यहां कांग्रेस नेता के संरक्षण में चल रहा था ऐसा काम, पहुंच गई पुलिस

कांग्रेस नेता के संरक्षण में चल रही खदान से पकड़े 33 वाहन

By: sandeep nayak

Published: 29 Mar 2019, 02:24 PM IST

माखननगर। जिले में अवैध रेत खदान व परिवहन रोकने गुरुवार को प्रशासन ने गोपनीय ढंग से बाबई के रजौन में बड़ी छापामार कार्रवाई की। पंचायत की ये खदान कांग्रेस के एक युवा नेता के संरक्षण में चलाई जा रही थी। यहां मशीनों का उपयोग कर खनन व परिवहन जोरों पर चल रहा था। एसडीएम के नेतृत्व में हुई इस कार्रवाई में मौके से रेत से भरे-खाली &1 डंपर-ट्रक और दो टै्रक्टर-ट्रॉली जब्त की गई है। इन्हें पुलिस की अभिरक्षा में बाबई थाना परिसर में खड़े करवाया गया है। जब्त वाहनों में भरी रेत की रायल्टी व खदान के दस्तावेज चैक किए जा रहे हैं। एफआईआर भी दर्ज होगी।
इन वाहनों को किया है जब्त : प्र्रशासन की टीम ने जो वाहन जब्त किए हैं, उनमें एमपी 09 जीई 0115, एमपी 09 एचएच 2&90, एमपी 09 एचजी 8271, एमपी 09 एचजी 98&&, एमपी 09 एचएच 2290, एमपी 09 एचजी 5155, एमपी 09 एचजी 1875, एमपी 09 एचएच 9245, एमपी 09 एचजी 5&14, एमपी 07 एचबी 8265, एमपी 09 एचएच 4691, एमपी 09 जीएफ 9977, एमपी 16 जीए 0677, एमएन 0& डी 0068, एमपी 16 जीए 0682, एमपी 1& जीए &972, एमपी 16 जीए 0877, एमपी 09 एचएच 0181, एमपी 09 जीएफ &6&&, एमपी 09 जीएफ 0872, आरजे 20 जीबी 0205, यूपी 8& एटी 7446, आरजे 11 जीए 88&7, एमपी 09 जीएफ 1975, एमपी 09 एचएच 0102, एमपी 09 एचएच 6217, जीजे 04 एक्स 7427, एमपी 09 एचएफ 0&&7, एमपी 04 एचई &4&2, एमपी 09 एचएच 8864 व एमपी 09 एचएच &981 आदि &1 डंपर व ट्रक खाली एवं भरे जप्त किये। इनमें रेत से भरी 2 टै्रक्टर-ट्राली शामिल है।
अधिकारियों को देख भागे चालक
एसडीएम आरएस बघेल, तहसीलदार आलोक पारे, नायब एमएल पवार, थाना प्रभारी अनूप सिंह नैन, खनिज निरिक्षक सन्तोश सूर्यवंशी सहित राजस्व व पुलिस की संयुक्त टीम को देखते खदान के अन्दर व बाहर से ट्रक व डंपर छोड़कर चालक भाग गए। कांग्रेस नेता के गुर्गे अपने आकाओं को फोन लगाते रहे, लेकिन एसडीएम ने इन्हें नजरअंदाज करते हुए जब्ती की कार्रवाई की। दूसरे ड्राइवरों की मदद से जब्त वाहनों को थाना परिसर लाकर रात तक खड़े कराया गया।
एक हफ्ते तक सभी खदानों पर होगी छापेमारी
एसडीएम आरएस बघेल ने बताया कि कलेक्टर के निर्देश पर टीम गठित की गई है। अगले एक हफ्ते तक जिले की सभी रेत खदानों में छापेमारी की जाएगी। इस दौरान खदानों का सीमांकन होगा। वैध-अवैध स्टाक की नपती व जांच की जायेगी। सभी खदानों के दस्तावेजों की जांच कर वैधानिक कार्रवाई होगी।

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned