चोर करता था महिलाओं को टारगेट, कबूल की 7 चोरियां

चोर करता था महिलाओं को टारगेट, कबूल की 7 चोरियां

pradeep sahu | Publish: Oct, 13 2018 04:02:24 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 04:02:25 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

ट्रेन में महिलाओं के पर्स उड़ाने वाला शातिर चोर गिरफ्तार, होशंगाबाद का निवासी है आरोपी

  1. इटारसी. ट्रेनों में चोरी करने वाले एक शातिर चोर को जीआरपी ने गिरफ्तार किया है। आरोपी खासकर महिलाओं को टारगेट करता था। आरोपी युवक ने ७ चोरियां करना कबूल की है। जीआरपी ने आरोपी से १ लाख ५७ हजार ३०० रुपए का माल बरामद किया है। होशंगाबाद निवासी शंकर जैसवाल उम्र २२ ट्रेनों में चोरियां करता है। जीआरपी ने इस बदमाश को रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर दो से धारदार हथियार के साथ दो दिन पहले गिरफ्तार किया था। बदमाश को पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ की गई तो उसने सात चोरियों करना कबूल किया। आरोपी ने सभी चोरियों की वारदात को चलती ट्रेन में अंजाम दिया है।
  2. कब-कब की चोरियां
  3. २६ जुलाई २०१७ को इंदौर जबलपुर ओवरनाइट एक्सप्रेस के एस-4 से वर्षा जायसवाल भोपाल का पर्स चुराया था। इसमें ३४ हजार, मोबाइल और नगद व जेवर रखे थे।
  4. ३ अगस्त २०१८ को सिकंदराबाद पटना एक्सप्रेस के एस-1 की बर्थ नंबर ४१ से बहादुरपुर बलिया निवासी प्रीति सिंह के गले से लॉकेट खींचा था। इसकी कीमत ८ हजार रुपए थी।
  5. ८ सितंबर २०१८ को नर्मदा एक्सप्रेस के एस-8 के ५५-५६ नंबर बर्थ से पूजा पति मुकेश सूर्यवंशी का पर्स चोरी किया था नगद और जेवर सहित १७ हजार रुपए की चोरी की थी।
  6. २३ जुलाई २०१८ को गोंडवाना एक्सप्रेस से एस-9 के २१ नंबर बर्थ से नागपुर निवासी पुष्पा लल्लू कुमार का ट्रॉली बैग चोरी किया था नगदी जेवर सहित १३५०० रुपए की चोरी थी।
  7. ९ अगस्त २०१८ को कामायनी एक्सप्रेस के एस-6 के बर्थ 6 से सागर निवासी अरविंद सिंह का पर्स चोरी किया था इसमें ५ हजार रुपए और एटीएम रखा हुआ था।
  8. २८ अगस्त २०१८ को दक्षिण एक्सप्रेस के एस-8 के बर्थ ७ और ८ पर भोपाल निवासी राजू रघुवंशी की पत्नी का पर्स चोरी हुआ था यह नगद और जेवर सहित ९५ हजार रुपए चोरी थी।
  9. २९ अगस्त २०१८ को हिमसागर एक्सप्रेस में एस-10 में बर्थ ४८ से मुंबई के राहुल निकम का सूटकेस की चैन खोलकर नगद ५ हजार रुपए चोरी किए थे।

 

प्रताडि़त छात्र भागकर आए इटारसी, पिता को सौंपा
इटारसी. महाराष्ट्र के मदरसे में मारपीट से प्रताडि़ता होकर दो छात्र भागकर इटारसी आ गए थे। इन छात्रों को चाइल्ड लाइन की मदद से परिजनों को सौंप दिया है। दोनों छात्र से भाई हैं। बिहार प्रांत निवासी अब्दुल कदीर ने अपने दो पुत्र मोहम्मद नादिर 12 वर्ष और मोहम्मद नासिर 9 वर्ष महाराष्ट्र के अक्कल कुआं नामक मदरसे में ह्यकुराने की तालीम हासिल करने के लिए भेजा था। यह दोनों बालकों को कुछ लोगों ने प्लेटफॉर्म नंबर 1 स्थित चाइल्ड लाइन बूथ पर जीवोदय संस्था के कार्यकर्ताओं के पास छोड़ दिया था। शुक्रवार को उनके पिता अब्दुल कदीर इटारसी जीआरपी थाना पहुंचे। यहां दोनों भाईयों को उनके पिता के हवाले किया गया।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned