scriptIG gave stage, police couples brainstormed on better relations | आईजी ने दिया मंच, पुलिस दंपतियों ने बेहतर संबंधों पर किया मंथन | Patrika News

आईजी ने दिया मंच, पुलिस दंपतियों ने बेहतर संबंधों पर किया मंथन

दंपत्तियों ने खुद ही अपनी समस्याओं, चुनौतियों के हल निकाले, दिए सुझाव, 52 महिला-पुरुष कर्मियों ने कार्यशाला में लिया भाग

होशंगाबाद

Published: May 01, 2022 11:54:43 am

नर्मदापुरम. जिला कलेक्टे्रट सभाकक्ष में शनिवार को भरी गमी के बीच पुलिस विभाग में कार्यरत पुलिस दंपती एक साथ बैठे और बेहतर ड्यूटी के साथ घर-परिवार के बीच आने वाली समस्याओं के हल एवं आपसी सामंजस्य बनाने के लिए विचार-विमर्श करते नजर आए। एक ही स्थान, जिले-संभाग सहित अलग-अलग पदस्थ महिला-पुरुष कर्मियों ने अपनी समस्याओं, चुनौतियों से निपटने के लिए विभाग के लिए सुझाव भी तैयार किए। यह दृश्य पुलिस दंपती व्यवहारिक एवं व्यवसायिक दक्षता विषय पर हुई कार्यशाला के थे। इसमें एक साथ काम करने वाले महिला-पुरुष यानी पति-पत्नी) के बीच बेहतर विभागीय कर्तव्य के साथ मधुर अंर्तसंबंध को मजबूत बनाए रखने पर जोर दिया गया। कार्यशाला में नर्मदापुरम रेंज के चारों जिले नर्मदापुरम, रायसेन, बैतूल, हरदा के कुल 52 पुलिस कर्मियों यानी 26 दंपतियों ने हिस्सा लिया। इनमें तीन से चार ऐसे दंपती रहे, जो अलग-अलग जिले में पदस्थ रहकर ड्यूटी के साथ परिवार की चुनौतियों, समस्या से जूझ रहे। कुछ दंपती अपने छोटे बच्चों के साथ भी आए हुए थे। समूह चर्चा में निकले सुझाव को आईजी स्तर से शासन, पुलिस मुख्यालय को भेजा जाएगा, ताकि ऐसे पुलिस कर्मियों के लिए भविष्य में राहत भरे कदम उठाए जा सकें। महिला-पुरुष कर्मियों को मास्टर टे्रनर विनीत कपूर ने भी टिप्स दिए। कार्यशाला आईजी दीपिका सूरी ने आयोजित कराई थी।

पुलिस दंपतियों ने खुद निकाले ये हल
कार्यशाला में शामिल पुलिस दंपत्तियों ने खुद ही अपनी समस्याओं, चुनौतियों के हल निकाले। इसमें एक जैसे जॉब ग्रुप व एक दूसरे की प्रोफाइल को समझना, विभागीय ड्यूटी के साथ घर-परिवार, बच्चों को संभालना, एक दूसरे को सपोर्ट करना, इमरजेंसी ड्यूटी, नाइट ड्यूटी के दौरान आपसी तालमेल रखना, लगातार ड्यूटी व परिवार की जिम्मेदारी के दौरान तनावग्रस्त होने पर शांत रहकर सामंजस्य बनाना, हम कैसे एक-दूसरे और परिवार-रिश्तेदार को समय दे सकते हैं। बच्चों का बेहतर पालन-पोषण किस तरह से कर सकते हैं। पर्वों की ड्यूटी करने के बाद खुद पर्वों को बाद में मनाना, आपसी सामंजस्य के खतरे से आसानी से निपटना, ड्यूटी के दौरान डाइट प्लान का पालन करना जैसे बिंदुओं पर अमल करने का सुझाव दिया। विभागीय तौर पर पुलिस दंपतियों ने एक ही जिले-जगहों पर पदस्थ करने की भी बात कही।

खुद को योग्य साबित करने के अवसर
महिला-पुरुष कर्मियों ने कार्यशाला में विभागीय कार्यो में खुद को योग्य व क्षमतावान साबित करने एवं बेहतर रिजल्ट देने के अवसर पर भी चर्चा की। रोजाना आने वाली नई-नई चुनौतियों का विभागीय मदद से आसानी से हल निकालने और अस्त-व्यस्त जीवन शैली में सुधार लाकर प्लानिंग से कार्य करने पर जोर दिया गया।
आईजी ने दिया मंच, पुलिस दंपतियों ने बेहतर संबंधों पर किया मंथन
आईजी ने दिया मंच, पुलिस दंपतियों ने बेहतर संबंधों पर किया मंथन
ये बोले- पुलिस विभाग के कर्मचारी दंपती
अच्छा कन्सेप्ट, राहत की उम्मीदें बढ़ी
फोटो-एचडी1502
कार्यशाला में अलग-अलग जिले में पदस्थ यानी डोलरिया में पदस्थ गोरेलाल वर्मा और हरदा के हंडिया में पदस्थ पत्नी ज्योत्सना वर्मा कहती हैं कि बच्चे छोटे-छोटे हैं इसलिए एक ही जगह पदस्थापना होनी चाहिए। क्योंकि इससे वर्किंग पर असर पड़ता है। एक दूसरे को समय नहीं दे पाते हैं। एक साथ छुट्टी भी नहीं मिल पाती है। बच्चों छोटे हैं इसलिए उनकी देखभाल में दिक्कतें आती है। बच्चों को अकेले बंद कमरे में छोड़कर जाना पड़ता है। थाने से बार-बार आकर देखना पड़ता है। जो कार्यशाला हुई है, वह अच्छा कन्सेप्ट है। विभागीय तौर पर समस्याएं जल्द होने की उम्मीदें है।

पति-पत्नी की पोस्टिंग साथ-साथ रहे
रायसेन जिले में पदस्थ हेमलता मिश्रा एवं नर्मदापुरम में कार्यरत पंकज मिश्रा बताते हैं कि आईजी मेडम ने जो कार्यशाला आयोजित की बहुत अच्छी सोच है। इससे हम सभी खुश हैं। यहां आकर तनाव कम हुआ है। खुलकर पति-पत्नी के जो लीगल समस्या, इश्यू हैं उस पर विचार हुआ। उम्मीद है आगे भी कार्यशाला होती रहे। अधिकारियों तक समस्या सीधे पहुंचे और उनका निराकरण हो सके। सुझावों पर अमल हो सके। हम दोनों दंपती समन्वय से कार्य क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करना चाहते हैं। पोस्टिंग साथ रहे।

इनका कहना है...
विभाग के महिला-पुरुष कर्मचारियों (दंपतियों) ने कई समस्याएं बताईं और सुझाव भी दिए हैं। प्रदेश में नर्मदापुरम में यह पहला प्रयोग आईजी के मार्गदर्शन में किया गया। महिला-पुरुष दंपती ने बेहतर रिलेशनशिप एवं जीवन कैसे बेहतर हो सकता है इस बारे में अच्छे सुझाव दिए हैं।
-विनीत कपूर, मास्टर टे्रनर

कार्यशाला का ये आइडिया पचमढ़ी की बीती कार्यशाला से निकला था। महिला-पुरुष कर्मियों खासकर दंपतियों की विभागीय ड्यूटी व परिवार की जिम्मेदारी में आने वाली चुनौतियों व समस्याओं को जाना-समझा गया। विभाग में महिलाओं के आने से कार्य स्थलीय बदलाव भी आया है। महिलाओं को घर-ड्यूटी दोनों के बीच संतुलन बनाने के टिप्स दिए गए हैं।
-दीपिका सूरी, आईजी नर्मदापुरम रेंज पुलिस विभाग।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

Delhi LG Resigned: दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने दिया इस्तीफा, निजी कारणों का दिया हवालाIndia-China Tension: पैंगोंग झील पर बॉर्डर के पास दूसरा पुल बना रहा चीन, सैटेलाइट इमेज से खुलासाHeavy rain in bangalore: तेज बारिश से दो मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की मुआवजे की घोषणाज्ञानवापी मस्जिद: नौ तालों में कैद वजूखाना, दो शिफ्टों में निगरानी कर रहे CRPF जवान, महंतो का नया दावापाकिस्तान व चीन बॉडर पर S-400 मिसाइल तैनात करेगा भारत, जानिए क्या है इसकी खासियतप्रयागराज में फिर से दिखा लाशों का अंबार, कोरोना काल से भयावह दृश्य, दूर-दूर तक दफ़नाए गए शवFarmers protest: विरोध कर रहे किसानों से मिलेंगे CM मान, आखिर क्यों धरने पर बैठे किसान?जब कांस के दौरान खो गई दीपिका पादुकोण की ड्रेस तो आखिरी समय में किया गया ये बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.