दोस्त की नियत हुई खराब तो बना काल, पुल से दिया धक्का, मौत,

दोस्त की नियत हुई खराब तो बना काल, पुल से दिया धक्का, मौत,

Brijesh Chouksey | Publish: Sep, 08 2018 02:31:04 PM (IST) | Updated: Sep, 08 2018 04:10:37 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

मेले से कमाई कर लौट रहे थे घर, 20 हजार लूटने कर दी हत्या

पिपरिया। एक दोस्त लालच में आकर अपने साथी की पुल से धक्का देकर सूख चुकी नदी में गिराया, फिर लाठियों से पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद एक अन्य साथी की मदद से उसकी लाश छिपा दी। इसके बाद आरोपियों ने लूटे गए बीस हजार रुपए आपस में बांट लिए। लाश की पहचान होने के बाद पुलिस ने हत्या का खुलासा कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपियों के नाम रामभरोस कीर और सत्यनारायण बाबा हैं।
घटना 19 अगस्त की रात की है। पिपरिया पुलिस को माता मोहल्ला नहर ग्राम सिलारी के पास सूखी नदी के पुल के नीचे एक अज्ञात व्यक्ति का नग्न हालत में शव मिला था। उसके शरीर पर चोट के निशान थे। हाथ में लाल रंग का धागा बंधा था। लाश चार पांच दिन पुरानी थी और कचरे के ढेर से ढकी गई थी। इससे प्रतीत हो रहा था कि हत्या के बाद लाश छिपाई गई है। हत्यारे पहचान छिपाने के लिए उसके कपड़े भी उतारकर ले गए। पीएम रिपोर्ट में पसलियां टूटी हुई आई और भारी चीज लाठी से चोट आना प्रतीत हुआ। इस पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया।

  <a href=Friend murder " src="https://new-img.patrika.com/upload/2018/09/08/piprya_photo_02_3379893-m.jpg">

जूते और धागे से हुई पहचान
बाद में मृतक की पहचान चालीस वर्षीय चरणदास पुत्र श्यामलाल लोधी निवासी ग्राम माछा, सोहागपुर के रूप में हुई। परिजनों ने लाश का फोटो और जूते एवं हाथ में बंधे धागे से उसे पहचान लिया। वह पचमढ़ी में नागद्वारी मेले में टपरिया बोरी फट्टी बनाने का काम करने गया था। इससे उसे 20 हजार रुपए की आमदानी हुई थी। उसके साथ उसका दोस्त रामभरोसे भी गया था।
ऐसे आया लालच
मेले से लौटते समय दोनों दोस्त रास्ते में सत्यनारायण बाबा की कुटिया पर रूके। यहां बैठकर शराब पी। इसी दौरान रामभरोसे को उसके बीस हजार रुपए पर लालच आ गया। वह उसे बहाने से बुलाकर पुलिया पर ले गया और नीचे धक्का दे दिया। गिरने के बाद भी नहीं मरा तो लाठियों से सीने पर बार कर पीट-पीटकर मार डाला। इसके बाद भागकर वापस कुटिया में आया। सत्यनारायण दीक्षित को साथ ले जाकर दोनों ने उसके कपड़े उतारे और फिर झाडिय़ों में छिपा दिया।

Ad Block is Banned