scriptincrease in petrol diesel prices has increased inflation | increase in petrol diesel prices किराना, सब्जी सहित और सामान के बढऩे वाले हैं दाम, यह है कारण | Patrika News

increase in petrol diesel prices किराना, सब्जी सहित और सामान के बढऩे वाले हैं दाम, यह है कारण

डीजल 100 के पार, अब ट्रक भाड़ा भी बढ़ाने की तैयारी

 

increase in petrol diesel prices has increased inflation

होशंगाबाद

Updated: April 06, 2022 12:37:33 am

इटारसी/आने वाले समय में दिनचर्या के सामान के दाम बढ़ सकते हैं। जी हां, दरअसल, उप्र चुनाव के बाद लगातर डीजल (increase in petrol diesel prices) के दाम बढ़ रहे हैं। इसके बाद ट्रक- मेटाडोर का किराया बढ़ाने की भी तैयारी की जा रही है। 15 दिन में अभी अघोषित रूप से लगभग 5 से 8 प्रतिशत की तेजी आ गई है। इसका असर बाजार में भी ङ्क्षजसों पर दिखने लगा है। सबसे ज्यादा प्रभावित किराना, सब्जी की बढ़ती कीमतों से है, जिसे लेकर आमजन परेशान हो रहे हैं। पिछले 15 दिन में डीजल के दाम 8 से 10 रुपए प्रति लीटर तक बढ़े हैं। मंगलवार को डीजल 100.10 रुपए प्रति लीटर हो गया है। डीजल के शतक होते ही ट्रांसपोर्टरों ने भी भाड़े की कीमतें बढ़ा दी हैं। इसका असर बाजार पर दिखने लगा है। शहर के व्यापारी अंकुर जैन के अनुसार दालें 90 से 120 रुपए, खाद्य तेल 150 से 220 रुपए प्रति लीटर, चावल 28 से 100 रुपए किलो तक हो गया है, वहीं हल्दी- मिर्ची, मसालों की कीमतें भी 10 फीसदी बढ़ी हैं। इसी तरह बिस्कुट, मैगी सहित अन्य फास्टफूड सामग्री में भी 5 से 10 रुपये प्रति सामग्री बढ़ी है। जिससे परेशानी हो रही है। सब्जियों पर आगे पड़ सकता असर: डीजल के साथ ट्रक किराए के दम बढऩे का असर फिलहाल सब्जियों पर नहीं पड़ा, लेकिन अगले सप्ताह में इसका असर दिखने लगेगा। सब्जी विक्रेता अरङ्क्षवद महतो ने बताया कि गर्मी से सब्जियों की आवक कम होने लगी है। फिलहाल कीमतें 40 से 60 रुपए सीजनल बिक रही हैं, वहीं आलू- प्याज पर ट्रक भाड़े का असर पड़ सकता है।

Petrol diesel prices will increase in a few days Today Petrol Price
Petrol diesel prices will increase in a few days Today Petrol Price
डीजल मूल्य वृद्धि पर रोक लगाने की मांग
नर्मदापुरम ट्रक ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने प्रदेश सरकार से डीजल मूल्य वृद्धि पर रोक लगाने की मांग की है। एसो. के अध्यक्ष अजय मिश्रा ने बताया कि 15 दिनों में डीजल में औसतन 10 से 12 प्रतिशत की वृद्धि होने से अब मजबूरी में ट्रक भाड़ा बढ़ाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि ट्रांसपोर्ट व्यापारियों को सरकार ने करों का दोहरा बोझ लाद दिया है। ट्रांसपोर्ट व्यापारी को ट्रक फिटनेस का 8 हजार, 50 रुपए प्रतिदिन की पेनाल्टी, टायर 40 हजार रुपए प्रति, तो बीमा के 62 हजार रुपए सालाना देना पड़ रहा है। ऐसे में ट्रक भाड़ा बढ़ाने से बाजार में ङ्क्षजसों के रेट भी प्रभावित होगी। इससे महंगाई और बढ़ जाएगी। इसे रोकने के लिए सरकार डीजल की बढ़ती कीमतों पर लगाम लगाएं। ताकि सभी को राहत मिल सके।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Presidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस के निवास पहुंचे एकनाथ शिंदेMaharashtra Political Crisis: उद्धव के इस्तीफे पर नरोत्तम मिश्रा ने दिया बड़ा बयान, कहा- महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा का दिखा प्रभावप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने MSME के लिए लांच की नई स्कीम, कहा- 18 हजार छोटे करोबारियों को ट्रांसफर किए 500 करोड़ रुपएDelhi MLA Salary Hike: दिल्ली के 70 विधायकों को जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी, जानिए अभी कितना और कैसे मिलता है वेतनMaharashtra Politics: बीजेपी और शिंदे गुट के बीच नहीं आएगी शिवसेना, लेकिन निभाएगी विरोधी की भूमिका, जानें संजय राउत ने क्या कहा?Kangana Ranaut ने Uddhav Thackeray पर कसा तंज, कहा- 'हनुमान चालीसा बैन किया था, इन्हें तो शिव भी नहीं बचा पाएंगे'उदयपुर हत्याकांड: आरोपियों के कराची कनेक्शन पर पाकिस्तान की बेशर्मी, जानिए क्या बोला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.