नर्मदा में मिल रहे नालों को रोकने नगरपालिका शुरू कर रही है अनूठा काम

नर्मदा में मिल रहे नालों को रोकने नगरपालिका शुरू कर रही है अनूठा काम
नर्मदा में मिल रहे नालों को रोकने नगरपालिका शुरू कर रही है अनूठा काम

नालों के मुंह पर लगेगी लोहे की जाली, 33 लाख रुपए की कार्ययोजना की तैयार

होशंगाबाद/बारिश के गंदे पानी के साथ कचरा-प्लास्टिक अन्य स्ट्रांग वाटर डे्रन को रोकने नगरपालिका शहर के एक दर्जन नालों के मुंह पर जाली लगाएगी। इसके लिए 33 लाख रुपए की कार्ययोजना तैयार की गई है। सोमवार को होने वाले विशेष सम्मेलन के एजेंडे में इसे प्रमुखता से रखा गया। परिषद से इसकी मंजूरी मिलने के बाद टेंडर निकाले जाएंगे। साथ ही शहर को प्लास्टिक-पॉलिथिन मुक्त करने सख्त कदम उठाए जा रहे हैं।
शहर के इन नालों का कचरा रोकेंगे
नपाध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल ने बताया कि इसके लिए करीब 33 लाख की योजना तैयार की गई है। जिसे परिषद के विशेष सम्मेलन के एजेंडे क्रमांक 243 में रखा है। पार्षदों व सभापतियों की सर्वसम्मति से 9 किलोमीटर लंबाई के नालों के लिए वित्तीय एवं प्रशासकीय स्वीकृति का निर्णय लेकर क्रियान्वयन होगा। जाली लगाने की शुरूआत बैंक कॉलोनी नाले से करेंगे। इसके अलावा कमिश्नर कॉलोनी, पीलीखंती, आदमगढ़-संजय नगर, भोपाल तिराहा सहित अन्य छोटे-बड़े नालों में भी लोहे की जालियां लगाएगी जाएंगी।

सवा करोड़ से पक्के होंगे मुख्य नाले
नगरपालिका परिषद ने शहर के तीन मुख्य पुराने कच्चे नालों को भी पक्का करने सवा करोड़ रुपए की सीमेंटीकरण योजना पर काम शुरू कर दिया है। यह कार्य अमृत योजना के तहत किया जा रहा है। नालों को चौड़ा करने, इनके अवैध कब्जे-अतिक्रमण को हटाने के साथ पक्का किया जाएगा।
इनका कहना है..
बारिश व निस्तार के पानी के साथ नर्मदा में मिलने वाले नालों से कचरे-प्लास्टिक व पालीथिन को रोकने डीपीआर तैयार की गई है। इसमें 33 लाख रुपए खर्च होंगे। परिषद की मंजूरी के बाद कार्य शुरू किया जाएगा।
-अखिलेश खंडेलवाल, नपाध्यक्ष होशंगाबाद

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned