब तक नहीं लगाया गया है। कर्मचारी ने बताया कि बारिश नहीं होने की वजह से पौधों को नहीं लगाया गया था। गुरूवार को हुई बारिश के बाद कर्मचारी ने पौधों को रोपित करने की बात कही। इसके साथ ही पार्क में घास भी बड़ी हो गई है। बारिश के मौसम में इसमें जीव-जंतुओं का आने की आशंका है। कुछ ही दिन पहले पार्क से एक सांप भी पकड़ा गया था।
टूटे रहे झूले नहीं किसी का ध्यान
तार से बंधा है झूला
पार्क में लगे झूले का एक हुक टूट गया है। कर्मचारियों ने इसे तार से बांध दिया है। तार बांधने की वजह से बच्चों के लिए खतरा और बढ़ गया है।
सी-सॉ में बंधी है रस्सी
बच्चों के लिए लगा सी-सॉ झूला भी टूट गया है। इसकी एक प्लेट की टीन भी निकल गई है साथ ही हैंडल की जगह पर रस्सी बंधी हुई है।
फिसल पट्टी की निकल गया एंगल
फिसल पट्टी के एक ओर का एंगल निकल गया है। एंगल निकलने की वजह से इसके हुक बाहर निकल गए है जिससे हादसा होने की आशंका है।
इनका कहना है
तालाब में पानी कम हो गया है। बारिश से यदि पानी पर्याप्त एकत्रित नहीं होता है तो बोर से पानी की आपूर्ति की जाएगी। पार्क की अन्य अव्यवस्थाओं में भी सुधार किया जाएगा।
हरिओम वर्मा, सीएमओ

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned